breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबिजनेसबिजनेस न्यूजमार्केटराज्यों की खबरें
Trending

TAX रिलीफ : TDS का रेट 25 फीसदी घटा, 50000 करोड़ का फायदा लोगों को

कैश की दिक्कत से जूझ रहीं डिस्कॉम कंपनियों को PFC और REC के जरिए 90,000 करोड़ रुपए का लिक्विडिटी मुहैया कराया जाएगा।

tax-relief tds-rate-reduced-by-25-percent people-get-benefit-of-50000-crores

नई दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज 20 लाख करोड़ के पैकेज का पहला पिटारा खोला l 

निर्मला सीतारमण ने बताया TDS का रेट 25 फीसदी घटा दिया गया है। यह इंटरेनट, रेंट, ब्रोकरेज सहित सभी पेमेंट पर लागू होगा।

यह 14 मई से लागू होगा और 31 मार्च 2021 तक चलेगा। इससे लोगों के हाथ में 50,000 करोड़ रुपए आएंगे।

कैश की दिक्कत से जूझ रहीं डिस्कॉम कंपनियों को PFC और REC के जरिए 90,000 करोड़ रुपए का लिक्विडिटी मुहैया कराया जाएगा।

इसमें मिलने वाली छूट लोगों तक पहुंचाना होगा।

NBFC, HFC और MFIs को पार्शियल गारंटी स्कीम के तहत 45,000 करोड़ रुपए की लिक्विडिटी मुहैया कराई जाएगी।

इसमें कमर्शियल पेपर और कर्ज भी शामिल है। इसमें पहले 20 फीसदी नुकसान का बोझ सरकार उठाएगी।
इसके लिए डबल AA रेटेड और अनरेटेड पेपर दोनों शामिल होंगे।
tax-relief tds-rate-reduced-by-25-percent people-get-benefit-of-50000-crores
निर्मला सीतारमण ने कहा कि NBFC को फंड नहीं मिल पा रहा है।

इनके लिए 30,000 करोड़ रुपए की स्पेशल लिक्विडिटी स्कीम लॉन्च की गई है।

इस स्कीम में सरकार NBFC, HFC और MFIs के डेट पेपर्स खरीदेगी।

इसमें सरकार सिर्फ हाई क्वालिटी वाले पेपर ही नहीं बल्कि निवेश लायक सभी डेट पेपर्स खरीदने वाली है।

फाइनेंस मिनिस्टर ने कहा, जो लोग EPF के दायरे में नहीं आते हैं,

उनकी टेकहोम सैलरी बढ़ाने के लिए PF कॉन्ट्रिब्यूशन 12 फीसदी से घटाकर 10 फीसदी कर दिया गया है।

सरकारी कंपनियों में कंपनी को 12 फीसदी कॉन्ट्रिब्यूशन देना होगा,

लेकिन कर्मचारियों के पास यह विकल्प होगा कि वो अगले तीन महीने 10 फीसदी देना चाहते हैं या 12 फीसदी।

फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कहा कि EPF में भी रिलीफ दिया जा रहा है।

इसके सपोर्ट के लिए 2500 करोड़ रुपए आवंटित किए जा रहे हैं।

tax-relief tds-rate-reduced-by-25-percent people-get-benefit-of-50000-crores

भारत सरकार कंपनी और कर्मचारी दोनों की तरफ से 12  फीसदी का कंट्रीब्यूशन करेगी।

इसे सपोर्ट को मार्च-मई 2020 से बढ़ाकर जून-अगस्त 2020 तक कर दिया गया है।  

इससे पहले, 

  • MSME को 3 लाख करोड़ का बिना गारंटी के लोन l 

  • बिना गारंटी के लघु छोटे उद्योग को लोन l

  • संकट में फंसी MSME को 20 हजार करोड़ की सहायता l

  • MSME को 1 साल तक ईएमआई से राहत, 25,00 करोड़ तक वाले एमएसएमई को फायदा l 

  • फंड ऑफ फंड्स के जरिए 50,000 करोड़ का इक्विटी इंफ्यूजन किया जाएगा l
  • कुटीर लघु उद्योग के लिए ऐसे 6 कदम उठाएंगे, 2 ईपीफ के लिए, NBFC से जुड़े 2 फैसले और 1 एमएफआई से जुड़े हैं l

