breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराज्यों की खबरें

हिमाचल प्रदेश भूस्खलन में 15 लोगों की मौत, 13 लोगों को बचाया गया, कई लोग लापता

लगभग 24 घंटे से ज्यादा समय गुजर जाने के बाद भी बस के कई यात्रियों की कोई खबर नहीं.

himachal pradesh kinnaur landslide so far 15 people died many missing 

हिमाचल प्रदेश (समयधारा):  Kinnaur Landslide में अब तक करीब 15 लोगों की मौत हो गयीl 

लगभग 24 घंटे से ज्यादा समय गुजर जाने के बाद भी बस के कई यात्रियों की कोई खबर नहीं है l  

उल्लेखनीय है कि हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में भूस्खलन(Landslide) के बाद कम से कम 15 लोगों की मौत हो चुकी है।

अभी और कई अन्य लोगों के इस मलबे में दबे होने की आशंका है।

इस बात की जानकारी गुरुवार को भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (Indo-Tibetan Border Police – ITBP) ने दी है।

इस हादसे में अब तक 13 लोगों को बचा लिया गया है वहीं 25-30 लोगों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है।

himachal pradesh kinnaur landslide so far 15 people died many missing 

राज्य आपदा प्रबंधन (state disaster management) के अधिकारी सुदेश कुमार मोख्ता (Sudesh Kumar Mokhta) ने बताया कि

हिमाचल सड़क परिवहन निगम की बस और बोलेरो में फंसे किन्नौर में लोगों की खोज और बचाव अभियान गुरुवार तड़के फिर से शुरू किया गया है।

मोख्ता ने आगे कहा कि लैंडस्लाइड स्थल पर बचाव अभियान में NDRF टीम, ITBP और लोकल पुलिस के अलावा होम गार्ड के जवान संयुक्त रूप से काम कर रहे हैं।

Delhi School बच्चों के बल्ले-बल्ले, केजरीवाल सरकार ने IB और दिल्ली स्कूल-DSEB के बीच MoU किया साइन

बुधवार देर रात राहत और बचाव कार्य रोक दिया गया था। गुरुवार को सुबह 6 बजे फिर से शुरू किया गया है।

वहीं इस पूरे मामले में राज्य के सीएम जयराम ठाकुर ने कहा है कि अब तक 13 शव बरामद हुए हैं और 13 लोग घायल हैं।

बस का मलबा मिल गया है। बस में सवार लोगों की संख्या का सही अंदाजा नहीं लग पा रहा है।

आज दोपहर तक रेस्क्यू ऑपरेशन काफी हद तक पूरा हो जाएगा। मैं वहां जाने की तैयारी कर रहा हूं।

बता दें कि बुधवार दोपहर में करीब 12 बजे जब ये हादसा हुआ तब किन्नौर जिले में निगुलसरी के पास सड़क से गुजर रहे कई वाहन इसकी चपेट में आ गए।

himachal pradesh kinnaur landslide so far 15 people died many missing 

पहाड़ से पत्थर गिरने के कारण मलबे में बस, कार, ट्रक दब गए।  इसी मलबे के कारण बस गहराई में जा गिरी,

लेकिन गनीमत की बात ये रही कि नीचे सतलुज नदी में जाने से बच गई।हिमाचल प्रदेश में लगातार लैंडस्लाइड की घटनाएं हो रही हैं।

Twitter ने कांग्रेस का अकाउंट भी किया ब्लॉक, जानियें सब कुछ

इससे पहले 25 जुलाई को किन्नौर जिले के बटसेरी में सांगला-छितकुल मार्ग पर पहाड़ी से दरकी चट्टानों की चपेट में एक पर्यटक वाहन आ गया था।

हादसे में टेंपो ट्रैवलर में सवार नौ पर्यटकों की मौत हो गई थी।

हादसा इतना भयानक था कि वाहन को चट्टानों ने हवा में ही उड़ा दिया था और 600 मीटर नीचे बास्पा नदी के किनारे दूसरी सड़क पर जा गिरा था।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × five =

Back to top button