breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंहेल्थ
Trending

Covishield 780, Covaxin 1410, Sputnik v 1145 रुपये- प्राइवेट अस्पतालों में COVID-19वैक्सीन के रेट

केंद्र ने राज्यों से कहा है कि 150 रुपये सर्विस चार्ज से ज्यादा प्राइवेट अस्पताल न लें और इनकी निगरानी राज्य सरकारों को करनी है...

Covishield 780-Covaxin1410-Sputnik v 1145 maximum-price-in-private-hospitals

नई दिल्ली:पीएम मोदी(PM Modi)द्वारा देश में 18पार को फ्री वैक्सीन देने(free vaccine)और वैक्सीनेशन पॉलिसी में बदलाव की घोषणा के बाद केंद्र सरकार ने कोविड-19वैक्सीन(COVID-19 vaccine) के अधिकतम रेट प्राइवेट अस्पतालों के लिए तय कर दिए है। जोकि इस प्रकार है-

Covishield 780-Covaxin1410-Sputnik v 1145 maximum-price-in-private-hospitals

प्राइवेट अस्पतालों में कोविशील्ड (Covishield) की कीमत 780(600 वैक्सीन की कीमत+5 प्रतिशत GST+सर्विस चार्ज 150 रुपया) रुपये प्रति डोज़ होगी।

कोवैक्सीन (Covaxin) का दाम 1410 रुपये(1200 रुपया कीमत+60 रुपया जीएसटी+150 रुपया सर्विस चार्ज) प्रति डोज़ होगा।

स्पूतनिक-वी(Sputnik v)का दाम प्राइवेट अस्पतालों के लिए 1145 प्रति डोज़ (948 रुपया वैक्सीन+47 रुपया जीएसटी+ 150 रुपया सर्विस चार्ज) होगा।

इतना ही नहीं,टीके के रेट निर्धारित करने साथ ही साथ प्रतिदिन इसकी निगरानी की जाएगी।

ज्यादा रेट वसूलने पर प्राइवेट कोविड वैक्सीनेशन सेंटर के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

केंद्र ने राज्यों से कहा है कि 150 रुपये सर्विस चार्ज से ज्यादा प्राइवेट अस्पताल(private hospitals) न लें और इनकी निगरानी राज्य सरकारों को करनी है।

Covishield 780-Covaxin1410-Sputnik v 1145 maximum-price-in-private-hospitals

केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने वैक्सीन के अधिकतम रेट तय(maximum-price-in-private-hospitals)करते हुए इसके बारे में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मेमोरेंडम भेजा है।

नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने आज कहा कि कुछ राज्यों ने पिछले महीने कहा था कि टीकों की खरीदी केंद्र द्वारा की जाए।

उन्होंने कहा कि कोविशील्ड की 25 करोड़ डोज का ऑर्डर और कोवैक्सीन की 19 करोड़ डोज का ऑर्डर कंपनियों को दिया गया है।

यह एडवांस ऑर्डर दिया गया है जिसके लिए 30 फीसदी पेमेंट एडवांस में दिया जाएगा।

केंद्र सरकार ने कुल 74 करोड़ वैक्सीन की डोज का एडवांस ऑर्डर दिया है।

डॉ वीके पॉल ने कहा कि ई बायोलॉजिकल वैक्सीन सितंबर में मिलने की उम्मीद है, जिसके लिए 30 करोड़ डोज का ऑर्डर दिया गया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी लव अग्रवाल ने कहा कि मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ की वेबसाइट में सारी जानकारी उपलब्ध है।

क्लीनिकल मैनेजमेंट इन्वॉल्व है। एक विस्तृत चर्चा के बाद गाइडलाइन जारी की जाती है जो DGHS की साइट पर गाइडलाइन एनालिसिस स्टेज पर है।

फाइनल गाइडलाइन मिनिस्ट्री की साइट पर डाली जाएगी।

हेल्थ मिनिस्ट्री का कहना है कि डीजीएचएस की जिस गाइडलाइन में कोरोना मरीजों के ट्रीटमेंट से आइवरमेक्टिन, एचसीक्यू, एंटीबायोटिक हटाई गई है, वह गाइडलाइन अभी वर्क इन प्रोग्रेस है।

टॉस्क फोर्स और एक्सपर्ट उसका मूल्यांकन कर रहे हैं।

फैसला होने के बाद वह हेल्थ मिनिस्ट्री की गाइडलाइन बनेगी।

Covishield 780-Covaxin1410-Sputnik v 1145 maximum-price-in-private-hospitals

 

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

 

 

 

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 + two =

Back to top button