breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशबॉलिवुड-हॉलिवुडमनोरंजनराजनीति
Trending

चीन मुद्दे पर कमल हासन का पीएम मोदी पर तंज-'भावनात्मक रूप से खिलवाड़' बंद करें

कमल हासन ने यह भी सवाल किया कि बीते सप्ताह की हिंसा का मतलब यह था कि प्रधानमंत्री मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की पिछले साल अक्टूबर में हुई मीटिंग के बाद सरकार द्वारा दावा की गई राजनयिक सफलता खोखली थी...

Kamal Hassan attack PM Modi over China Galwan valley

नई दिल्ली: अभिनेता से नेता बने कमल हासन (Kamal Haasan) ने केंद्र पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी से कहा है कि वह लोगों के साथ ‘भावनात्मक रूप से खिलवाड़’ करना बंद (stop emotionally manipulate people) करें।

कमल हासन (Kamal Haasan) ने यह बयान लद्दाख की गलवान घाटी में हुई हिंसक घटना में 20 भारतीय जवानों की शहादत पर पीएम मोदी (PM Modi) के बयान को देखते हुए दिया है।

गौरतलब है कि 15 जून की शाम गलवान घाटी (Galwan valley) में भारतीय सेना और चीनी सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई जिसमें 20 भारतीय जवान शहीद हो गए और दर्जनों घायल भी हो गए।

इतना ही नहीं, हमारे 10 जवानों को चीन (China) ने बंदी भी बना लिया,जिन्हें बाद में उच्चस्तर की बातचीत के बाद रिहा किया गया।

दरअसल, भारत-चीन सीमा विवाद (India-China border tension) के ताजे हालातों पर चर्चा के लिए पीएम मोदी ने सर्वदलीय बैठक बुलाई थी।

इस बैठक में विपक्ष ने गलवान घाटी में सैनिकों की शहादत और भारतीय क्षेत्र में चीन ने कितना कब्जा किया है…सरीखे सवाल पीएम मोदी से पूछे थे,लेकिन सवाल पूछने पर हमेशा की तरह विपक्ष की आलोचना हो रही थी।

कमल हासन ने राष्ट्रीय मुद्दे पर सवाल पूछने को जायज़ ठहराते हुए केंद्र पर हमला बोला।

Kamal Hassan attack PM Modi over China Galwan valley


चीन के मुद्दे पर क्या बोले पीएम मोदी

सर्वदलीय बैठक में पीएम मोदी (PM Modi calls all party meeting) ने कहा था कि ‘लद्दाख में भारत की सीमा में न तो कोई घुसा हुआ है और न ही हमारी कोई चौकी किसी दूसरे के कब्जे में है।

कमल हासन जिन्होंने कुछ समय पहले ही मक्कल निधि मैयम प्रमुख पार्टी भी बनाई है, ने कहा कि ‘इस प्रकार के बयान देकर जनता की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया जा रहा (stop emotionally manipulate people)है।

मैं प्रधानमंत्री मोदी और उनके सपोर्टर्स से अनुरोध करता हूं कि वह ऐसा करना बंद करें।’

Kamal Hassan attack PM Modi over China Galwan valley

अभिनेता और राजनेता कमल हासन ने आगे कहा कि ‘सवाल पूछना राष्ट्र-विरोधी नहीं है।हम तब तक सवाल पूछना जारी रखेंगे, जब तक कि सच्चाई नहीं बताई जाती है।’

चूंकि पीएम मोदी का बयान भारतीय सेना (Indian army) और विदेश मंत्रालय के बयान से विरोधाभासी है।

गौरतलब है कि शुक्रवार को हुई सर्वदलीय बैठक के बाद विपक्ष ने केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा था कि उन्होंने वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर स्थिति पूरी तरह से स्पष्ट नहीं की है, नतीजतन हमारे सैनिकों पर बर्बतापूर्ण हमला हुआ।

विपक्ष में कांग्रेस के नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भी लगातार भारत-चीन मुद्दे (India-china face off) पर प्रधानमंत्री मोदी से सवाल पूछते रहे है।

उन्होंने पीएम के बयान के बाद कहा कि ‘प्रधानमंत्री ने चीनी को भारतीय जमीन सौंप दी है।’

राहुल गांधी ने सवाल किया था कि अगर यह भूमि चीन की थी तो हमारे सैनिकों की जान कैसे गई? उनकी जान कहां ली गई?

चीन के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी के बयान की सफाई खुद PMO को भी देनी पड़ी थी।

कमल हासन ने कहा कि कुछ जानकारियों को बेशक गोपनीय रखा जा सकता है लेकिन सरकार का कर्तव्य था कि इस संवेदनशील समय में सरकार देश को बेहतर तरीके से सूचना दे सकती थी।

Kamal Hassan attack PM Modi over China Galwan valley

कमल हासन ने यह भी सवाल किया कि बीते सप्ताह की हिंसा का मतलब यह था कि प्रधानमंत्री मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की पिछले साल अक्टूबर में हुई मीटिंग के बाद सरकार द्वारा दावा की गई राजनयिक सफलता खोखली थी।

 ‘उन्होंने कहा कि 8 महीने बाद चीन ने हमारे निहत्थे सैनिकों को मारकर हमारे पीठ में छुरा घोंपा।

अगर यह सरकार की कूटनीति का नतीजा है, तो या तो उनकी रणनीति बुरी तरह विफल रही या वह चीन के इरादों को सही ढंग से भांपने में विफल रहे।‘ 

 
(इनपुट एजेंसी से भी)

Kamal Hassan attack PM Modi over China Galwan valley

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × three =

Back to top button