breaking_newsअन्य ताजा खबरेंएजुकेशनएजुकेशन न्यूजदेशराज्यों की खबरें
Trending

UP Board कक्षा 10वीं की परीक्षाएं 2021 में रद्द, 12वीं की परीक्षा पर जुलाई में फैसला

ध्यान दें कि CBSE ने पहले ही अपनी 10वीं बोर्ड की परीक्षाओं को रद्द कर दिया है...

UP Board Exams 2021 cancelled

लखनऊ:वर्ष 2021 के लिए उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षाएं कोरोनावायरस के कारण रद्द कर दी गई(UP Board Exams 2021 cancelled)है।

यूपी बोर्ड ने 10वीं कक्षा के लिए इस वर्ष होने जा रही परीक्षाएं रद्द कर(UP Board High school Exam)दी है और कक्षा 12वीं के लिए परीक्षाओं के आयोजन पर फैसला यूपी बोर्ड जुलाई में(UP Board 12th-class-exams in July)करेगा। इसका एलान यूपी सरकार ने किया है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने फैसला किया है कि राज्य में कोरोना के कारण बिगड़े हालात ठीक हुए तो इंटर बोर्ड की परीक्षाएं जुलाई के दूसरे हफ्ते में आयोजित की जाएंगी।

इतना ही नहीं, यूपी सरकार(UP Govt)ने कक्षा 6 से कक्षा 11 तक के बच्चों को भी बिना परीक्षा के अगली कक्षा में प्रमोट करने का फैसला किया है।

बकौल राज्य सरकार यदि यूपी बोर्ड ने 12वीं की परीक्षा आयोजित भी की तो वो भी केवल डेढ़ घंटे की होगी और परीक्षार्थियों को केवल 3 सवालों का जवाब देना होगा।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi AdityaNath) की सरकार ने बढ़ते कोरोना मामलों के चलते इस निर्णय को लिया है।

यूपी के डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने यूपी बोर्ड परीक्षा 2021(UP Board Exams 2021) को लेकर ये निर्देश दिए है।

उन्होंने कहा कि यूपी माध्यमिक शिक्षा परिषद की साल 2021 में कक्षा 10 के लिए बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी गई (UP Board Exams 2021 cancelled for class 10) है।

शर्मा ने बताया है कि यूपी बोर्ड(UP Board) ने 56 लाख छात्रों के हित में यह अहम निर्णय लिया है।

दिनेश शर्मा के अनुसार, परिस्थितियां अनुकूल होने पर यूपी बोर्ड साल 2021 में कक्षा 12वीं के लिए परीक्षा जुलाई महीने के दूसरे हफ्ते में(UP Board 12th-class-exams in July) करायेगा।

यूपी बोर्ड कक्षा 12वीं  की परीक्षा में परीक्षा अवधि को सिर्फ डेढ़ घंटे का रखेगा।

इनमें केवल 3 प्रश्नों का उत्तर देना पड़ेगा।

समस्त बोर्ड के सभी स्कूलों की कक्षा 6, 7, 8, 9 एवं 11 के छात्रों को प्रमोट करने का फैसला भी हुआ है।

शर्मा ने बताया है कि यूपी सरकार राज्य निवासियों को एक आदर्श एवं अच्छी गुणवत्ता की शिक्षा व्यवस्था देने के लिए प्रतिबद्ध है।

कहा जा रहा है कि सरकार कोरोना के केस में कमी के बावजूद कोई जोखिम नहीं लेना चाहती, खासकर बच्चों के मामले।

विशेषज्ञों ने पहले ही यह आशंका जताई है कि कोरोना की तीसरी लहर में बच्चे बड़े पैमाने पर निशाने पर आ सकते हैं।

ऐसे में लाखों बच्चों के स्वास्थ्य और सुरक्षा का ध्यान रखते हुए यह फैसला लिया गया है।

दरअसल,कोरोनावायरस(Coronavirus)के कारण परीक्षाएं पहले ही नियत तिथि पर नहीं हो पाईं।

ध्यान दें कि CBSE ने पहले ही अपनी 10वीं बोर्ड की परीक्षाओं को रद्द कर दिया है।

हालांकि 12वीं कक्षा की परीक्षाओं को लेकर अभी कोई फैसला नहीं हो पाया है।

वैसे CBSE  की परीक्षाओं को लेकर मामला सुप्रीम कोर्ट में भी चल रहा है।

 

 

UP Board Exams 2021 cancelled

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen + 12 =

Back to top button