breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबजट 2022बिजनेसबिजनेस न्यूजमनी मंत्रामार्केट
Trending

यूनियन बजट 2022-जानिए Tax के स्लैब में मिलेगी राहत या फिर…?

Budget में इस बार किसके क्या लगेगा हाथ, कौन से सेक्टर पर सरकार की रहेगी कृपा दृष्टि

Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

नयी दिल्ली (समयधारा) : दोस्तों बस अब सिर्फ 2 दिन ही बचे है यूनियन बजट 2022(#Union Budget) पेश होने को l 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बही खाते(Ledger Account) में इस बार क्या-क्या राज छूपा है, इसका खुलासा जल्द हो जाएगा l

और हमें बस कुछ घंटो बाद पता चल जाएगा की बजट 2022 (Budget 2022) में हमें यानी आम लोगों के लिए क्या-क्या खुशखबरीयां है l  

यूँ तो इस बार Budget में किसी नए टैक्स यानी कर की गुंजाइश कम ही है l कारण की  इस बार बजट के तुरंत बाद चुनाव है l

Budget 2022-23 – चुनावी बजट में आयकर में मिल सकती है छूट…! महिलाओं का होगा बोलबाला

Alert..! कोरोना का नया वैरिएंट NeoCov अगर हुआ, तो 3 में से 1 की मौत

वो भी देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में जहाँ से सत्ता की चाभी केंद्र तक जाती है l जिसकी सत्ता उत्तर प्रदेश में होती है l

Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

उसकी सरकार केंद्र में बनने की संभावना ज्यादा होती हैl अब ऐसे में सत्ताधारी बीजेपी कोई रिस्क नहीं लेना चाहेगीl 

मिडकैप 440 अंक ऊपर वही शेयर बाजार नीचे गिरकर हुआ बंद

अब बात करते है टैक्स स्लैब की इस बजट में डायरेक्ट और इनडायरेक्ट टैक्स से जुड़े नियमों में बदलाव हो सकता है l 

बात करें पिछले साल के बजट की तो उसे निवेशकों ने काफी पसंद किया था और उस दिन बाजार में जोरदार तेजी दर्ज की गयी थी l

Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

कमोबेश इस साल भी यह नजारा देखने को मिल सकता है l वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को बजट पेश करेंगी।

चुनावी व्यंग-कविता-उत्तर प्रदेश चुनाव पर एक सटीक नजरिया

यह उनका चौथा बजट होगा। विदेशी संस्थागत निवेशक यानी एफ़आईआई(Foreign Institutional Investors-FII) घरेलू स्टॉक मार्केट में पिछले कुछ समय से लगातार बिकवाली कर रहे हैं।

Union Budget 2022-23 : जानियें इस बार क्या-क्या है सीतारमण के पिटारे में

इधर, घरेलू संस्थागत निवेशक यानी DII (Domestic Institutional Investors-DII) बाजार में गिरावट के मौके का इस्तेमाल खरीदारी के लिए कर रहे हैं।

इसका मतलब यह है की घरेलु निवेशक बाजार को बहुत ही अच्छा मान कर चल रहे है और यह स्टॉक मार्केट के लिए एक पॉजिटिव संकेत माना जा रहा है l

हमारी अर्थव्यवस्था (Indian Economy) तेज ग्रोथ के रास्ते पर लौट रही है। लोगों को नौकरियां मिलनी भी शुरू हो गई हैं। इससे घरों की मांग बढ़ सकती है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) अगर घर खरीदारों के लिए कुछ उपायों का ऐलान बजट (Budget) में करती हैं तो इससे रियल एस्टेट सेक्टर में चमक लौट सकती है।

Corona Cases Today : नए मामलों में 17 फीसदी का बड़ा उछाल

यह 5 फैक्टर है जो रियल एस्टेट सेक्टर को बूस्ट करने में मदद कर सकते है l

Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

  1. अंडर-कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट्स को जीएसटी से छूट देना l
  2. हाउस प्रॉपर्टी से लॉस को सेट-ऑफ करने की लिमिट बढ़ाना l
  3. प्रिसिपल रीपेमेंट पर अलग से डिडक्शन की सुविधा देना l 
  4. क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम की अवधि को बढ़ाना l
  5. सेक्शन 80ईईए के तहत अतिरिक्त डिडक्शन की अवधि को बढ़ाना l

यह 5 फैक्टर रियल सेक्टर को बूस्ट देने के लिए काफी है l देखते है सरकार इस बजट में अपनी क्या राय रखती है l

वित्त मंत्री सीतारमण का फोकस ग्रोथ बढ़ाने और राजकोषीय स्थिति पर होगा।

ब्रोकरेज मॉर्गन स्टेनली ने कहा है, “हमारा मानना है कि सरकार धीरे-धीरे राजकोषीय स्थिति मजबूत बनाने पर ध्यान देगी।

Shocking..! BiggBoss15 फिनाले से पहले राखी सावंत हुई घर से बेघर.!!

