breaking_newsअन्य ताजा खबरेंराजनीतिक खबरेंविश्व
Trending

अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडन ने बदला ट्रंप का फैसला,WHO में दोबारा शामिल होगा US

ट्रंप सरकार ने WHO पर लगातार कोरोनावायरस(Coronavirus) को लेकर चीन का पक्ष लेने का आरोप लगाते हुए खुद को अलग कर लिया था...

US will rejoin WHO-New US President Joe Biden change Trump decision

अमेरिका में सत्ता बदली तो साथ ही अब पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के लिए गए फैसले भी बदले जा रहे है।अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन(Joe Biden) ने घोषणा की है कि अमेरिका दोबारा से विश्व स्वास्थ्य संगठन में शामिल (US will rejoin WHO)होगा। 

ट्रंप (Trump) ने राष्ट्रपति रहते हुए डब्ल्यूएचओ (WHO) से अमेरिका को अलग कर दिया था लेकिन अब नए राष्ट्रपति जो बाइडन ने उनका फैसला बदल (New US President Joe Biden change Trump decision)दिया है कि अमेरिका फिर से विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) में शामिल होगा।

 साथ ही अमेरिका (United States) के  नए राष्ट्रपति बाइडन ने  चीन (China) को कड़ा संदेश देते हुए कहा है वह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि चीन नियम के हिसाब से चले।

इससे पूर्व ट्रंप सरकार ने WHO पर लगातार कोरोनावायरस(Coronavirus) को लेकर चीन का पक्ष लेने का आरोप लगाते हुए खुद को अलग कर लिया था।

गौरतलब है कि पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अप्रैल में घोषणा की थी कि अमेरिका WHO से हट जाएगा। अमेरिका ने आरोप लगाया था कि WHO ने कोरोनावायरस को लेकर दुनिया को गुमराह किया और वह चीन के पक्ष में काम कर रहा है।

जिसके कारण इस वायरस से दुनिया भर में लाखों लोगों की जान गई। बाइडन ने कहा कि उनका प्रशासन पहले दिन से ही विश्व स्वास्थ्य संगठन में फिर से शामिल होने जा रहा है। हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि बाकी दुनिया और हम एक साथ मिलकर काम करें।

 

US will rejoin WHO-New US President Joe Biden change Trump decision

चीन को दिया सख्त संदेश

यूएस के नए राष्ट्रपति बाइडन ने इस एलान के साथ ही कहा कि चीन को नियमों का पालन करना होगा और उसी के अनुसार काम करना पड़ेगा।

दरअसल, राष्ट्रपति चुनाव की बहस के दौरान उनके बयान को लेकर पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने यह बात कही। उनसे पूछा गया था कि क्या दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था (world second largest economy) चीन पर वो आर्थिक प्रतिबंध (economic sanctions) या टैरिफ (tariffs) लगाएंगे।

इसके जवाब में बाइडन ने कहा था कि जिस तरह से चीन बर्ताव कर रहा है, वह उसे दंडित करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि यह सिर्फ चीन को दंडित करने के बारे में नहीं है, बल्कि उसे यह समझाना भी है कि उसे नियमों के तहत ही चलना होगा। यह एक आसान प्रस्ताव है।

 

US will rejoin WHO-New US President Joe Biden change Trump decision

ट्रंप काल में सबसे बदत्तर रहे अमेरिका-चीन के रिश्ते

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के कार्यकाल में चीन के साथ अमेरिका के रिश्ते सबसे बदत्तर रहे है। अपने कार्यकाल के दौरान ट्रंप ने अमेरिका-चीन संबंधों के सभी पहलुओं पर आक्रामक रुख अख्तियार किया।

जिसमें विवादित दक्षिण चीन सागर पर चीन की सैन्य पकड़ को चुनौती देना और कोरोना वायरस महामारी को चीनी वायरस के रूप में पेश करना शामिल है।

वहीं, चीनी के रणनीतिक विशेषज्ञों का मनना है कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन से उम्मीद की जा रही है कि वे दोनों देशों के बीच उच्च स्तरीय कंप्यूनिकेशन को फिर से बहाल करने पर काम करेंगे।

(इनपुट एजेंसी से भी)

US will rejoin WHO-New US President Joe Biden change Trump decision

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 − one =

Back to top button