breaking_newsHome sliderक्रिकेटखेल

IPL-11, KKRvsSRH : मैन ऑफ द मैच ‘क्रिस लिन’ ने कोलकाता को जीत के साथ प्लेऑफ में पहुचाया

हैदराबाद, 20 मई IPL-11, KKRvsSRH : मैन ऑफ द मैच ‘क्रिस लिन’ ने कोलकाता को जीत के साथ प्लेऑफ में पहुचाया l  

कोलाकाता नाइट राइडर्स ने शनिवार को राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को पांच विकेट से मात देते हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के प्लेऑफ में जाने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखते हुए इस रेस को रोमांचक भी बना दिया।

हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शिखर धवन (50) के अर्धशतक के दम पर कोलकाता के सामने 173 रनों की चुनौती रखी जिसे मेहमान टीम ने दो गेंद शेष रहते हुए पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया। 

कोलकाता के लिए क्रिस लिन ने 43 गेंदों में 55 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में चार चौके और तीन छक्के लगाए। रोबिन उथप्पा ने 34 गेंदों में 45 रनों का योगदान दिया।

सुनील नरेन ने 10 गेंदों में चार चौके और तीन छक्कों की मदद से 29 रनों की पारी खेली।

कार्तिक 22 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 26 रन बनाकर नाबाद रहे।

इस जीत के साथ कोलकाता प्लेऑफ की रेस में बनी हुई है, लेकिन अब उसे मुंबई इंडियंस, किंग्स इलेवन पंजाब के मैचों के परिणाम का भी इंतजार है।

साथ ही अगर यह दोनों टीमें जीत जाती हैं तो फैसला नेट रन रेट के आधार पर लिया जाएगा।

चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता को नरेन और लिन ने उम्मीद के मुताबिक तेज शुरुआत दी और 3.4 ओवरंों मे ही 52 का स्कोर कर दिया। शाकिब ने हालांकि यहां इस साझेदारी पर ब्रेक लगाए और नरेन को मनीष पांडे के हाथों कैच कराया। 

लिन दूसरे छोर से रन बटोर रहे थे और उथप्पा उनका बराबर साथ दे रहे थे। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 69 रनों की साझेदारी। लिन ने 14वां ओवर लेकर आए सिद्धार्थ कौल की पहली गेंद पर छक्का मार ही दिया था, लेकिन मनीष ने एक बार फिर अपनी चपलता से शानदार कैच पकड़ते हुए उनकी पारी का अंत किया। 

उथप्पा के कंधों पर अब टीम को जीत दिलाने की जिम्मेदारी थी। उन्होंने कप्तान कार्तिक के साथ तीसरे विकेट के लिए कोलकाता के खाते में 28 डाले जो काफी अहम साबित हुए। कार्लोस ब्राथवेट ने उथप्पा को हालांकि अर्धशतक पूरा नहीं किया और 149 के कुल स्कोर पर पवेलियन भेज दिया। आंद्रे रसेल चार रन ही बना सके। 

नीतीश राणा (7) आखिरी ओवर में आउट हुए। कार्तिक ने आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर एक रन लेकर कोलकाता को जीत दिलाई।

इससे पहले, हैदराबाद 172 के स्कोर से आगे जाकर विशाल स्कोर खड़ा कर सकती थी लेकिन आखिरी पांच ओवरों में उसने सिर्फ 31 रन बनाए और सात विकेट खो दिए जिससे वो विशाल स्कोर तक जाने से चूक गई। 

सात में से चार विकेट तो आखिरी ओवर में गिरे जिसमें सिर्फ चार रन आए। कोलकाता के लिए युवा गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा ने चार विकेट लिए जिसमें से तीन विकेट आखिरी ओवर में आए।

धवन और श्रीवत्स गोस्वामी (36) ने टीम को अच्छी शुरुआत दी। दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 79 रनों की साझेदारी की। इस साझेदारी को कुलदीप यादव ने नौवें ओवर में तोड़ा। उन्होंने गोस्वामी को रसेल के हाथों कैच कराया। 

गोस्वामी के जाने के बाद कप्तान केन विलियमसन ने धवन के साथ मिलकर टीम के स्कोरबोर्ड को चालू रखा। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 46 रनों की साझेदारी की। विलियमसन की 17 गेंदों में तीन छक्के और एक चौके की मदद से खेली गई 36 रनों की पारी का अंत जेवन सीयरलेस ने किया। उन्होंने विलियमसन को रसेल के हाथों सीमा रेखा के पास कैच कराया। 

कप्तान के जाने के बाद धवन भी पवेलियन लौट लिए। वह 141 के कुल स्कोर पर कृष्णा की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए। चार रन बाद सुनील नरेन ने युसूफ पठान (2) को पवेलियन भेज दिया। ब्राथवेट तीन रन ही बना सके। 

मनीष पांडे की 25 रनों की पारी का अंत आखिरी ओवर की पहली गेंद पर हुआ। इसी ओवर में शकिब अल हसन (10), राशिद खान (0), भवुनेश्वर कुमार (0) के विकेट गिरे। 

–आईएएनएस

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × one =

Back to top button