breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीतिराज्यों की खबरें
Trending

सही समय आने पर जम्मू-कश्मीर को देंगे फिर राज्य का दर्जा,परिसीमन के बाद चुनाव संभव:पीएम मोदी

गौरतलब है कि साल 2019 में जम्मू-कश्मीर(Jammu and Kashmir) का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त कर दिया गया...

PM-Modi-at-all-party-meet-Jammu-and-Kashmir-to-become-state-again-At-Right-Time

नई दिल्ली:पीएम मोदी(PM Modi) ने जम्मू-कश्मीर(Jammu and Kashmir)के मुद्दे पर गुरुवार को अपने आवास पर सर्वदलीय बैठक(all party meet)बुलाई थी।

सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी दलों को आश्वासन दिया(PM Modi at all party meet) है कि सही समय आने पर जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा फिर से बहाल किया(Jammu and Kashmir to become state again At Right Time)जाएगा।

फिलहाल सरकार का जोर दिल्ली की दूरी के साथ दिलों की दूरी भी मिटाना है।

हालांकि इस मुद्दे पर बैठक के बाद उमर अब्दुल्ला(Omar Abdullah) ने कहा कि सिर्फ एक मुलाकात से दिलों की दूरी नहीं मिट सकती।

बातचीत का सिलसिला जारी रहना चाहिए।

सर्वदलीय बैठक में जम्मू-कश्मीर के सभी चार पूर्व मुख्यमंत्रियों सहित कुल 14 नेता शामिल हुए। यह बैठक तीन घंटे तक चली।

इस बैठक पीएम मोदी सहित उप राज्यपाल मनोज सिन्हा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री जीतेंद्र सिंह और एनएसए अजीत डोभाल ने भी शामिल हुए।

गौरतलब है कि साल 2019 में जम्मू-कश्मीर(Jammu and Kashmir) का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त कर दिया गया।

अब सूत्रों के अनुसार,इस बैठक में पीएम ने सभी प्रतिभागियों के सुझावों और इनपुट को धैर्यपूर्वक सुना।

उन्होंने इस बात पर खुशी जताई कि सभी प्रतिभागियों ने अपने स्पष्ट और ईमानदार विचार शेयर किए।

PM-Modi-at-all-party-meet-Jammu-and-Kashmir-to-become-state-again-At-Right-Time

यह एक खुली चर्चा थी जोकि कश्मीर के बेहतर भविष्य के निर्माण के इर्द-गिर्द घूमती थी।

सूत्रों की मानें तो इस मीटिंग का मुख्य फोकस लोकतांत्रिक प्रक्रिया को मजबूत करना था।

पीएम ने बताया कि हम जम्मू-कश्मीर में लोकतांत्रिक प्रक्रिया के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं।

उन्होंने जोर देकर कहा कि डीडीसी चुनावों(DDC elections)के सफल संचालन की तरह ही विधानसभा चुनाव(Assembly elections) कराना प्राथमिकता है।

यह चर्चा की गई कि चुनाव परिसीमन के तुरंत बाद हो सकते हैं और कुल मिलाकर अधिकांश प्रतिभागियों ने इसके लिए इच्छा व्यक्त की।

पीएम ने जमीनी स्तर पर लोकतंत्र को मजबूत करने और जम्मू-कश्मीर के लोगों के साथ मिलकर काम करने की आवश्यकता पर जोर दिया ताकि उनका उत्थान सुनिश्चित हो सके।

पीएम ने कहा कि वह दिल्ली की दूरी के साथ-साथ दिल की दूरी को भी हटाना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री ने सभी प्रतिभागियों द्वारा समर्थित संविधान और लोकतंत्र के प्रति प्रतिबद्धता पर प्रसन्नता व्यक्त की।

PM-Modi-at-all-party-meet-Jammu-and-Kashmir-to-become-state-again-At-Right-Time

पीएम मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में एक मौत भी दर्दनाक है और हमारी युवा पीढ़ी की रक्षा करना हमारा सामूहिक कर्तव्य है।

उन्‍होंने जोर देकर कहा कि हमें जम्मू-कश्मीर के अपने युवाओं को अवसर देने की जरूरत है और वे हमारे देश को बहुत कुछ देंगे।

जम्मू-कश्मीर द्वारा हासिल किए गए विकास पर कई जन-समर्थक पहलों के कार्यान्वयन के साथ विस्तार से चर्चा की गई।

PM-Modi-at-all-party-meet-Jammu-and-Kashmir-to-become-state-again-At-Right-Time

प्रधानमंत्री ने जम्मू-कश्मीर में विकास की गति पर संतोष व्यक्त किया और कहा कि यह लोगों में नई आशा और आकांक्षाएं पैदा कर रहा है।

उन्‍होंने कहा कि जब लोग भ्रष्टाचार मुक्त शासन का अनुभव करते हैं, तो यह लोगों में विश्वास जगाता है और लोग प्रशासन को अपना सहयोग भी देते हैं और यह आज जम्मू-कश्मीर में दिखाई दे रहा है।

PM-Modi-at-all-party-meet-Jammu-and-Kashmir-to-become-state-again-At-Right-Time

पीएम ने कहा कि राजनीतिक मतभेद होंगे लेकिन सभी को राष्ट्रहित में काम करना चाहिए ताकि जम्मू-कश्मीर के लोगों को फायदा हो।

पीएम ने जोर देकर कहा कि जम्मू-कश्मीर में समाज के सभी वर्गों के लिए सुरक्षा और सुरक्षा का माहौल सुनिश्चित करने की जरूरत है।

पीएम ने कहा कि वह दिल्ली की दूरी के साथ-साथ दिल की दूरी को भी हटाना चाहते हैं।

PM-Modi-at-all-party-meet-Jammu-and-Kashmir-to-become-state-again-At-Right-Time

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + sixteen =

Back to top button