सीतारमण ने कहा, MSMEs के लिए जो दूसरा कदम उठाया जा रहा है वह ये है कि सरकारी खरीद में 200 करोड़ रुपए या इससे नीचे का ग्लोबल टेंडर नहीं दिया जाएगा।

इससे MSMEs को बड़ी परियोजनाओं के लिए सप्लाई करने का मौका मिलेगा। सरकारी यूनिट्स सरकारी खरीद का हिस्सा बन सकती हैं।

tax-relief tds-rate-reduced-by-25-percent people-get-benefit-of-50000-crores

जिन MSMEs में इक्विटी की समस्या है उन्हें सबऑर्डिनेट लोन दिया जाएगा।

इसके लिए 20,000 करोड़ रुपए रखे गए हैं। इससे 2 लाख MSMEs की नकदी की समस्या दूर होगी।

सभी NPA या स्ट्रेस्ड लोन को इस स्कीम का फायदा मिलेगा।
20-lakh-crore-package 3-lakh-crore-unsecured-loan-to-msme, 20 लाख करोड़ पैकेज : MSME को 3 लाख करोड़ का बिना गारंटी के लोन,इंडिया न्यूज़ इन हिंदी
20 लाख करोड़ पैकेज : MSME को 3 लाख करोड़ का बिना गारंटी के लोन,इंडिया न्यूज़ इन हिंदी
सरकार CGTMSE के लिए 4,000 करोड़ रुपए देगी जो बैंकों को आंशिक गारंटी देते हैं, वो इसका फायदा अब MSMEs को भी देंगे।

आज के इस चरणमें 14 अलग-अलग उपाय किए गए हैं।

इनमें से 6 MSMEs, 2 EPF, 2 NBFC और MFIs, 1 डिस्कॉम के लिए, 1 कॉन्ट्रैक्टर्स के लिए,

1 रियल एस्टेट के लिए और 3 टैक्स से जुड़े फैसले किए हैं।

उन्होंने कहा l इस पैकेज के द्वारा प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी सोच रखी l  लंबी चर्चा के बाद पैकेज पर फैसला हुआ l

प्रधानमंत्री मोदी ने देश के सामने विजन रखा l  पीएम के भाषण में अर्थव्यवस्था के 5 स्तंभों का जिक्र l

स्थानीय ब्रांड को दुनिया में पहचान दिलानी है l इस पैकेज पर कई मंत्रालयों से चर्चा हुई l खुद प्रधानमंत्री ने पैकेज के सभी पहलुओं पर ध्यान रखा l

आत्मनिर्भर भारत के 5 पिलर हैंः इकॉनमी, इन्फ्रास्ट्रक्चर, सिस्टम, डेमोग्राफी और डिमांडः

tax-relief tds-rate-reduced-by-25-percent people-get-benefit-of-50000-crores

सुधारों के जरिये नए भारत का निर्माण l देश में PPE और वेंटीलेटर का निर्माण हो रहा है l

उन्होंने कहा लोगों के खाते में सीधे मदद पहुंचा रहे है l आयुष्मान योजना से गरीबों को इलाज में फायदा l

कृषि क्षेत्र में किसानों को मदद पहुंची l गरीबो को अनाज और दालें बाटी गयी l अगले कुछ दिनों में पैकेज के बारें में जानकारी दी जायेगी l

लोच्क्दोवं में भी दिव्यांगों और बुजर्गों की सहायता की l RBI ने भी बाजार में लिक्विडिटी बनाये रखें l 

आवास योजना उज्वला योजना से लाभ पहुँचाया l देश में बिज़नस करने को आसान बनाया गया l 41 करोड़ खातों में सीधे मदद पहुंचाई गयी l

वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा : pm मोदी मुसीबत के समय भी अवसर देखते है l हमारा लक्ष्य है देश में कोई भूखा न सोये l

tax-relief tds-rate-reduced-by-25-percent people-get-benefit-of-50000-crores

Show More

Dharmesh Jain

धर्मेश जैन www.samaydhara.com के को-फाउंडर और बिजनेस हेड है। लेखन के प्रति गहन जुनून के चलते उन्होंने समयधारा की नींव रखने में सहायक भूमिका अदा की है। एक और बिजनेसमैन और दूसरी ओर लेखक व कवि का अदम्य मिश्रण धर्मेश जैन के व्यक्तित्व की पहचान है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 5 =

Back to top button