हालांकि, वह सरकारी खर्च पर जोर बनाए रखेगी। इससे पूंजीगत खर्च के लिए भी अनुकूल माहौल बनेगा l

बजट में सीतारमण सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी (Import Duty) को घटाने का ऐलान कर सकती हैं।

अभी गोल्ड पर इंपोर्ट ड्यूटी 7.5 फीसदी है। इसे घटाकर 4 फीसदी करना ठीक रहेगा। ज्वैलर्स (Jewelers) का कहना है कि इससे गोल्ड की स्मगलिंग में कमी आएगी।

Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

उन्होंने कहा है कि चीन, अमेरिका और सिंगापुर जैसे देशों ने डोमेस्टिक मार्केट को मजबूत बनाने के इंपोर्ट ड्यूटी को हटाया है।

WhatsApp यूनिवर्सिटी की झूठी खबरों से बचें, लता मंगेशकर अभी ICU में है…

इंडिया में गोल्ड पर इंपोर्ट ड्यूटी ज्यादा होने से इसकी स्मगलिंग को बढ़ावा मिलता है l

सरकार ने आम लोगों के लिए बजट उपलब्ध कराने के लिए ऐप लेकर आई है। 1 फरवरी 2022 को वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण बजट पेश करेंगी।

आम बजट (Union Budget 2022) सुबह 11 बजे पेश होगा। बजट पेश होने के बाद आम लोग इसे अपने मोबाइल पर अपनी भाषा हिंदी या इंगलिश में पढ़ पाएंगे।

सरकार ने इसके लिए यूनियन बजट मोबाइल ऐप (Union Budget Mobile App) भी लॉन्च किया है। यहां बजट से जुड़ी सभी जानकारी लोगों को मिल जाएगीl

कोरोना के दौरान शादियों के निमंत्रण पर जोक्स का पिटारा

इससे पहले, Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

हमारे बजट स्पेशल ख़बरों में पाठकों का स्वागत है l 

हमने पहले भी अपनी आर्टिकल में आपको बताया था की इस बार का बजट चुनावी राज्यों को ध्यान में रखकर पेश किया जाएगाl 

और इस बजट में महिलाओं के लिए विशेष पैकेज या उन्ही को ध्यान में रखकर बजट पेश किया जाएगा l 

Union Budget 2022-23 : जानियें इस बार क्या-क्या है सीतारमण के पिटारे में

Union Budget 2022-23 : जानियें इस बार क्या-क्या है सीतारमण के पिटारे में

मोदी सरकार के लिए उत्तर प्रदेश चुनाव को जितना बहुत ही जरुरी है l उसका पूरा ध्यान up चुनाव में लगा हुआ हैl 

सबसे पहले यह जानते है की मौजूदा आयकर टैक्स स्लैब क्या है l 

पिछले साल के बजट में कोरोना वायरस महामारी के चलते आयकर स्लैब (income tax slabs) में कोई बदलाव नहीं किया गया था।

हालांकि वित्त मंत्रालय ने बजट 2020 में सैलरी क्लास के लिए आयकर के दो विकल्प दिये थे। ये विकल्प वित्त वर्ष 2020-21 से प्रभावी हैं।

2020 budget live: Income tax स्लैब में बड़ा बदलाव-सलाना 5 लाख तक की आय पर टैक्स नहीं, 5 से 7.5 लाख तक की आय पर 10% टैक्स

2020 budget live: Income tax स्लैब में बड़ा बदलाव-सलाना 5 लाख तक की आय पर टैक्स नहीं, 5 से 7.5 लाख तक की आय पर 10% टैक्स

इन दो विकल्पों में से एक विकल्प पुराना/मौजूदा टैक्स स्लैब है और दूसरा विकल्प है नया टैक्स स्लैब, जो बजट 2020 में लाया गया।

मौजूदा नियमों के मुताबिक, पूरे देश में एक स्लैब सिस्टम काम करता है।

Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

जहां अलग-अलग स्लैब के लिए अलग-अलग टैक्स दरें (tax rates) निर्धारित की गईं हैं।  व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स की तीन कैटेगेरी बनाई गईं हैं।

एक 60 साल से कम के लोग, दूसरा सीनियर सिटीजन्स 60 से 80 साल के और तीसरा 80 साल से अधिक उम्र के लोगों को शामिल किया गया है।

