breaking_newsअन्य ताजा खबरेंचटपट चुटकले व शायरीदिल की बात

दिल शायरी-आप को इस दिल में उतार लेने को जी चाहता है…

खूबसूरत से फूलो में डूब जाने को जी चाहता है, आपका साथ पाकर हम भूल गए सब मयखाने,क्योकि....

Dil shayri mohabbat shayaris love breakup sayari indian shayari  

आप को इस दिल में उतार लेने को जी चाहता है
खूबसूरत से फूलो में डूब जाने को जी चाहता है
आपका साथ पाकर हम भूल गए सब मयखाने क्योंकि
उन मयखानों में भी आपका ही चेहरा नज़र आता है….

इश्क शायरी – ख़ुदा खुश हो जाए तो सरताज़ बना देता है…

इश्क शायरी – ख़ुदा खुश हो जाए तो सरताज़ बना देता है…

ख़ुदा खुश हो जाए तो सरताज़ बना देता है…

और नाराज़ हो जाए तो मोहताज़ बना देता है..!

और मेरा खुदा मेरा इश्क मेरी मोहब्बत है…

मोहब्बत शायरी : जो ढल जाये वो शाम होती है…

मोहब्बत शायरी : जो ढल जाये वो शाम होती है…

जो ढल जाये वो शाम होती है
जो ख़त्म हो जाये वो ज़िन्दगी होती है…

जो मिल जाये वो मौत होती है
और जोनमिले वो मोहब्बत होती है…

शायरी- मोहब्बत का रुतबा तुम क्या जानो जनाब… Dil shayri mohabbat shayaris love breakup sayari indian shayari  

शायरी- मोहब्बत का रुतबा तुम क्या जानो जनाब…

मोहब्बत का रुतबा

तुम क्या जानो…जनाब

अगर तुम्हारे लफ्जों में दर्द है

तो मेरी आंखों में इश्क है….

शायरी : लब तो खामोश रहेंगे, ये वादा है मेरा तुमसे…

लब तो खामोश रहेंगे
ये वादा है मेरा तुमसे…
अगर कह बैठी कुछ निगाहें
तो खफा मत होना !

दर्द शायरी : दर्द के बाजार में खूब तरक्की कमा रहा हूँ….

दर्द के बाजार में

खूब तरक्की कमा रहा हूँ….

पहले छोटी से दूकान थी

अब शोरूम चला रहा हूँ….

कदम कदम पर इम्तिहान रखती है..

ऐ जिंदगी तू मेरा कितना ध्यान रखती है..!!

इश्क शायरी : नयनों से नैन मिलाकर, महोब्बत का इजहार करूँ

खुद से जीतने की जिद है मुझेखुद को ही हराना है..

मैं भीड़ नहीं हूँ दुनिया कीमेरे अन्दर एक जमाना है..!!

दारुबाजों की शायरी : “नशा” “मोहब्बत” का हो “शराब” का हो …

यह शायरियां भी पढ़े : 

दिलवालों की शायरी : नजरअंदाजी शौक बडा़ था उनको हमने भी तोहफे में उनको..

मोहब्बत शायरी : ऐ मोहब्बत… तुम्हारे मुस्कुराने का असर मेरी सेहत

जिंदगी-शायरी : मिलो किसी से ऐसे कि ज़िन्दगी भर की पहचान बन जाये…..

शायरी : लफ़्ज़ों में हो हर बात जरूरी तो नहीं…

शायरी : कल शीशा था सब देख-देख कर जाते थे….

मोहब्बत-शायरी : कुछ इस अदा से निभाना है किरदार मेरा मुझको….

बहुत खूबसूरत है आँखें तुम्हारी
इन्हें बना दो किस्मत हमारी
हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ
अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी

दीवानों की शायरी : एक ही चेहरे की अहमियत हर एक नजर में अलग सी क्यूँ है..

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button