breaking_newsअन्य ताजा खबरेंटेक न्यूजटेक्नोलॉजीफैशनलाइफस्टाइलहाउ टू
Trending

क्या आप बच्चा भी दिनभर चलाता है मोबाइल?खतरनाक है ये,ऐसे करे कंट्रोल

बच्चों के लिए ज्यादा समय तक मोबाइल पर चिपके रहना न केवल खतरना है बल्कि उनके दिमागी क्षमता को भी कमजोर बनाने में अहम भूमिका निभाता है।

how-to-keep-child-away-from-mobile

नई दिल्ली:कोरोना महामारी ने ऑनलाइन(Online)रहना मजबूरी बना दिया है।

वैसे भी बच्चे आज के समय में कभी कार्टून, तो कभी गेम्स खेलने के लिए पूरा दिन मोबाइल चलाते ही रहते है

और अब कोरोना महामारी के कारण स्कूल बंद होने और ऑनलाइन क्लासेज का कल्चर बढ़ने से बच्चे और ज्यादा अपना समय मोबाइल(Mobile)पर बिताने लगे है।

नतीजा यह है कि कई बच्चों को पूरा दिन मोबाइल चलाने की लत सी ही पड़ गई है।

अगर आपका बच्चा भी उनमें से एक है तो यह खबर आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकती है।

बच्चों के लिए ज्यादा समय तक मोबाइल पर चिपके रहना न केवल खतरना है बल्कि उनके दिमागी क्षमता को भी कमजोर बनाने में अहम भूमिका निभाता है।

how to keep child away from mobile-2-min

इसलिए जरुरी है कि आप समय रहते अपने बच्चें की दिनभर मोबाइल चलाने की आदत को बदलें।

आपकी इसी परेशानी को समझते हुए आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे है,जिनकी हेल्प से आप अपने बच्चों को मोबाइल से दूर रख(tips-to-distract-child-from-mobile)सकते है और सिर्फ तभी दे सकते है जब उन्हें बहुत ज्यादा जरुरत हो:

how-to-keep-child-away-from-mobile:

मोबाइल इस्तेमाल का टाइम सेट करें – वर्तमान में बच्चों को मोबाइल या स्मार्टफोन से दूर रखना काफी हद तक मुश्किल हो गया है लेकिन अगर आप अपने बच्चे का मोबाइल इस्तेमाल करने का एक टाइम-टेबल बना लेंगे तो उसे ज्यादा देर तक मोबाइल पर चिपके रहने की लत से छुटकारा मिल जाएगा और आपका बच्चा केवल आपके द्वारा सेट किए गए टाइम पर ही फोन का इस्तेमाल करेगा। अपने बच्चों को खाना खाते समय,किताबों को पढ़ते समय बिल्कुल भी मोबाइल न दें।

 

बच्चों को आउटडोर गेम्‍स खिलाएं – आजकल के हालातों में बच्चो का बाहर जाकर खेलना बंद हो गया है। महामारी के चलते माता-पिता बच्चों को बाहर खेलने की इजाजत नहीं दे पा रहे।

ऐसे में बच्चों को पूरा दिन घर के अंदर ही बिताना पड़ रहा है। नतीजा,बच्चों को अपना टाइम पास करने के लिए स्मार्टफोन का सहारा लेना पड़ रहा है। पूरा दिन फोन पर गेम्स,वीडियोज और चैट्स के कारण बच्चों को स्मार्टफोन की आदत पड़ती जा रही है।

इसलिए जरुरी है कि आप अपनी निगरानी में बच्चों को घर के बाहर आउटडोर गेम खेलने के लिए लेकर जाएं। रोजाना बच्चों को पार्क ले जाकर खिलाने से उनकी फोन पर ज्यादा टाइम बिताने की लत छूट सकती है।

how-to-keep-child-away-from-mobile

अपने फोन में पिन या पासवर्ड का इस्तेमाल करें – बच्चे बड़ो के फोन को अक्सर उनकी गैरमौजूदगी में ही ज्यादा यूज करते है। ऐसे में जरुरी है कि आप अपने फोन को पिन या पासवर्ड से लॉक करके रखें।

ताकि जब आप आसपास न हो तो भी आपका बच्चा आपके फोन पर अपना समय बर्बाद न करें। इससे उनकी पूरा दिन फोन यूज करने की लत छूट जाएगी।

आप उन्हें फोन के ज्यादा इस्तेमाल के दुष्प्रभाव बताकर उनके साथ घर में ही अन्य इनडोर गेम्स मसलन-बोर्ड गेम,कुकिंग या फिर बागवानी खेल सकते है।इससे बच्चों की फोन पर चिपके रहने की आदत खत्म हो जाएगी।

 

 

प्रकृति से प्यार​ – साफ-सुथरी हवा प्रकृति की गोद से ही मिल सकती है। प्रकृति न केवल हमें सकारात्मकता देती है बल्कि एक प्राकृतिक थेरेपी का भी कार्य करती है।

इसलिए बच्चों में फोन की लत छुड़ाने के लिए आप उन्हें घर के बने गार्डन में लेकर जा सकते है,जहां बच्चे एंजॉय कर सकते है।

अगर आप घर में ही गार्डन नहींं बना सकते तो बच्चो को पार्क में खेलने के लिए ले जा सकते है और उन्हें दूसरे बच्चों के साथ मौज-मस्ती करने का मौका दे सकते है।

how-to-keep-child-away-from-mobile

Show More

Reena Arya

रीना आर्य www.samaydhara.com की फाउंडर और एडिटर-इन-चीफ है। रीना आर्य ने पत्रकारिता के महज 6-7 साल के भीतर ही अपने काम के दम पर न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपनी पहचान बनाई बल्कि तमाम चुनौतियों और पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए समयधारा.कॉम की नींंव रखी। हर मुद्दे पर अपनी ज्वलंत और बेबाक राय रखने वाली रीना आर्य एक पत्रकार, कंटेंट राइटर,एंकर और एडिटर की भूमिका निभा चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 4 =

Back to top button