breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति

Breaking: राज्यसभा में विपक्ष के हंगामे के दौरान दोनों कृषि बिल पास

इससे सरकार का नए कृषि कानून बनाने का रास्ता साफ हो गया है,चूंकि इसके बाद ये दोनों बिल राष्ट्रपति की मंजूरी के लिए जाएंगे और नए कृषि कानून का रूप ले लेंगे....

Parliament Session: Farm Services Bill 2020 passed in Rajya Sabha 

नई दिल्ली: संसद के मानसून सत्र(Parliament Session) के दौरान राज्यसभा (Rajya Sabha) में रविवार को विपक्ष के भारी हंगामें के बीच ध्वनिमत से दोनों कृषि बिल को पास हो गए है।

लोकसभा के बाद अब राज्यसभा में भी विवादास्पद दोनों कृषि बिल 2020 पर (Farm Services Bill 2020) पास हो गए है।

इससे सरकार का नए कृषि कानून बनाने का रास्ता साफ हो गया है,चूंकि इसके बाद ये दोनों बिल राष्ट्रपति की मंजूरी के लिए जाएंगे और नए कृषि कानून का रूप ले लेंगे।

इसके बाद अब राज्यसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

कृषि बिल पर राज्यसभा में चर्चा के दौरान विपक्ष ने भारी हंगामा किया लेकिन राज्यसभा के उप सभापति ने कहा कि किसान बिल ध्वनिमत से पास हो गया (Farm Services Bill 2020 passed in Rajya Sabha)  है।

कृषि बिल 2020 पर राज्यसभा में बहुत तेज और तीखी बहस हुई। बहस के दौरान विपक्षी सांसदों ने इस बिल के विरोध में इतना जोरदार हंगामा किया कि एक बार को 10 मिनट के लिए राज्यसभा की कार्यवाही को स्थगित भी करना पड़ा।

लेकिन फिर भारी हंगामे के बीच उपसभापति ने राज्यसभा में कृषि बिल 2020 पास होने का एलान कर दिया।

इस बिल के विरोध और राज्यसभा की कार्यवाही तय समय से लंबे वक्त तक बिना आम सहमति के जारी रखने पर विपक्ष ने उप सभापति के समक्ष भारी नारेबाजी की।

इतना ही नहीं, टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने तो उप सभापति के आसन के पास पहुंचकर रूल बुक तक फाड़ दिया और आरोप लगाया कि सदन की कार्यवाही नियमों के खिलाफ हुई है।

झड़प के दौरान ही उपसभापति के सामने वाला माइक भी टूट गया।

लेकिन फिर थोड़े समय के स्थगन के बाद राज्यसभा की कार्यवाही पुन: शुरु हुई और राज्यसभा में उप सभापति ने विपक्ष के हंगामे के बीच ही संशोधन वोटिंग जारी रखी और आखिरकार राज्यसभा में भी ध्वनिमत से दोनों विवादस्पद कृषि बिल 2020 पास हो गए।

गौरतलब है कि पंजाब,हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान संगठन इस नए कृषि बिल 2020 का भारी विरोध कर रहे है और देशभर में इस बिल के विरोध में किसान संगठनों के प्रदर्शन जारी है।

 

Parliament Session: Farm Services Bill 2020 passed in Rajya Sabha 

Show More

Reena Arya

रीना आर्य www.samaydhara.com की फाउंडर और एडिटर-इन-चीफ है। रीना आर्य ने पत्रकारिता के महज 6-7 साल के भीतर ही अपने काम के दम पर न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपनी पहचान बनाई बल्कि तमाम चुनौतियों और पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए समयधारा.कॉम की नींंव रखी। हर मुद्दे पर अपनी ज्वलंत और बेबाक राय रखने वाली रीना आर्य एक पत्रकार, कंटेंट राइटर,एंकर और एडिटर की भूमिका निभा चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve − eight =

Back to top button