breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराज्यों की खबरें

Delhi: गर्मी ने तोड़ा 76 साल का रिकॉर्ड,मार्च में पारा गया 40 के पार

जबकि अभी दिल्ली में मई-जून की कहर बरपाने वाली गर्मी आनी है। लेकिन भीषण गर्मी की दस्तक मार्च से ही शुरु हो चली है...

नई दिल्लीःDelhi:Heat breaks 76-year record-अकेले मार्च में ही दिल्ली की गर्मी ने बीते 76 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

आलम यह है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में होली के दिन दिल्ली में अधिकतम तापमान 40 डिग्री के भी पार चला गया, जोकि 76 सालों में मार्च में सर्वाधिक है।

इस तरह दिल्ली में मार्च के ही महीने में गर्मी ने 76 सालों का रिकॉर्ड तोड़(Delhi:Heat breaks 76-year record)दिया और सोमवार,होली के दिन अधिकतम तापमान 40.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

जबकि अभी दिल्ली में मई-जून की कहर बरपाने वाली गर्मी आनी है। लेकिन भीषण गर्मी की दस्तक मार्च से ही शुरु हो चली है।

मौसम विभाग ने इस बात की जानकारी दी है। बकौल भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि सफदरजंग मौसम विभाग ऑफिस ने अधिकतम तापमान 40.1डिग्री सेल्सियस(Mercury crossed 40-degree in march)दर्ज किया, जो सामान्य से आठ डिग्री ज्यादा है।

उन्होंने कहा, ”यह 31 मार्च 1945 के बाद से सबसे गर्म दिन था, जब अधिकतम तापमान 40.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।”

कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया है कि, ”बीते 3 से 4 दिनों से हवा की गति कम होने और आसमान साफ होने के चलते कड़ी धूप निकलने को लेकर अधिक तापमान दर्ज किया गया।”

दिल्ली(Delhi) में 29 मार्च 1973 को अधिकतम तापमान 39.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो मार्च में तीसरा सबसे गर्म दिन(Heat breaks 76-year record) था।

आईएमडी ने कहा कि नजफगढ़, नरेला, पीतमपुरा और पूसा में अधिकतम तापमान 41.8 डिग्री सेल्सियस, 41.7 डिग्री सेल्सियस, 41.6 डिग्री सेल्सियस और 41.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. शहर का न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस अधिक 20.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

तापमान घट सकता है

विभाग के अनुसार, मैदानी इलाकों में जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो जाता है और सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक हो, तब उसे ‘लू’ घोषित किया जाता है।

वहीं, तापमान सामान्य से 6.5 डिग्री सेल्सियस अधिक हो जाने पर प्रचंड लू की घोषणा की जाती है।

श्रीवास्तव ने कहा कि मंगलवार को 35 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवाएं चलने से अधिकतम तापमान घट कर करीब 38 डिग्री सेल्सियस हो जाएगा।

वहीं, मौसम विभाग ने असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के लिए ‘आरेंज अलर्ट’ जारी करते हुए इन पूर्वोत्तर राज्यों में गरज के साथ वर्षा और बूंदाबांदी होने का पूर्वानुमान जारी किया है।

मौसम विभाग ने 2 अप्रैल तक पूर्वोत्तर भारत में तेज वर्षा होने का भी पूर्वानुमान किया है।

 

Delhi:Heat breaks 76-year record

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four − three =

Back to top button