breaking_newsHome sliderदेशराजनीतिराज्यों की खबरें
Trending

दिल्ली: केजरीवाल का एलान, MCD चुनाव जीते तो खत्म होगा हाउस टैक्स, बकाया भी करेंगे माफ

Delhi-if-aap-wins-mcd-polls-then-abolish-residential-house-tax-says-kejriwal

नई दिल्ली, 26 मार्च : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल(Arvind Kejriwal)ने शनिवार को कहा कि अगर दिल्ली नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी(AAP) की जीत होती है,तो राजधानी में गृह कर खत्म कर दिया जाएगा।

केजरीवाल ने यहां संवाददाताओं से कहा, “अगर दिल्ली नगर निगम चुनाव(MCD)में ‘आप’ सत्ता में आती है तो रिहायशी गृह कर खत्म कर दिए जाएंगे। बकाया गृह कर भी माफ कर दिए(Delhi-if-aap-wins-mcd-polls-then-abolish-residential-house-tax-says-kejriwal)जाएंगे।”

उन्होंने कहा कि औद्योगिक और व्यावसायिक गृह कर पूर्ववत रहेंगे।

केजरीवाल(Kejriwal)की गृह कर खत्म करने की योजना की विपक्षी दलों भारतीय जनता पार्टी (BJP) और कांग्रेस ने आलोचना की है।

दिल्ली नगर निगम के 272 वार्डो के लिए 23 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे, जिसके नतीजे 26 अप्रैल को आएंगे।

केजरीवाल के मुताबिक, आम आदमी पार्टी ने गृह कर से संबंधित सभी गणना पूरी कर ली है।

उन्होंने कहा कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो लोगों के धन के साथ भ्रष्टाचार होने से बचाया जाएगा, और उसका इस्तेमाल गृह कर समाप्त करने के बाद आने वाले आर्थिक बोझ से निपटने में किया(Delhi-if-aap-wins-mcd-polls-then-abolish-residential-house-tax-says-kejriwal)जाएगा।

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने बिजली की दर को कम करने सहित अपने सभी चुनावी वादे पूरे किए हैं।

जनगणना के मुताबिक, दिल्ली की आबादी 1.68 करोड़ है और दिल्ली के तीनों नगर निगमों में 8-9 लाख लोग गृह कर देते हैं, जिसमें वाणिज्यिक संपत्ति भी शामिल है।

उत्तरी और पूर्वी नगर निगम के अधिकारियों के मुताबिक, संपत्ति कर के रूप में दोनों नगर निगमों ने अब तक क्रमश: 560 करोड़ रुपये और 150 करोड़ रुपये अर्जित किए हैं।

नगर निगम के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर आईएएनएस को बताया, “गृह कर सहित संपत्ति कर हमारी आय का मुख्य स्रोत है। अगर इस योजना को लागू किया गया तो नगर निगम को 500 करोड़ रुपये का नुकसान होगा।”

वहीं केजरीवाल ने कहा कि अगर ‘आप’ नगर निगम चुनाव जीतती है तो एक वर्ष के भीतर पार्टी एमसीडी को पूरी तरह बदल देगी। यह एक लाभदायी संस्थान बन जाएगा, जो वर्तमान में धन की कमी से गुजर रहा है।

उन्होंने कहा, “अगर आप नगर निगम चुनाव में सत्ता में आई तो एमसीडी कर्मचारियों के वेतन समय पर जारी किए (Delhi-if-aap-wins-mcd-polls-then-abolish-residential-house-tax-says-kejriwal)जाएंगे।”

उन्होंने आरोप लगाया कि निगमों में भ्रष्टाचार व्याप्त है और पार्षद इसके जरिए धन कमाते हैं।

उन्होंने कहा कि निगमों को जो धन करों के जरिए प्राप्त होता है, उसे भ्रष्ट लोग चुरा ले जाते हैं।

केजरीवाल ने कहा, “पार्षद एमसीडी में पैसे बनाने के लिए कागज पर एक सड़क का निर्माण तीन-चार बार करा देते हैं। वे सड़कों के लिए निर्धारित धन का दुरुपयोग करते हैं। जिसकी जरूरत नहीं है, वह काम भी एमसीडी में हो रहा है, जिसके कारण भ्रष्टाचार बढ़ रहा है।”

उन्होंने कहा कि आप जल्द ही नगर निकाय चुनाव के लिए एक विस्तृत घोषणा पत्र के साथ आएगी।

वहीं, भारतीय जनता पार्टी (BJP) की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस घोषणा को शर्मनाक करार दिया है।

इस घोषणा की आलोचना करते हुए तिवारी ने कहा, “यह कहना शर्मनाक है कि अगर एक बार दिल्ली के नगर निगम चुनाव में उनकी पार्टी जीतती है तो गृह कर खत्म कर दिया जाएगा। पिछले दो वर्षो के दौरान केजरीवाल सरकार ने कई बार तीनों नगर निगमों को सख्ती के साथ गृह कर वसूलने, खासकर अनधिकृत कॉलोनियों में रहने वालों से गृह कर वसूलने के लिए लिखा है।”

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने कहा है कि आप ने मुफ्त वाई-फाई और डीटीसी की बसों में सुरक्षाकर्मी तैनात करने का वादा अब तक पूरा नहीं किया है।

माकन ने कहा, “आप की अयोग्य सरकार ने राजधानी को बर्बाद कर दिया है। अब अगर आप एमसीडी चुनाव में जीत जाते हैं तो अरविंद केजरीवाल दिल्ली की जनता का और नुकसान करेंगे।”

 

 

 

 

–आईएएनएस

 

 

Delhi-if-aap-wins-mcd-polls-then-abolish-residential-house-tax-says-kejriwal

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button