breaking_newsअन्य ताजा खबरेंविभिन्न खबरेंविश्वहेल्थ
Trending

WHO की चेतावनी: काबू पाये देशों में दोबारा आ सकता है कोरोनावायरस

इसका मतलब है कि हो सकता है कि जिन देशों में कोरोना के संक्रमण से काबू पा लिया है वहां यह फिर से उबरने लगे...

जिनीवा: WHO warning Coronavirus second wave in controlled countries- विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)ने चेतावनी दी है कि जिन देशों में कोविड-19 (COVID-19) का संक्रमण कम हो रहा है,वहां कोरोनावायरस (Coronavirus) का दूसरा चरण देखने को मिल सकता है।

WHO ने आगाह किया है कि जो देश कोरोना संक्रमण कम होने पर लॉकडाउन में ढ़ील दे रहे है, इससे दोबारा पीक कारण बन सकती है और वहां कोरोना का दूसरा चरण वापस लौट सकता(WHO warning Coronavirus second wave in controlled countries)है।

WHO के इमर्जेंसी हेड डॉ. माइक रेयान ने प्रेस ब्रीफिंग में कहा, ‘यह देखा जा रहा है कई देशों में कोरोना के मामलों में कमी आई है

लेकिन सेंट्रल और साउथ अमेरिका, साउथ एशिया और अफ्रीका में इसके मामले बढ़े हैं। रेयान ने कहा कि महामारी अक्सर लहरों की तरह आती है।

इसका मतलब है कि हो सकता है कि जिन देशों में कोरोना के संक्रमण से काबू पा लिया है वहां यह फिर से उबरने लगे।’

WHO warning Coronavirus second wave in controlled countries

एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान WHO के इमर्जेंसी हेड डॉ. माइक रेयान ने कहा कि ‘यह देखा जा रहा है कई देशों में कोरोना (Corona) के मामलों में कमी आई है लेकिन सेंट्रल और साउथ अमेरिका, साउथ एशिया और अफ्रीका में इसके मामले बढ़े हैं।

रेयान ने कहा कि महामारी अक्सर लहरों की तरह आती है। इसका मतलब है कि हो सकता है कि जिन देशों में कोरोना के संक्रमण (Corona infection) से काबू पा लिया है वहां यह फिर से उबरने लगे।’

कभी भी दोबारा फैल सकती है कोरोना महामारी

डब्ल्यूएचओ (WHO) ने सतर्क करते हुए कहा कि यदि कोरोना को रोकने के प्रयासों में जल्द ढ़ील दी गई तो हो सकता है कि कोरोनावायरस का दूसरा चरण (Coronavirus second wave) पहले से भी ज्यादा घातक रूप लेकर आए।

WHO warning Coronavirus second wave in controlled countries

रेयान ने बताया कि, ‘हमें इस बात पर ध्यान देने की आवश्यकता है कि यह महामारी किसी भी समय दोबारा फैल सकती है।

हम इस बात का अनुमान नहीं लगा सकते कि जिन इलाकों में कोरोना केस कम हुए है तो वहां दोबारा से कोरोना का कहर देखने को नहीं मिलेगा।‘

जरूरत है कोरोना सुरक्षा मापदंड़ों को जारी रखने की

वह आगे बताते है कि उत्तरी अमेरिका और यूरोप को पब्लिक हेल्थ,सामाजिक मापदंड, सर्विलांस क्राइटेरिया और टेस्टिंग कॉन्टिन्यू रखनी चाहिए और इस बात को सुनिश्चित करने का प्रयास करना चाहिए कि कोरोना का दूसरा चरण तुरंत न फैले।

 

WHO warning Coronavirus second wave in controlled countries

 

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five − 3 =

Back to top button