breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीतिक खबरेंविश्व
Trending

अमेरिका आधिकारिक तौर पर विश्व स्वास्थ्य संगठन से हुआ अलग:रिपोर्ट

ट्रंप ने हमेशा डब्ल्यूएचओ पर कोरोनावायरस को लेकर समय रहते आगाह न करने का आरोप लगाया है और उसे चीन का साथ देने वाला करार दिया है...

US officially withdrawal from World Health Organization

वॉशिंगटन: आखिरकार डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने अमेरिका को आधिकारिक तौर पर विश्व स्वास्थ्य संगठन से अलग कर लिया है। इस बात की जानकारी अमेरिकी मीडिया ने दी है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मंगलावर को अमेरिका ने WHO से आधिकारिक तौर पर अलग होने का फैसला कर लिया है।

गौरतलब है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कोरोनावायरस महामारी को लेकर शुरू से विश्व स्वास्थ्य संगठन पर आरोप लगाते रहे है।

ट्रंप (Trump) ने हमेशा डब्ल्यूएचओ (WHO) पर कोरोनावायरस को लेकर समय रहते आगाह न करने का आरोप लगाया है और उसे चीन का साथ देने वाला करार दिया है। ट्रंप (Trump) ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) पर कोरोनावायरस (Coronaivirus) महामारी से निपटने के तरीकों पर भी उंगलियां उठाई है और उस पर गुमराह करने के आरोप जड़े है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पहले भी आरोप लगाया था कि विश्व स्वास्थ्य संगठन चीन (China) के नियंत्रण में है और उसने जानबूझकर कोरोनावायरस को लेकर जरूरी सूचनाएं बहुत देर बाद जारी की है।

दरअसल, विश्व में कोरोनेवायरस (Coronavirus) से सबसे ज्यादा संक्रमित देशों में टॉप पर अमेरिका ही है। अमेरिका में सर्वाधिक कोरोना केस 30 लाख से अधिक सामने आ चुके है।

इतना ही नहीं कोरोना से मरने वालों लोगों की तादाद भी अमेरिका में सबसे ज्यादा है। अमेरिका में कुल 1.3 लाख से अधिक लोगों की अभी तक कोविड-19 (COVID-19) से मौत हो चुकी है।

बकौल ‘द हिल’ की रिपोर्ट, डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार (स्थानीय समय) को पुष्टि की कि व्हाइट हाउस (White house) ने आधिकारिक तौर पर WHO से अमेरिका को अलग कर लिया (US officially withdrawal from World Health Organization) है।

हालांकि अमेरिका का डब्ल्यूएचओ से अलग होना सोमवार से लागू होगा। इस बात की जानकारी संयुक्त राष्ट्र महासचिव को भी दे दी गई।

सीनेट की विदेश मामलों की समिति के टॉप डेमोक्रेट सेन रॉबर्ट मेनेंडेज ने ट्वीट किया कि प्रशासन ने कांग्रेस को इस बारे में सूचना दे दी।

अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने मई में ही घोषणा की थी कि उनका देश विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के साथ अपने संबंधों को समाप्त कर रहा है।

तब ट्रंप ने कहा था, ‘चीन का डब्ल्यूएचओ (WHO) पर पूरा नियंत्रण है जो साल में केवल 40 मिलियन डॉलर का भुगतान करता है जबकि अमेरिका 450 मिलियन डॉलर देता है।’

इसके बाद ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन को दी जाने पर फंडिंग भी रोक दी थी और अब खबर आ रही है कि अमेरिका डब्ल्यूएचओ से आधिकारिक तौर पर अलग हो गया है।

 

US officially withdrawal from World Health Organization

(इनपुट एजेंसी से भी)

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 − four =

Back to top button