breaking_newsअन्य ताजा खबरेंटेक न्यूजटेक्नोलॉजीदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंफैशनलाइफस्टाइलहेल्थ
Trending

SmartPhone की लत से कही आप भी अवसाद की बीमारी से पीड़ित न हो जाए…?

भावानात्मक रूप से कमजोर व चिंता व अवसाद से पीड़ित लोगों में स्मार्टफोन की लत पड़ने की संभावना ज्यादा होती है

smartphone habit is a good habit or an addiction which is dangerous for health 

नई दिल्ली  (Health News 24/7) : क्या आप जानते है..? स्मार्टफ़ोन(SmartPhone)-मोबाइल(Mobile) की लत/आदत का क्या है सबसे बड़ा कारण..?

SmartPhone की आदत से कही आप भी इस बीमारी से पीड़ित न हो जाए…? 

एक सर्वे के अनुसार कोरोना के भयावह साल 2020/21 में मोबाइल की आदत से ज्यादा लोग चपेट में आ गए हैl 

आज देश में ही नहीं पूरी दुनिया  में लोगों को मोबाइल की आदत हो गयी है l

बहुत लोगों के लिए मोबाइल-स्मार्टफोन उनका जीवन है, उनकी लिए यह एक अच्छी बात है l

पर बहुत लोगों के लिए यह ऐसी आदत बन गयी है जिसकी वजह से उन्हें उसका नुकसान उठाना पड़ रहा हैl 

सबसे ज्यादा भावानात्मक रूप से कमजोर व चिंता व अवसाद से पीड़ित लोगों में स्मार्टफोन की लत पड़ने की संभावना होती है।

भारत में हर 10 इंसान में से 1 व्यक्ति को है यह रोग, हो सकता है कैंसर-पढ़ें यह रिपोर्ट

वही एक अन्य शोध में पाया गया है कि आजकल अकेलेपन का शिकार व्यक्ति भी मोबाइल की चपेट में आ गया हैl

smartphone habit is a good habit or an addiction which is dangerous for health 

उसका अकेलापन उसे मोबाइल की तरफ खिंच लाता है और उसे फिर स्मार्टफोन की लत लग जाती हैl

एप/सोशल मीडिया साईट मोबाइल की लत लगाने का सबसे बड़ा कारण है l 

शोध में पाया गया है कि भावनात्मक रूप से कम स्थिर होना स्मार्टफोन व्यवहार से जुड़ा हुआ है।

ऐसे लोग जो अपने मानसिक स्वास्थ्य से संघर्ष करते हैं, उनमें अपने स्मार्टफोन के इस्तेमाल की संभावना ज्यादा होती है।

वह फोन का इस्तेमाल चिकित्सा पद्धति के रूप में करते हैं। इसी तरह कम ईमानदार व्यक्ति के फोन के इस्तेमाल करने की लत ज्यादा होने की संभावना होती है।

निष्कर्षो से पता चलता है कि चिंता का स्तर बढ़ने से स्मार्टफोन का इस्तेमाल भी बढ़ता है।

ब्रिटेन के डर्बी विश्वविद्यालय में मनोविज्ञान के प्रवक्ता जहीर हुसैन ने एक बयान में कहा,

“समस्या से जूझ रहे लोगों में स्मार्टफोन का इस्तेमाल पहले के विचार की तुलना में ज्यादा जटिल है,

और हमारे शोध में स्मार्टफोन के इस्तेमाल पर विभिन्न प्रकार के मनोवैज्ञानिक कारकों के परस्पर प्रभाव को उजागर किया गया है।”

smartphone habit is a good habit or an addiction which is dangerous for health 

(इनपुट समयधारा के पुराने पन्नो से)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × two =

Back to top button