breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबीमारियां व इलाजलाइफस्टाइलविभिन्न खबरेंविश्वहेल्थ
Trending

कोरोना से कराह रहे विश्व पर अब हंतावायरस का खतरा, जानें क्या है हंतावायरस,बचें कैसे?

आखिर हंतावायरस है क्या? इससे बचें कैसे? इस वायरस के संक्रमण की आशंकाएं भारत में भी उठने लगी हैं...

What is Hantavirus,symptoms and protection:वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (Coronavirus) की अभी तक वैक्सीन तैयार भी नहीं हुई और भारत समेत पूरा विश्व कोरोना से कराह रहा है और इससे बचने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे है, ऐसे में एक और वायरस का खतरा विश्व के सामने सिर उठा रहा है।

इस वायरस का नाम है- हंतावायरस (Hantavirus)।

हंतावायरस की आहट से ही सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाएं आने लगी और हैशटैग #Hantavirus नंबर वन पर ट्रेंड होने लगा।

कहां से आया हंतावायरस?

खबर है कि चीन के युन्नान प्रांत में कोरोना के बाद अब एक और वायरस का डर उपजा है। हाल में युन्नान में एक व्यक्ति की मृत्यु हंता वायरस के संक्रमण से हो गई है।

जैसे ही इस व्यक्ति की मौत हंतावायरस (Hantavirus) से हुई तो ट्विटर पर #Hantavirus ट्रेंड करने लगा।

अब लोगों के दिमाग में सवाल उठ रहा है कि हंतावायरस भी कहीं कोरोनावायरस की तरह महामारी तो नहीं बन जाएगा?

आखिर हंतावायरस है क्या? इससे बचें कैसे? इस वायरस के संक्रमण की आशंकाएं भारत में भी उठने लगी हैं।

चलिए बताते है हंतावायरस क्या है? What is Hantavirus,symptoms and protection

हंतावायरस एक ऐसी बीमारी है जो चूहे,गिलहरी इत्यादि के संपर्क के संक्रमण से होती है।

हंतावायरस (Hantavirus disease) बीमारी चूहे से इंसान में फैलती है। इस बीमारी में भी व्यक्ति को सांस लेने में परेशानी महसूस होती है।

 

हंतावायरस से व्यक्ति कैसे होता है संक्रमित?

https://twitter.com/ArshQur26690870/status/1242433599414116354?s=20

कोरोनावायरस(Coronavirus)जहां व्यक्ति से व्यक्ति को संक्रमित करता है तो वहीं हंतावायरस (Hantavirus) में ऐसा बिल्कुल नहीं है।

यह बीमारी चूहे या गिलहरी से संक्रमित होने पर इंसान में फैलती है,लेकिन चूहे या गिलहरी से यह सीधा नहीं फैलती बल्कि अगर आपने जाने-अनजाने चूहे के संपर्क में आई किसी चीज को छू लिया या उसके संपर्क में आ गए तो आप हंतावायरस से संक्रमित हो सकते है।

दरअसल, बहुत बार घरों या ऑफिस में भी चूहे आपके खान-पीन के सामान, फाइलों या अन्य वस्तुओं को कुतर देते है।

इन कुतरी हुई चीजों को चूहें इधर-उधर फेंक देते है या फिर चूहे मल-मूत्र किसी चीज पर कर देते है और आप उन कुतरी हुई चीजों को छू लेते है

या फिर उनके मल-मूत्र के संपर्क में आ जाते है तो आप हंतावायरस से संक्रमित हो सकते है।

इतना ही नहीं, अगर संक्रमित चूहा या गिलहरी किसी  सामान पर बैठ जाएं या उसे खा लें और इंसान उसे छू लेता है तो भी हंतावायरस इंसान के शरीर में प्रवेश कर जाता है।

कोई चूहा या गिलहरी अगर संक्रमित होकर मर जाता हैं और आप उसे नंगे हाथ से उठाकर फेंके देते है तो भी हंतावायरस बीमारी फैल सकती है।

 

What is Hantavirus,symptoms and protection

हंतावायरस के क्या लक्षण हैं?

हंतावायरस जब मानव के शरीर में प्रवेश करता है तो  9 से 33 दिनों के अंदर इसके लक्षण दिखने में समय लगता है।

यह है हंतावायरस के शुरुआती लक्षण:

बुखार।

थकान।

मांसपेशियों में दर्द।

इसके अतिरिक्त सिरदर्द, चक्कर, उल्टी और डायरिया की भी शिकायत हो सकती है।

जब यह बीमारी गंभीर होती है तो हंतावायरस संक्रमण का मुख्य लक्षण सांस लेने में परेशानी होना है।

वायरस संक्रमण के कारण फेफड़े में फ्लुड बन जाता है जिससे सांस लेने में परेशानी होती है।

अक्सर लोगों की मौत दम घुटने की वजह से हो जाती है।

 

हंतावायरस से कैसे बचें? Hantavirus protection tips

हमेशा से कहा जाता है इलाज से बेहतर बचाव है। इसलिए हंतावायरस से बचाव के लिए आपको सावधानी बरतने की जरूरत है।

यदि आप चूहे या गिलहरी को छूते है या  फिर उनके द्वारा कुतरी गई किसी चीज या जमीन पर गिरी चीज को छूते है या फिर उसके संपर्क में आते है तो

आपको अपने हाथों को अच्छी तरह से धोना चाहिए।

यदि आप ऐसा नहीं करते हैं और अपने उन्हीं हाथों से मुंह या नाक को छू लेते है तो यह बीमारी आपके अंदर भी फैल सकती है।

इससे बचने के लिए आप समय-समय पर अपने घर और ऑफिस की सफाई करते रहें और इस बात को सुनिश्चित करें कि चूहे आपके घर,रसोई और ऑफिस या गोदाम में ठिकाना न बनाने पाए।

 

What is Hantavirus,symptoms and protection?

हंतावायरस बीमारी का पता कैसे चलता है?

हालांकि हंतावायरस (Hantavirus) के संक्रमण का शुरू में पता लगाना मुश्किल होता है। अगर आप किसी भी तरह से चूहे या गिलहरी के संपर्क में आएं है या उनके द्वारा कुतरी चीज के जाने-अनजाने आपने छू लिया है और उसके बाद से आपक बुखार,थकान और सांस लेने में परेशानी हो रही है तो तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए और अपनी जांच करानी चाहिए।

गौरतलब है कि अमेरिका में 1993 में हंतावायरस संक्रमण का मामला अमेरिका में सामने आया था।

यह बीमारी चूहे से फैली थी।

चूहे ने खाने की चीज या कुछ और चीजें कुतर कर गिरा दी थी।

 

 

What is Hantavirus,symptoms and protection

 

 

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: