breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

अशोक गहलोत का पायलट पर तीखा प्रहार-मासूम चेहरे में धोखेबाज,निकम्‍मा-नाकारा

अशोक गहलोत ने आरोप लगाया है कि 'सचिन पायलट बीजेपी (BJP) के समर्थन से पिछले 6 महीनों से साजिश रच रहे थे...

जयपुर:Rajasthan political war Ashok gehlot accuses Sachin Pilot worthless-deceitful: राजस्थान की सियासी जंग (Rajasthan Poitical war) में अशोक गहलोत बनाम सचिन पायलट के बीच वाकयुद्ध में अब भाषा का स्तर भी गिरने लगा है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बागी और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट पर आरोप लगाया है कि पायलट बीते 6 महीनों से सरकार गिराने की कोशिश कर रहे थे।

वह निकम्मा है, नकारा है, कुछ काम नहीं कर (Rajasthan political war Ashok gehlot accuses Sachin Pilot worthless-deceitful) रहा। खाली लोगों को लड़वा रहा है।

गौरतलब है कि सत्ता को लेकर राजस्थान कांग्रेस (Rajasthan Congress) में काफी दिनों से घमासान मचा है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Rajasthan CM Ashok Gehlot)और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट  (Sachin Pilot) खेमे के बीज जुबानी जंग कोर्ट के अंदर और बाहर दोनों तरफ जारी है।

न्यूज एजेंसी ANI के अनुसार अशोक गहलोत ने आरोप लगाया है कि ‘सचिन पायलट बीजेपी (BJP) के समर्थन से पिछले 6 महीनों से साजिश रच रहे थे।

किसी ने भी मुझ पर विश्वास नहीं किया जब मैं कहता था कि सरकार को गिराने की साजिश चल रही है किसी को नहीं पता था कि इस तरह का मासूम चेहरे वाला व्यक्ति ऐसा काम करेगा।

उन्‍होंने जोर देकर कहा, ‘मैं यहाँ सब्जी बेचने वाला नहीं हूँ, मैं सीएम: राजस्थान का सीएम हूं।’

अशोक गहलेात (Ashok Gehlot) यहीं नहीं रुके और भड़कते हुए कहा कि, “एक छोटी खबर भी नहीं पढ़ी होगी किसी ने कि पायलट साहब को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के पद से हटाना चाहिए।

हम जानते थे कि वो (सचिन पायलट) निकम्मा है, नकारा (Rajasthan political war Ashok gehlot accuses Sachin Pilot worthless-deceitful) है, कुछ काम नहीं कर रहा है खाली लोगों को लड़वा रहा है।”

अशोक गहलोत ने कहा कि वह सात साल से प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष रहे लेकिन हममे से किसी ने भी उन्हें हटाने की मांग नहीं की।

गहलोत ने आगे कहा कि ऐसा इतिहास में पहली बार होगा कि पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष अपनी ही पार्टी की सरकार को गिराने के षडयंत्र में शामिल रहा।

उन्होंने हैरानी जताते हुए कहा, ‘‘जिस प्रदेशाध्यक्ष पायलट को प्रदेश में इतना सम्मान मिला वह कांग्रेस की पीठ में छुरा घोंपने को तैयार हो गया।” हमारे पास बहुमत है और सरकार को कोई बी दिक्कत नहीं है।

अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने रिपोर्ट्स से कहा कि, ‘‘राजस्थान एकमात्र ऐसा राज्य है जहां 7 साल में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को बदलने की कभी मांग नहीं हुई।

हमें पता था कि यहां कुछ नहीं हो रहा है। हम जानते थे कि वह ”निक्कमा” और ”नाकारा” है, फिर भी पार्टी हित को देखते हुए हमने कभी सवाल नहीं उठाया।”

 गहलोत ने कहा कि पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष के रूप में पायलट का सम्मान कैसे करना है, यह उन्होंने अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं को सिखाया क्योंकि पार्टी का प्रदेशाध्यक्ष मायने रखता है।

उन्होंने कहा कि किसी ने कभी उनके खिलाफ एक शब्द नहीं बोला फिर भी ‘‘वह व्यक्ति कांग्रेस की पीठ में छुरा घोंपने के लिए तैयार हो जाता है।”

हालांकि सचिन पायलट ने अशोक गहलोत के आरोपों पर कहा है कि ‘अपने खिलाफ लगाएं गए आरोपों से बेहद दुखी हूं,लेकिन हैरत नहीं है।‘

 

Rajasthan political war Ashok gehlot accuses Sachin Pilot worthless-deceitful

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 1 =

Back to top button