Trending

Himachal Pradesh Assembly elections-कांग्रेस या फिर बीजेपी के सर सजेगा ताज..? 8 दिसंबर को मतगणना से खुलेगा राज

इलेक्शन कमीशन ने हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया पर गुजरात के चुनावों की तारीखों का अभी तक एलान नहीं किया है

नयी दिल्ली(समयधारा):Himachal-Pradesh-Assembly-elections-date-November-12-results-will-be-8-Dec-हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022(Himachal-Pradesh-Assembly-elections-2022) की तिथि की घोषणा हो गई है।

चुनाव आयोग ने घोषणा की है कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव 12 नवंबर को होने वाले है और परिणाम 8 दिसबंर को(Himachal-Pradesh-Assembly-elections-date-November-12-results-will-be-8-Dec)आयेंगे।

लेकिन चुनाव आयोग ने फिलहाल गुजरात विधानसभा चुनावों(Gujarat Assembly Elections)की डेट की घोषणा नहीं की है।

 ऐसे में चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर विपक्षी पार्टियां सवाल उठा रही है।

कांग्रेस(Congress)महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि यह इसलिए किया गया ताकि प्रधानमंत्री को और बड़े वादे करने का समय मिल जाए। इसे नियमों का उल्लंघन बताया जा रहा है।

क्योंकि दो राज्यों में अगर विधानसभा का कार्यकाल छह महीने के अंदर खत्म होता है तो चुनाव एक साथ कराए जाते हैं और परिणाम भी साथ घोषित होते हैं।

इलेक्शन कमीशन ने हिमाचल प्रदेश(Himachal Pradesh)में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया पर गुजरात के चुनावों की तारीखों का अभी तक एलान नहीं किया है l

-चुनाव आयोग ने हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों के कार्यक्रम की घोषणा कर दी है।

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी औंधे मुंह गिरी,कांग्रेस ने किया सूपड़ा साफ

 

 

 

 

 

-चुनाव आयोग ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में एक ही चरण में 12 नवंबर को विधानसभा चुनाव होगा और 8 दिसंबर को वोटों की गिनती(Himachal-Pradesh-Assembly-elections-date-November-12-results-will-be-8-Dec)होगी।

 

 

 

 

 

 

-हिमाचल प्रदेश में मौसम को एक अहम कारण बताते हुए कि राज्यों में चुनावों की घोषणा सबसे पहले की गई है। चुनाव आयोग ने कहा कि एक राज्य में चुनाव दूसरे में चुनावों को प्रभावित नहीं करेंगे, क्योंकि विधानसभाओं का कार्यकाल खत्म होने के बीच में “40 दिनों का अंतर है।

 

 

 

 

 

हालांकि, इस दौरान गुजरात के चुनावों की तारीख का ऐलान नहीं हुआ।”

 

 

 

 

 

 

 

-“गुजरात विधानसभा का कार्यकाल अगले साल 18 फरवरी और हिमाचल प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल अगले साल 8 जनवरी को समाप्त होगा। चुनाव आयोग ने चुनाव संबंधी तैयारियों का जायजा लेने के लिए हाल ही में दोनों राज्यों का दौरा किया था। 182 सीटों के लिए गुजरात विधानसभा चुनाव दिसंबर 2022 में होने का अनुमान है।”

 

 

दो बार कोरोना को मात देने वाले हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का निधन

 

 

 

 

 

-“प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Narendra Modi)के गृह राज्य गुजरात में बीजेपी करीब 27 साल से राज कर रही है। भूपेंद्र पटेल राज्य के मौजूदा मुख्यमंत्री हैं जहां अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी अब एक मजबूत चुनौती के रूप में उभरने की कोशिश कर रही है।”

 

 

 

 

 

 

 

-“2017 के चुनाव में बीजेपी ने गुजरात विधानसभा की 182 में से 99 सीटों पर जीत दर्ज की थी। कांग्रेस ने 77 सीटें हासिल की थीं। चुनाव के बाद बीजेपी ने विजय रूपाणी को मुख्यमंत्री बनाया गया था। हालांकि, सितंबर 2021 में रूपाणी की जगह पटेल को सीएम बना दिया गया था।”

 

 

 

गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवाणी को असम पुलिस ने किया गिरफ्तार,गुवाहाटी ले जाया जाएगा

 

 

 

-“दूसरी तरफ हिमाचल विधानसभा की 68 सीटों के लिए 2017 में 9 नवंबर को वोटिंग हुई थी। हिमाचल में बीजेपी ने 68 में से 45 सीटों पर बंपर जीत हासिल की थी। कांग्रेस को चुनाव में सिर्फ 20 सीटों पर ही जीत मिली थी। फिलहाल, जयराम ठाकुर राज्य के मुख्यमंत्री हैं।”

 

 

 

 

 

-“पत्रकारों के यह पूछे जाने पर कि चुनाव आयोग ने हिमाचल प्रदेश के साथ गुजरात चुनाव की तारीखों की घोषणा क्यों नहीं की, CEC राजीव कुमार ने कहा कि यह 2017 में तय कॉन्फ्रेंस के अनुसार ही किया गया है। तब भी दोनों राज्यों के चुनावों की अलग-अलग घोषणा की गई थी।”

 

 

 

 

 

 

 

-“2017 में, हिमाचल प्रदेश के चुनाव 13 अक्टूबर को घोषित किए गए थे। जबकि गुजरात चुनाव 25 अक्टूबर को घोषित किए गए थे। हालांकि, दोनों राज्यों के नतीजे 18 दिसंबर, 2017 को घोषित किए गए थे।”

 

 

 

हिमाचल प्रदेश भूस्खलन में 15 लोगों की मौत, 13 लोगों को बचाया गया, कई लोग लापता

 

 

 

 

 

Himachal-Pradesh-Assembly-elections-date-November-12-results-will-be-8-Dec

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button