breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति

"दो गज दूरी-बहुत जरुरी" जानियें मोदी जी के मन की बात की सभी महत्वपूर्ण बातें

मन की बात : लॉकडाउन के बीच मोदी जी की रेडियो प्रोग्राम मन की बात की सभी बातें

Mann-Ki-Baat PM-Narendra-Modi-ne-Kaha Do-Gaj-Duri-Bahut-Jaruri
नई दिल्ली, (समयधारा) : देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज लॉक डाउन के बीच एक बार फिर मोदी जी ने अपने रेडियो प्रोग्राम मन की बात से देशवासियों को संबोधित किया l
गौरतलब है कि  पीएम मोदी हर महीने क आखिरी रविवार को रेडियो कार्यक्रम मन की बात किया करते हैं।
आज पीएम मोदी सुबह 11 बजे मन की बात  कार्यक्रम में देश को संबोधित किया।
पीएम मोदी के मन की बात कार्यक्रम के लिए सभी देशवासियों में उत्सुकता बनी रहती है।
पीएम ने खुद ट्वीट कर बताया है कि इस बार होने वाले मन की बात कार्यक्रम के लिए लोगों से कई तरह के व्यावहारिक सुझाव मिले हैं।

केंद्र सरकार और राज्य सरकारें मिलकर एक साथ कोरोना के खिलाफ काम कर रही हैं।
केंद्र सरकार और राज्य सरकारें मिलकर एक साथ कोरोना के खिलाफ काम कर रही हैं।
आज के उनके संबोधन की महत्वपूर्ण बातें इस प्रकार है l 
Mann-Ki-Baat PM-Narendra-Modi-ne-Kaha Do-Gaj-Duri-Bahut-Jaruri

