breaking_newsHome sliderदेशराजनीतिराज्यो की खबरें

पर्यटन जम्मू एवं कश्मीर के विकास का अभिन्न अंग, समस्याओं का एक ही समाधान-विकास : मोदी

श्रीनगर, 19 मई : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को हिंसा में शामिल कश्मीरी नौजवानों से घर वापस लौटने और शांति व सम्मान के साथ जिंदगी जीने की अपील की। मोदी ने श्रीनगर में शेर-ए-कश्मीर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र(एसकेआईसीसी) में कहा, “पीडीपी-भाजपा सरकार भटके हुए नौजवानों को उनके घर व परिजनों के पास वापस लाने का हरसंभव प्रयास कर रही है।”

मोदी ने यहां 330 मेगावाट की किशनगंगा जलविद्युत परियोजना का उद्घाटन किया और श्रीनगर रिंग रोड की आधारशिला रखी।

उन्होंने कहा, “युवकों को अपने परिवार के पास वापस लौटने का समय आ गया है। भटके हुए युवाओं द्वारा फेका जाने वाला प्रत्येक पत्थर जम्मू एवं कश्मीर के लोगों के दिल और दिमाग को दुख पहुंचाता है।”

मोदी ने कहा, “वे लोग जो सीमा पार से हिंसा फैलाने में मदद कर रहे हैं, खुद ही अलग-थलग पड़ जाएंगे। अटल बिहारी वाजपेयीजी ने हमेशा ‘कश्मीरियत’ का समर्थन किया और मोदी भी उसी ‘कश्मीरियत’ को मानने वाला है।”

उन्होंने कहा, “राज्य के लोग जानते हैं कि उन्हें कैसे शांति से नफरत करने वाली शक्तियों द्वारा धोखा दिया गया है। केंद्र सरकार ने इस मुश्किल घड़ी से बाहर निकलने का रास्ता तलाशने के लिए सभी पक्षों से बातचीत करने के लिए विशेष वार्ताकार की नियुक्ति की है।”

मोदी ने कहा, “सभी समस्याओं का एक ही समाधान है और वह विकास है। दुनिया के सभी हिसाग्रस्त देशों ने इसका इस्तेमाल किया और अपने लोगों को बचाया। वह समय जल्द आएगा जब जम्मू एवं कश्मीर पूरे देश में शांति और प्रगति का अग्रवाहक बनेगा।”

उन्होंने कहा, “रमजान का पवित्र महीना वह समय है, जब हम पैगंबर मुहम्मद की शिक्षाओं के प्रति खुद को समर्पित करते हैं। यह मेरा सौभाग्य है कि रमजान के पवित्र महीने में मैं यहां हूं।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि जो भी इस किशनगंगा परियोजना से जुड़ा हुआ था, उसकी सराहना किए जाने की जरूरत है, क्योंकि यह एक मुश्किल कार्य था।

मोदी ने कहा, “42 किलोमीटर लंबा श्रीनगर रिंग रोड संपर्क मुहैया कराने में एक बड़ी भूमिका निभाएगा, जोकि प्रगति और विकास के लिए जरूरी है।”

प्रधानमंत्री ने शनिवार को इस रिंग रोड की आधारशिला रखी है।

उन्होंने कहा, “पर्यटन जम्मू एवं कश्मीर के विकास का अभिन्न अंग है, लेकिन आज पर्यटन तेजी से बदल रहा है। आज पर्यटक ज्यादा पर्यावरण-प्रणाली और स्वच्छता पर ध्यान देते हैं, आप जितना इस पर ध्यान देंगे, पर्यटक यहां उतना ज्यादा आएंगे।”

मोदी ने कहा, “बेहतरीन सड़क निश्चित ही राज्य की सुंदरता बढ़ाती है। मैं खुश हूं कि राज्य के लोग खुद अपनी मदद करते हैं। मैंने हाल ही में एक वीडियो देखा, जिसमें पांच वर्षीय बच्ची जन्नत डल झील को साफ करते दिखाई दे रही है।”

उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर पुलिस जल्द ही 5,000 नौजवानों की भर्ती प्रक्रिया पूरी करेगी।

मोदी ने कहा, “सुरक्षा बलों ने यहां बाढ़ व प्राकृतिक आपदा के दौरान लोगों के लिए मदद का हाथ बढ़ाया। सुरक्षा बलों द्वारा दिए गए प्रत्येक बलिदान को याद रखा जाएगा।”

मोदी यहां के बाद शेर-ए-कश्मीर कृषि विज्ञान व प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में दीक्षांत समारोह को संबोधित करेंगे।

–आईएएनएस

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × five =

Back to top button