breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराज्यों की खबरें
Trending

महाराष्ट्र कोरोना व गणेश उत्सव, जाने कैसा होगा इस बार बाप्पा का स्वागत

कोरोना का असर इस बार महाराष्ट्र के गणपति महोत्सव पर भी देखने को मिलेगा, राज्य में महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मुंबई के कई प्रसिद्ध गणेश मंडलों की तैयारियां अटक गई हैं.

corona-overshadowed ganesh-utsav  ganapati-mandal-will-focus-on-virtual-philosophy

मुंबई (समयधारा) : देश भर में कोरोना का कहर तो जारी है l पर महाराष्ट्र में इसका रोद्र रूप देखा जा रहा है l

इसमें  भी देश की आर्थिक राजधानी मुंबई के हालात तो दिन ब दिन बहुत बुरे होते जा रहे है l 

महाराष्ट्र व मुंबई का सबसे बड़ा त्यौहार गणेशोत्सव की तैयारी मुंबई में 5 से 6 महीने पहले ही शुरू हो जाती है l

पर इस बार कोरोना का असर इस त्यौहार पर साफ़ देखा जा सकता है l गणेशोत्सव ऐसा मौका होता है जब मुंबई में सबसे ज्यादा उत्सव का माहौल होता है।

पूरी की पूरी मुंबई गणपति बप्पा मोरया के नारों में रंग जाती है l  पर इस साल करोना ने इसके रंग में भंग डालने का काम किया है l  

कोरोना का असर इस बार महाराष्ट्र के गणपति महोत्सव पर भी देखने को मिलेगा।

राज्य में महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मुंबई के कई प्रसिद्ध गणेश मंडलों की तैयारियां अटक गई हैं।

परेल के गणेश गल्ली ने इस साल चंदा नहीं लेने का फैसला किया है। साथ ही समिति इस साल वर्चुअल दर्शन पर फोकस कर रही है।

राज्य के हालात को देखते हुए मुंबई के सबसे अमीर गणपति मंडल माने जाने वाले,

वडाला GSB गणेशोत्सव समिति ने भी गणेश महोत्सव को फरवरी तक के लिए टाल दिया है।

corona-overshadowed ganesh-utsav  ganapati-mandal-will-focus-on-virtual-philosophy

11 दिनों के गणेशोत्सव में हर साल डेढ़ से दो लाख श्रद्धालू मंडल में बाप्पा के दर्शन के लिए आते हैं।

ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग की गाइडलाइंस का पालन कर पाना मंडल के लिए मुश्किल होगा।

GSB मंडल अब 15 फरवरी 2021 यानी गणेश जयंती को धूमधाम से मनाएगा।

गणेशोत्सव सिर्फ भक्ति ही नहीं, कारोबार के लिए भी एक बड़ा मौका होता है।

गणपति बप्पा की मूर्ति, पूजा सामग्री, डेकोरेशन, मिठाइयां, ड्राइ फ्रूट्स, ज्वेलरी, टेंट, कैटरिंग,

सिक्योरिटी और बीमा कंपनियों के लिए भी सीजनल बिज़नेस का अवसर होता है, जो इस साल मंदा रहेगा।

तो इस बार गणेशोत्सव की धूम फीकी रहेगी l लोग पंडालों में दर्शन के लिए न के बराबर जायेंगे अभी तक कोरोना का कहर कम होने का नाम ही नहीं ले रहा l 

आज कोरोना के भारत में हालात इस प्रकार है l

corona-overshadowed ganesh-utsav  ganapati-mandal-will-focus-on-virtual-philosophy

देश में  कोरोना वायरस की वजह से हालात दिन ब दिन खराब होते जा रहे है l

देश में आज लॉकडाउन 4 का अंतिम दिन है l अब कल से अनलॉक 1 की शुरुआत होगी l 

कोरोना से महाराष्ट्र,तमिलनाडु,गुजरात,दिल्ली सहित कई राज्यों में स्थिति बद से बदतर होती जा रही है l   

पिछले 24 घंटे में कोरोना के कुल 8,380 नए केस से देशभर में चिंता की लहर l

देश में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 1,82,143 हो गयी है l  इसमें से 89,995 एक्टिव केस  हैl 

पिछले 24 घंटे में 193 लोगों की मौत हो चुकी है l इसे मिलाकर कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 5164 हो गयी है l 

पिछले 24 घंटे में 4,164 मरीज ठीक हुए है l अभी तक करीब 86,984 मरीज ठीक हो चुके हैl

corona-overshadowed ganesh-utsav  ganapati-mandal-will-focus-on-virtual-philosophy

राज्यों में महाराष्ट्र- 62,228 मरीजों के साथ अभी भी देश में नंबर एक की पोजीशन पर अभी बना हुआ है l
इसके पीछे तमिलनाडू-20246, दिल्ली-17386, गुजरात-15934, राजस्थान-8365, मध्य प्रदेश-7645, और उत्तरप्रदेश-7284 सहित कई राज्य आते है l  

भारत में कोरोना से मचेगा हाहाकार.! मरीजों की संख्या होगी 3 लाख पार..!! 

राज्यों के अनुसार कोरोना के कुल मरीजों की संख्या व मौतों का आंकड़ा इस प्रकार है l 
कोरोना बड़ी खबर : देश में कोरोना के मामले 30,000 के पार,मौत का आंकड़ा 937
Covid19 news-updates-in-hindi india-corona-Case 182143
  1. महाराष्ट्र – 65,168 मौतें – 2197
  2. तमिलनाडू – 21,184 मौतें – 160
  3. दिल्ली – 18,549 मौतें – 416
  4. गुजरात – 16,343 मौतें – 1,007
  5. राजस्थान – 8,617 मौतें – 193
  6. मध्य प्रदेश – 7,891 मौतें – 343
  7. उत्तर प्रदेश – 7,445 मौतें – 201
  8. वेस्ट बंगाल – 5,130 मौतें – 309
  9. बिहार – 3,636 मौतें – 20
  10. आंध्रप्रदेश – 3,569मौतें – 60
  11. कर्नाटक – 2,922 मौतें – 48
  12. तेलंगाना – 2,499 मौतें – 77
  13. जम्मू कश्मीर – 2,341 मौतें – 28
  14. पंजाब – 2,233 मौतें – 44
  15. ओडिशा – 1,923 मौतें – 7
  16. हरियाणा – 1,819 मौतें – 20
  17. केरल – 1,208 मौतें – 9
  18. असम – 1,185 मौतें – 4
  19. उत्तराखंड – 749 मौतें – 5
  20. झारखंड – 563 मौतें – 5
  21. छतीसगढ़ – 447, मौतें – 1
  22. हिमाचल प्रदेश – 313, मौतें – 5
  23. चंडीगढ़ – 289 मौतें – 3
  24. त्रिपुरा – 268 मौत – 0 (भारत 1 लाख का आंकड़ा पार करने वाला बना विश्व का 11वां देश)
  25. लद्दाख – 74 मौतें – 0
  26. गोवा – 70 मौत – 0
  27. मणिपुर – 62 मौत – 0
  28. पांडेचेरी – 51 मौत – 1
  29. अंडमान निकोबार – 33 मौतें – 0
  30. मेघालय – 27, मौते – 1
  31. नागालेंड -36 मौतें – 0 
  32. दादर नगर हवेली – 2 मौत – 0 
  33. अरुणाचल प्रदेश – 4 मौत – 0
  34. मिजोरम – 1 मौत – 0 

corona-overshadowed ganesh-utsav  ganapati-mandal-will-focus-on-virtual-philosophy

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty + five =

Back to top button