Budget 2021:बजट से मिडिल क्लास हुआ आहत, इंडस्ट्री को मिली राहत

मौजूदा सिस्टम में इनकम टैक्स के 7 स्लैब बनाए गए हैं। इसके मुताबिक,

  • 2.5 लाख रुपये तक की सालाना इनकम पर कोई टैक्स नहीं लगता है।
  • 2.5 लाख से 5 लाख तक की सालाना इनकम पर 5 फीसदी की दर से टैक्स देना होता है।
  • वहीं 5 लाख रुपये से 7.5 लाख रुपये की सालाना इनकम पर 10 फीसदी की दर से टैक्स देना होता है।
  • जबकि 7.5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये की सालाना इनकम पर 15 फीसदी की दर से टैक्स लगता है।
  • 10 लाख रुपये से 12.5 लाख रुपये की सालाना इनकम पर 20 फीसदी की दर से टैक्स चुकाना होता है।
  • 12.5 लाख रुपये से 15 लाख रुपये की सालाना इनकम पर 25 फीसदी 
  • 15 लाख रुपये से अधिक की सालाना इनकम पर 30 फीसदी की दर से टैक्स लगता है।

इन नए नियमों में लाए गए टैक्स स्लैब में दरें तो कम हैं,Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

लेकिन इसमें सेक्शन 80C के तहत मिलने वाली और अन्य दूसरी कर छूटों को खत्म कर दिया गया है।

वहीं पुराने इनकम टैक्स की व्यवस्था के तहत 2.5 लाख रुपये तक की सालाना इनकम पर कोई टैक्स नहीं लगता है।

वहीं अगर सालाना इनकम 2.5 लाख रुपये से लेकर 5 लाख रुपये के दायरे में आती है तो 5 फीसदी टैक्स लगता है।

हालांकि 5 लाख से अधिक की इनकम पर इनकम टैक्स एक्ट 87A के तहत 12,500 रुपये की छूट का दावा कर सकते हैं।

इसके साथ ही 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये की सालाना इनकम पर 20 फीसदी की दर से टैक्स लगता है।

यदि किसी व्यक्ति की कुल इनकम 10 लाख रुपये से अधिक है तो 20 फीसदी टैक्स लगता है।

Editorial on Budget:आम बजट 2021-22 किसके लिए है खास और किसके लिए बकवास

अब बात करते है इसमें परिवर्तन क्या हो सकता है l 

7 टैक्स स्लैब में परिवर्तन हो सकता है l जैसे की जो 2.5 लाख की रियायत है उसे बढ़ाकर 3 लाख या 5 लाख तक हो सकती है l

वही इस बार महिलाओं को 5 लाख की जगह 6 लाख तक टैक्स पर छूट मिल सकती है l इस बार भी कोरोना को लेकर कुछ रियायत की घोषणा सरकार कर सकती हैl

पर इनकम टैक्स में बदलाव तो सरकार को करना ही होगा l इसका सबसे बड़ा कारण है चुनाव l 

इससे पहले,Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

साल 2021 खत्म होने को है और नए साल में एक बार फिर नया बजट आएगा l 

पिछले 7 सालों में मोदी सरकार के बजट से यह बजट पूरी तरह से अलग होने की उम्मीद है l

कारण इस बार एक नहीं दो नहीं पूरे 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव होने वाले है, और उनकी छाप बजट पर साफ़ नजर आएगी l 

Editorial on Budget:आम बजट 2021-22 किसके लिए है खास और किसके लिए बकवास

Editorial on Budget:आम बजट 2021-22 किसके लिए है खास और किसके लिए बकवास

उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा इन राज्यों में चुनाव बजट के तुरंत बाद होने वाले है l

इसलिए इन राज्यों के हितों को ध्यान में रखकर ही बजट पेश होगा l खासकर उत्तर प्रदेश और पंजाब यह राज्यों पर सरकार की कड़ी नजर रहेगी l

पहले एक नजर डालते है बजट 2021 और बजट 2020 पर 

Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

Budget 2020-21 जानिएँ विस्तार में बजट की 7 महत्वपूर्ण बातें, क्या होगा फायदा..

2020 के यूनियन बजट (Union Budget 2020) की महत्वपूर्ण बातें 

  • टैक्स के लिए वित्त मंत्री ने इनकम टैक्स स्लैब (Income tax ) में बड़ा बदलाव  किया। 
  • नई कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स 15फीसदी ।
  • अब 5 लाख तक जमा रकम बैंक में सुरक्षित,पहले 1 लाख थी l 

  • Know-About-Union-Budget-2022 Budget-2021 Budget-2020
  • कामकाजी और वरिष्ठ नागरिकों के लिए बजट, वरिष्ठ नागरिकों के लिए 9000 करोड़ का एलान l 
  • अनुसूचित जाति और अन्य पिछड़े वर्गों के लिए 85 हजार करोड़ रुपये का प्रस्ताव l 
  • 100 लाख करोड़ का नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर फंड l 
  • 99300 करोड़ रुपये शिक्षा के लिए आवंटति कए गए हैं, 3000 करोड़ स्किल डेवलपमेंट के लिए l 

Budget 2021-22: जानें आपके लिए बजट में क्या हुआ सस्ता और क्या हुआ महंगा?

