breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंफैशनराशिफललाइफस्टाइल

गुरु ग्रह को करों प्रसन्न, रहो धन-धान्य से संपन्न

बृहस्पति देव यानी गुरुग्रह को प्रसन्न करना हो तो... : गुरूवार के उपाय

guru graha shanti upay

नईं दिल्ली (समयधारा) : दोस्तों ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हर ग्रह का असर हमारे जीवन पर जरुर होता है l

आप जब पैदा होते है तो जो ग्रहों की स्थिति होती है उसी से आपके भाग्य का, आपके आने वाले जीवन का लेखा-जोखा होता है l

कुल मिलाकर आपके ग्रह आपका भविष्य तय करते है l पैदा होना हमारे हाथ में नहीं है l

इश्क शायरी : इश्क़ जब इबादत बन जाता है तो खुदा खुद हमारे इश्क़ की

पर जन्म लेने के बाद अगर ग्रह दोष हो तो उन्हें दूर किया जा सकता हैl हमारे जो नवग्रह है वो इस प्रकार हैl 

सूर्य, बृहस्पति(गुरु), शनि, मंगल, बुध, शुक्र, चंद्रमा, राहु, केतु

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नवग्रहों की शांति के लिए विशेष मंत्र बताये गए है l 

मान्यता कि इन मंत्रों का विधि पूर्वक जाप करने से नवग्रह शांत होते हैं, guru graha shanti upay

और जीवन में आने वाली बाधांए और परेशानियां दूर होती हैं l शास्त्रों में ग्रहों की शांति को अति महत्वपूर्ण बताया गया है,

 thoughts:भगवान कहते है जीवन में कभी मौक़ा मिले…

ग्रह जब अशांत और अशुभ होते हैं तो जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है l

 हम आपको बारी-बारी से हर एक ग्रह को शांत करने व आने वाले दिनों में उस ग्रह से होने वाली बाधाओं को कैसे दूर करें इसके बारें में बताएँगे l

mangal dosh upay mangal mantra in hindi navgrah shanti upay mangal ki shanti, 'मंगल' कर रहा है 'अमंगल'..? तो आजमायें यह अचूक उपाय, navgraha
‘मंगल’ कर रहा है ‘अमंगल’..? तो आजमायें यह अचूक उपाय, navgraha

हमने अपने पिछले लेख में मंगल ग्रह/मंगल देव को शांत करने के उपाय बताएं थे l

‘मंगल’ ग्रह कर रहा है ‘अमंगल’..? तो आजमायें यह अचूक उपाय

जिसे पाठकों ने खूब सराहा l  आज हम गुरु ग्रह के दोष व निवारण के बारें में बताएँगे l

सबसे पहले गुरु ग्रह के बारें में जानते है l गुरु ग्रह को देवताओं का गुरु कहा जाता है l

यह ग्रह स्वभाव में अच्छा हैl यह आपके लिए शुभकारक होता है l guru graha shanti upay

यह ग्रह आपके उच्च स्थान पर होने पर आपको धन का लाभ, प्रसिद्धि, सुख-वैभव आदि की प्राप्ति करवाता है l

यह ग्रह आपको समाज में मान सम्मान दिलाने में काफी सहायक होता है l

गुरु ग्रह से ऐसे जुड़े कुछ ऐसे सवाल है जो कई लोगों के मन में उठते है, जैसे की

  • गुरु ग्रह कमजोर होने पर क्या करें?
  • बृहस्पति देव को कैसे प्रसन्न करें?
  • गुरु को कैसे ठीक करें?
  • गुरु की महादशा में क्या उपाय करें?

 

गुरु ग्रह कमजोर होने पर क्या करें? 

अगर आपका गुरु ग्रह कमजोर है तो तुरंत ही पीपल के वृक्ष पर जल चढ़ाना शुरू कर दे l इससे आपका गुरु मजबूत होगा l

वही माता-पिता सहित अपने से जो भी बड़े है उनका सम्मान करें l अपने गुरु को विशेष सम्मान देl

हर रोज सुबह उठकर अपने माता-पिता अपने से बड़े सभी लोगों का पैर छुए l

guru graha shanti upay

बृहस्पति देव को कैसे प्रसन्न करें?

बृहस्पति देव यानी गुरुग्रह को प्रसन्न करना हो तो गुरूवार यानी कि बृहस्पतिवार के दिन सुबह-सुबह शुद्ध होकर बृहस्पतिदेव के मंदिर जाए l

अगर मंदिर न मिलें तो शंकर भगवान के मंदिर भी जा सकते है l

आसपास कही भी केले के वृक्ष पर पीला वस्त्र या चना हल्दी आदि चढ़ावें l

मस्तिक पर पीला(हल्दी) का तिलक लगाना भी गुरु ग्रह को प्रसन्न करने के लिए उत्तम उपाय है l

गुरु को कैसे ठीक करें?

गुरु को ठीक करने के लिए सबसे उत्तम उपाय है पीली वस्तुओं का दान करना / ग्रहण करना l 

अपने सामर्थ्य अनुसार गुरूवार के दिन पीली वस्तुओं का दान अवश्य करें l  

चने की दाल हो या गुड या फिर कड़ी चावल गुरूवार के दिन दान करने से आपका गुरु उच्च कोटि में आ जाएगा l 

गुरु की महादशा में क्या उपाय करें? (guru graha shanti upay)

अगर किसी जातक पर गुरु की महादशा चल रही है l तो बिना भूले उस जातक को बृहस्पति देव का जाप नित्य करना चाहिए l 

गुरु का मंत्र- ऊँ  बृं बृहस्पतये नम: यह मंत्र गुरु मंत्र है, इसे कम से कम 108 बार जरुर जाप करें l

पीले फूल/ गुड़हल के फूल को बृहस्पति देव के चरणों में अर्पित करें आपका कल्याण होगा l 

भगवान विष्णु की पूजा करें l साईबाबा की भी पूजा करें l आपका साईं कल्याण करेगा l  

केले का वृक्ष हो या पीपल का वृक्ष इनकी पूजा करने से आपका कल्याण होगा l 

गुरु की शांति का उपाय

 वर्तमान समय में गुरु वक्री हैं, और कुंभ राशि में गोचर कर रहे हैं l

गुरु को मजबूत बनाने के लिए ब्रह्माजी, केला और पीपल के वृक्ष की पूजा करनी चाहिए l

वहीं पीली वस्तुओं के दान से भी गुरु की अशुभता दूर होती है l

‘मंगल’ ग्रह कर रहा है ‘अमंगल’..? तो आजमायें यह अचूक उपाय

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 5 =

Back to top button