  • कोरोना को हराने के लिए दो गज की दूरी बेहद जरूरी है।
  • मास्क लगाइए और सार्वजनिक स्थलों पर थूकना बंद कर देना चाहिए। 
  • कोरोना के खिलाफ जंग में पूरा देश एक टीम की तरह काम कर रहा है।
  • संयम और सद्भाव के साथ रमजान मनाएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
  • डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए सरकार अध्यादेश लेकर आई है।
  • पीएम कल्याण योजना के तहत गरीबों को सीधे पैसे भेजे जा रहे हैं।
  • केंद्र सरकार और राज्य सरकारें मिलकर एक साथ कोरोना के खिलाफ काम कर रही हैं।
  • रेलवे, एविएशन, डाक विभाग बेहतर तरीके से काम कर रहे हैं।
  • भारत में कोरोना के खिलाफ जनता लड़ाई लड़ रही है।
कोरोना को हराने के लिए दो गज की दूरी बेहद जरूरी है।
कोरोना को हराने के लिए दो गज की दूरी बेहद जरूरी है।
कोरोना वायरस से आज हर नागरिक लड़ रहा है। हम भाग्यशाली हैं कि देश का हर नागरिक इस लड़ाई का सिपाही है। आप कहीं भी नजर डालिए, अहसास हो जायेगा कि यह जनता की लड़ाई है। जब पूरा विश्व इस महामारी से जूझ रहा है। भविष्य में जब इसकी जनता होगी तो भारत की पीपल ड्रिवन लड़ाई की चर्चा जरूर होगी।
देशभर में चिकित्सा से जुड़े लोगों ने अध्यादेश पर संतोष व्यक्त किया है।इस अध्यादेश में चिकित्सा कर्मचारियों के खिलाफ हिंसा पर कड़ी सजा के प्रावधान किए गए हैं।
Mann-Ki-Baat PM-Narendra-Modi-ne-Kaha Do-Gaj-Duri-Bahut-Jaruri
रेलवे, एविएशन, डाक विभाग बेहतर तरीके से काम कर रहे हैं।
रेलवे, एविएशन, डाक विभाग बेहतर तरीके से काम कर रहे हैं।
cavidworriors.gov.in सरकार ने इस प्लैटफॉर्म के माध्यम से सिविल सोसाइटी के प्रतिनिधी और स्थानीय प्रशासन को जोड़ दिया है। इसमें अब तक सवा करोड़ लोग जुड़ चुके हैं।
Mann-Ki-Baat PM-Narendra-Modi-ne-Kaha Do-Gaj-Duri-Bahut-Jaruri
हमारे डॉक्टर और पुलिस व्यवस्था को लेकर आम लोगों की सोच में काफी बदलाव हुआ है। पहले पुलिस के बारे में सोचते ही नकारात्मकता के खिलाफ कुछ नजर नहीं आता था। आज हमारे पुलिस कर्मचारी लोगों तक खाना पहुंचा रहे हैं। सफाई कर्मचारियों का सम्मान हो रहा है। पुलिस वालों के प्रति लोगों का नजरिया बदला है। पुलि,स का मानवीय पक्ष सामने आया है। हमारी प्राथमिकता लोगों की जान बचाना है।
मास्क लगाइए और सार्वजनिक स्थलों पर थूकना बंद कर देना चाहिए। 
मास्क लगाइए और सार्वजनिक स्थलों पर थूकना बंद कर देना चाहिए।
हम आमतौर पर प्रकृति, विकृति और संस्कृति के बारे में सुनते हैं। अगर मानव प्रकृति की पात करें तो यह मेरा है, मैं इसका उपयोग करता हूं। यह बहुत स्वाभाविक है। लेकिन जो मेरा नहीं है उसे मैं दूसरे से छीन लेता हूं, हम इसे विकृति कह सकते हैं। इससे ऊपर जब कोई अपने हक की चीज दूसरों की मदद करते हैं और खुद की चिंता छोड़कर अपने हिस्से को बांटकर दूसरों की जरूरत पूरी करता है वही तो संस्कृति है।
Mann-Ki-Baat PM-Narendra-Modi-ne-Kaha Do-Gaj-Duri-Bahut-Jaruri
हमें अपने देश की चीजों को तव्ज्जो देना चाहिए। आयुष मंत्रालय की सलाह लेनी चाहिए। कोरोना की दृष्टि से इम्युनिटी बढ़ाने के लिए जो प्रोटोकॉल दिया है मुझे विश्वास है कि आप इसका उपयोग कर रहे होंगे।हमें मास्क पहनना चाहिए, कहीं भी थूंकना नहीं चाहिए। लोगों की सोच बदल रही है। लोगों ने सार्वजनिक जगहों पर थूंकने के नुकसान को समझ लिया है। लोगों में जागरूकता बढ़ी है।
संयम और सद्भाव के साथ रमजान मनाएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
संयम और सद्भाव के साथ रमजान मनाएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
आज अक्षय तृतीया पर्व है। हम अगर अक्षय रहना चाहते हैं तो धरती को नुकसान नहीं होना चाहिए। यह याद दिलाता है कि हमारी भावना अक्षय है, चाहे कितनी भी आपदा आए इससे जूझने की मानवीय भावनाएं अक्षय हैं। माना जाता है कि यही वह दिन है जब पांडवों को अक्षय पात्र मिला था। हमारा अन्नदाता किसान इसी भावना से परिश्रम करते हैं। इन्हीं की वजह से हमारे पास अन्न के भंडार हैं। जैन धर्म में भी इसे पवित्र माना गया है। पीएम मोदी ने देश के लोगों को अक्षय तृतीया की हार्दिक शुभकामनाएं दी है। धरती को अक्षय बनाने का संकल्प लें। संकट के समय सभी एक दूसरे की मदद करें।  
Mann-Ki-Baat PM-Narendra-Modi-ne-Kaha Do-Gaj-Duri-Bahut-Jaruri
रमजान का भी पवित्र महीना शुरू हो गया है। किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि रमजान में इतनी बड़ी मुसीबत होगी। संयम के सद्भाव से रमजान मनाएं। इस बार पहले से ज्यादा इबादत करें। अगर जरूरी न हो तो घर से बाहर न निकलें।
डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए सरकार अध्यादेश लेकर आई है।
डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए सरकार अध्यादेश लेकर आई है।
पीएम मोदी ने कहा कि ज्यादा आत्मविश्वास में न फंस जाएं। हमें यह भ्रम नहीं पालना चाहिए, कोरोना हमें छू नहीं सकता। हमारे यहां कहते हैं कि सावधानी हटी, दुर्घटना घटी, हमारे पूर्वजों ने कहा है, हल्के में लेकर छोड़ दी गई आग, कर्ज और बीमारी, मौका पाते ही दोबारा बढ़कर खत्म हो जाती है, इसलिए इसका पूरी तरह उपचार जरूरी होता है। दो गज की दूरी, उत्तम स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है।  उन्होंने अंत में कहा कि उम्मीद करते हैं कि अगली बार जब मिलेंगे तो कोरोना मुक्ति की खबर मिले।
Mann-Ki-Baat PM-Narendra-Modi-ne-Kaha Do-Gaj-Duri-Bahut-Jaruri
पीएम कल्याण योजना के तहत गरीबों को सीधे पैसे भेजे जा रहे हैं।
पीएम कल्याण योजना के तहत गरीबों को सीधे पैसे भेजे जा रहे हैं।
Mann-Ki-Baat PM-Narendra-Modi-ne-Kaha Do-Gaj-Duri-Bahut-Jaruri
(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × three =

Back to top button