2021 के यूनियन बजट (Union Budget 2021) की महत्वपूर्ण बातें 

तो चलिए बताते है कि केंद्रीय बजट 2021 में क्या महंगा हुआ है?

  • मोबाइल फोन और मोबाइल फोन के पार्ट, चार्जर
  • गाड़ियों के पार्ट्स
  • इलेक्ट्रानिक उपकरण जैसे-एसी,फ्रिज महंगे हुए।
  • इम्पोर्टेड कपड़े
  • सोलर इन्वर्टर, सोलर से उपकरण जैसे-LED लाइट,इन्वर्टर महंगे।
  • कॉटन
  • चमड़े का समान महंगा।
  • मसूर दाल और काबुली चने महंगे।

Budget 2021-22Live update:मोबाइल हो सकता है महंगा,कुछ पार्ट्स पर टैक्स बढ़ा

Budget 2021-22Live update:मोबाइल हो सकता है महंगा,कुछ पार्ट्स पर टैक्स बढ़ा

केंद्रीय बजट में क्या सस्ता हुआ? Union-Budget-2022 expectation budget-2022-ka-date-and-time

  • स्टील से बने सामान
  • सोना-चांदी
  • तांबे का सामान
  • चमड़े से बने सामान

  अब बताते है यह यूनियन बजट 2022 (Union Budget 2022) कैसा हो सकता है lपेट्रोल

इस बार के बजट में आईटी सेक्टर को बूस्टर डोस मिलने की उम्मीद है l वही सरकार क्रिप्टो करेंसी को लेकर भी कोई बड़ा ऐलान कर सकती है l

Know-About-Union-Budget-2022 Budget-2021 Budget-2020

यूपी और पंजाब को कई सौगातें मिल सकती है l वही आम आदमी के खाते में पेट्रोल-डीजल को लेकर कोई बड़ी घोषणा हो सकती है l

शायद इस बार पेट्रोल-डीजल को GST के दायरें में लाकर आम आदमी को बड़ी सौगात दे दे l

भारत में स्टार्टअप्स को बढ़ावा देने के लिए सरकार कोई नयी प्लान ला सकती है l वही  नौकरी के अवसरों में वृद्धि को लेकर कुछ नए मौके के बारें में भी बात हो सकती है l

Union Budget 2021-22 Live in Hindi : जानियें बजट भाषण की सभी पल-पल की ख़बरें

Union Budget 2021-22 Live in Hindi : जानियें बजट भाषण की सभी पल-पल की ख़बरें

दूसरी तरफ शिक्षा के अवसरों पर ध्यान देना भी सरकार की लिस्ट में हो सकता है l

सबसे बड़ा फैसला सरकार का होगा किसी भी तरह से उत्तर प्रदेश के चुनाव को जितना l जिसके लिए वह कई बड़े ऐलान कर सकती हैl

इस बजट में महिलाओं पर विशेष पैकेज की घोषणा भी हो सकती है l 5 राज्यों में महिलाओं को रिझाने के लिए सरकार इनके लिए कोई बड़ी घोषणा कर सकती है l 

कुल मिलाकर यह बजट लोकलुभावना होगा l वही इस बजट में आम आदमी का ख़ास ख्याल रखा जाएगा यह तो तय है l 

बजट 2022 से जुड़ीं तमाम ख़बरों के लिए समयधारा से जुड़े रहे l 

UnionBudget 2021 Live : कोरोना का असर हेल्थ सेक्टर को मिले रिकॉर्ड 2.23 लाख करोड़ रुपये

(इनपुट एजेंसी से भी) 

बजट से जुड़े अन्य टॉपिक के लिए नीचे लिंक को क्लिक करें l 

Show More

Dharmesh Jain

धर्मेश जैन www.samaydhara.com के को-फाउंडर और बिजनेस हेड है। लेखन के प्रति गहन जुनून के चलते उन्होंने समयधारा की नींव रखने में सहायक भूमिका अदा की है। एक और बिजनेसमैन और दूसरी ओर लेखक व कवि का अदम्य मिश्रण धर्मेश जैन के व्यक्तित्व की पहचान है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button