breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबीमारियां व इलाजराजनीतिक खबरेंविश्व
Trending

कोरोना का कहर 100 के पार, पड़ोसी देशों के लिए भारत ने सील किया बॉर्डर

सरकार ने कोरोना को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया,मृतकों के परिजनों को 4 लाख मुआवजे का एलान

नई दिल्ली: Coronavirus rise cases India closes border for neighbors- कोरोना वायरस का कहर भारत में बढ़ता ही जा रहा है। केंद्र ने शनिवार को कोरोना को राष्ट्रीय आपदा घोषित कर दिया। साथ ही आज से भारत ने पड़ोसी देशों के लिए अपने बॉर्डर को भी अब सील करने का फैसला ले लिया है।

रविवार से भारत ने पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल, भूटान और म्यांमार बॉर्डर से आने-जाने पर पाबंदी लगा दी (Coronavirus rise cases India closes border for neighbors) है।

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए गृह मंत्रालय ने कहा है कि आगामी आदेश जारी होने तक भारत की पड़ोसी देशों से लगने वाली सीमाओं से आवागमन प्रतिबंधित (Coronavirus rise cases India closes border for neighbors)है।

दरअसल डब्ल्यूएचओ (WHO) द्वारा कोरोना पहले ही ग्लोबल महामारी घोषित किया जा चुका है और भारत में भी अब यह तेजी से अपने पैर पसार रहा है।

वर्तमान में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 101 हो गई है। इनमें से 2 की मौत हो चुकी है और 10 मरीज ठीक हो चुके हैं।

इस समय महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा 31 मरीज हैं। इसलिए महाराष्ट्र सरकार ने सभी स्कूल,कॉलेज,पब, जिम और मॉल 31 मार्च तक बंद रखने के आदेश भी दे दिए है।

दिल्ली में भी आरएमएल में एक 68 वर्षीय महिला की कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु हो गई है। दिल्ली ने भी कोरोना को महामारी घोषित कर दिया और सभी सिनेमा हॉल,स्कूल-कॉलेज 31 मार्च तक बंद रखने के आदेश दिए गए है।

यही हाल बिहार, उत्तप्रदेश, छत्तीसगढ़, जम्मू, हरियाणा और केरल सहित अन्य राज्यों का भी है।

सरकार ने कोरोना को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया,मृतकों के परिजनों को 4 लाख मुआवजे का एलान

India announces  COVID-19 as National Disaster:

कोरोना (COVID-19)के बढ़ते मामलों को देखते हुए ही केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस को राष्ट्रीय आपदा  (National Disaster) घोषित कर दिया है और अब इसके बाद सभी राज्य राष्ट्रीय आपदा कोष का प्रयोग कर सकते हैं।

गृह मंत्रालय ने घोषणा की है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) से मरने वाले लोगों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।

आज, रविवार से भारत ने एहतियातन अपने पड़ोसी देशों के लिए भारतीय सीमा को सील कर दिया लेकिन कुछ चेक पोस्ट ऐसे है जिनसे जरूरी आवागमन किया जा सकेगा।

बॉर्डर सील (Coronavirus rise cases India closes border for neighbors) करने के साथ ही सरकार ने स्पष्ट किया है कि यदि कोई यूएन (UN) का व्यक्ति या फिर डिप्लोमैट वैलिड वीजा के साथ भारत आना चाहता है ,तो उसे अटारी-वाघा बॉर्डर से अनुमति दी जा सकती है,लेकिन उसे भी स्क्रीनिंग से गुजरना होगा।

सरकार ने इस बात को पहले ही चेता दिया है कि भारत-बांग्लादेश क्रॉस बॉर्डर ट्रेनें और बसें 15 अप्रैल तक स्थगित रहेंगी। हालांकि परिस्थितियों को देखते हुए इनकी तिथि और भी बढ़ाई जा सकती है।

केंद्र सरकार ने जनता से अपील की है कि वे बाहर के देशों की यात्रा न करें। बुखार, खांसी या जुकाम होने पर घर पर ही रहें और डॉक्टर से दवाई के लिए परामर्श फोन पर लें।

साथ ही बाहर से आने पर साबुन व पानी से हाथ जरूर धोएं और भीड़भाड़ वाले इलाकों में मुंह पर मास्क पहनकर ही जाये। कोरोना वायरस (COVID-19) का कारगर इलाज बचाव व सावधानी है।

सरकार ने देश में विस्तृत र पर क्वैरंटाइन और लैब्स का काम भी शुरू कर दिया है।

 

 विभन्न देशों ने कोरोना के कारण लगाया है ट्रैवल बैन:

विश्वभर में अभी तक 150000 से ज्यादा कोरोना वायरस संक्रमण के केस आ चुके हैं।

इसके अतिरिक्त 5000 से अधिक लोगों की मृत्यु हो गई है। शनिवार को अमेरिका (US) ने भी कोरोना वायरस (Coronavirus) को नैशनल इमरजेंसी (National Emergency) घोषित कर दिया है।

ट्रंप ने यूरोप सहित ब्रिटेन और आयरलैंड देशों पर यात्रा के लिए भी प्रतिबंध लगा दिया है।

फ्रांस, ईरान, इटली समेत कई देशों ने गैदरिंग और यात्रा पर रोक लगा रखी है।

इतना ही नहीं, कई कंपनियों ने तो अपने प्रोडक्शन पर रोक लगा दी है। फरारी ने कुछ दिनों के लिए प्रोडक्शन पर रोक लगाई है।

कोरोना महामारी (Coronavirus) के जाल से इटली भी बुरी तरह प्रभावित हुआ है। यहां मरने वालों की संख्या1200 से ऊपर पहुंच गई है।

हालांकि अमेरिका से पहले स्पेन ने अपने देश में आपातकाल घोषित कर दिया था।

विश्व के कई नामी-गिरामी अभिनेता और नेता भी इस संक्रमण के चपेट में आ गई हैं।

अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने भी सावधानी के लिए अपना कोरोना टेस्ट कराया है। उन्हें फिलहाल अपनी रिपोर्ट का इंतजार है।

वैसे ट्रंप के फिजिशन ने कहा था कि उनमें कोरोना के लक्षण नहीं हैं।

 

Coronavirus rise cases India closes border for neighbors

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 1 =

Back to top button