breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंफैशनलाइफस्टाइल
Trending

‘मंगल’ ग्रह कर रहा है ‘अमंगल’..? तो आजमायें यह अचूक उपाय

अगर कोई भी ग्रह दोष हो तो उन्हें दूर किया जा सकता है.

mangal dosh upay mangal mantra in hindi navgrah shanti upay mangal ki shanti

 अगर आप मंगली हो या फिर मंगल ग्रह के वजह से परेशानियों का सामना कर रहे होl

तो आप यह लेख जरुर पढ़े l दोस्तों ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हर ग्रह का असर हमारे जीवन पर जरुर होता है l

आप जब पैदा होते है तो जो ग्रहों की स्थिति होती है उसी से आपके भाग्य का, आपके आने वाले जीवन का लेखा-जोखा होता है l

कुल मिलाकर आपके ग्रह आपका भविष्य तय करते है l पैदा होना हमारे हाथ में नहीं है l

इश्क शायरी : इश्क़ जब इबादत बन जाता है तो खुदा खुद हमारे इश्क़ की

पर जन्म लेने के बाद अगर ग्रह दोष हो तो उन्हें दूर किया जा सकता हैl हमारे जो नवग्रह है वो इस प्रकार हैl 

mangal dosh upay mangal mantra in hindi navgrah shanti upay mangal ki shanti

सूर्य, बृहस्पति, शनि, मंगल, बुध, शुक्र, चंद्रमा, राहु, केतु

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नवग्रहों की शांति के लिए विशेष मंत्र बताये गए है l 

मान्यता कि इन मंत्रों का विधि पूर्वक जाप करने से नवग्रह शांत होते हैं,

और जीवन में आने वाली बाधांए और परेशानियां दूर होती हैं l शास्त्रों में ग्रहों की शांति को अति महत्वपूर्ण बताया गया है,

 thoughts:भगवान कहते है जीवन में कभी मौक़ा मिले…

ग्रह जब अशांत और अशुभ होते हैं तो जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है l

आज से हम हर दिन एक ग्रह को शांत करने व आने वाले दिनों में उस ग्रह से होने वाली बाधाओं को कैसे दूर करें इसके बारें में बताएँगे l

सबसे पहले हम मंगल ग्रह के दोष व निवारण के बारें में बताएँगे l

मंगल, लाल ग्रह मंगल के देवता हैं। मंगल ग्रह को संस्कृत मेंअंगारक  भी कहा जाता है (‘जो लाल रंग का है’) या भौम (‘भूमि का पुत्र’) l

वह युद्ध के देवता हैं और ब्रह्मचारी हैं। उन्हें पृथ्वी, या भूमि अर्थात पृथ्वी देवी की संतान माना जाता है।

वह वृश्चिक और मेष राशि के स्वामी हैं और मनोगत विज्ञान (रुचका महापुरुष योग) के एक शिक्षक हैं।

mangal dosh upay mangal mantra in hindi navgrah shanti upay mangal ki shanti

उनकी प्रकृति तमस गुण वाली है और वे ऊर्जावान कार्रवाई, आत्मविश्वास और अहंकार का प्रतिनिधित्व करते हैं।

उन्हें लाल रंग या लौ के रंग में रंगा जाता है, चतुर्भुज, एक त्रिशूल, मुगदर, कमल और एक भाला लिए हुए चित्रित किया जाता है। उनका वाहन एक भेड़ा है। वे ‘मंगल-वार’ के स्वामी हैं।

मंगल दोष व उपाय:   

मंगल को एक क्रूर ग्रह माना गया है, इस वजह से कई मंगली लोगों की शादी में काफी अडचने आती है l

mangal dosh upay mangal mantra in hindi navgrah shanti upay mangal ki shanti

इतना ही नहीं अगर मंगल दोष दूर नहीं किया गया तो इसके काफी अशुभ प्रभाव देखने को मिल सकते है l जैसे 

  •  घर में चोरी होने का डर
  • आकस्मिक एक्सीडेंट/मौत अकाल मृत्यु की आशंका
  • घर-परिवार में लड़ाई-झगड़े की आशंका
  • भाई के साथ संबंधों में अनबन 
  • दांपत्य जीवन में तनाव 

मेरे एक मित्र है जो इन ग्रहों पर विश्वास नहीं रखते है उनका कहना है जो होना है होगा l

पर मैंने उन्हें एक तर्क दिया की अगर आप  ग्रहों के दोष निवारण करेंगे तो उससे आपका नुकसान क्या है l

mangal dosh upay mangal mantra in hindi navgrah shanti upay mangal ki shanti

उनके पास इस बात का कोई उत्तर नहीं था l तो दोस्तों मेरा मानना है की

अगर किसी काम को करने से हमें कोई हानि नहीं होती l और शायद उस काम को करने से हमें फ़ायदा हो सकता है तो जरुर कर लेना चाहिए l

मैंने मेरे दोस्त की कुंडली अपने ज्योतिष को दिखाईं देखने के बाद उसमे मंगल ग्रह का दोष था l

फिर हमने मंगल ग्रह को शांत व दोष दूर करने के कुछ आसान उपाय कियें l

चमत्कारी रूप से उस दोस्त को इस वजह से काफी फायदा हुआ l सबसे बड़ा फायदा उसकी शादी नहीं हो रही थी जो हो गयी l

mangal dosh upay mangal mantra in hindi navgrah shanti upay mangal ki shanti

तो दोस्तों अगर आप मंगल ग्रह के दोष को दूर करना चाहते है या फिर मंगल ग्रह को शांत करना चाहते है तो तुरंत करें यह आसान उपाय :

  • मंगल की अशुभता को दूर करने के लिए हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए l
  • मंगलवार को सुंदरकांड या हनुमान चालीसा का पाठ करने से आराम मिलता है l
  • मंगलवार के दिन आप केसरिया वस्त्र पहन सकते है l
  • केसरिया वस्त्र नहीं पहनसकते तो एक केसरिया रुमाल/कपड़ा आप अपने पास रख सकते है l
  • मूंगा रत्न पहनने से भी मंगल ग्रह को शांत करने में काफी सहायता मिलती है l
  • अविवाहित पुरुष/महिला के लिए मूंगा रत्न पहनना एक बेहद ही अचूक उपाय है l
  • मंगल महादशा के निवारण के लिए “ऊँ अं अंगारकाय नम:” मंत्र जाप से अच्छा परिणाम प्राप्त होता है l

  • ऊं हं हनुमते रूद्रात्मकाय हुं फट कपिभ्यो नम: का 1 माला जाप भी कर सकते है l
  •  400 ग्राम चावल दूध से धोकर 14 दिन तक पिवत्र जल में प्रवाहित करें
  • घर में नीम का पौधा लगायें
  • बहन, बेटी, मौसी, बुआ, साली को मीठा खिलायें
  • बहन, बुआ को कपड़े भेंट न दें
  • तंदूर की बनी रोटी कुत्तों को खिलायें

मंगल का मंत्र :- ऊँ  अं अंगारकाय नम:

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × four =

Back to top button