breaking_newsअन्य ताजा खबरेंबॉलिवुड-हॉलिवुडमनोरंजन
Trending

Dadasaheb Phalke Award: सदी के महानायक अमिताभ बच्चन को मिला दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड

अमिताभ बच्चन के इस यादगार अवसर पर पत्नी जया बच्चन और बेटा अभिषेक बच्चन पर उपस्थित थे

नई दिल्ली: Amitabh Bachchan awarded Dadasaheb Phalke Award- सदी के महानायक बॉलिवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को भारतीय सिनेमा में अमूल्य योगदान के लिए दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड पुरस्कार (Dadasaheb Phalke Award) से सम्मानित किया गया है।

AmitabhBachchanawardedDadasahebPhalkeAward_optimized
image credit: Twitter

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President RamNathKovind) ने सुपरस्टार अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को भारत के सर्वोच्च फिल्म सम्मान दादा साहेब फाल्के पुरस्कार (Dadasaheb Phalke Award) से रविवार, 29  दिसंबर को सम्मानित (Amitabh Bachchan awarded Dadasaheb Phalke Award) किया।

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के इस यादगार अवसर पर पत्नी जया बच्चन और बेटा अभिषेक बच्चन (Abhishek Bachchan) पर उपस्थित थे।

गौरतलब है कि बीते माह 25 सितंबर को अमिताभ बच्चन को यह अमूल्य पुरस्कार देने का एलान किया गया था।

ध्यान दें कि अभिनेता अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में सोमवार को मिलना था लेकिन अस्वस्थता के कारण उन्हें यह सम्मान रविवार को एक विशेष समारोह में दिया (Amitabh Bachchan awarded Dadasaheb Phalke Award) गया।

77 वर्षीय अमिताभ बच्चन का स्वास्थ्य पिछले कुछ महीनों से नरम-गरम रहा है।

अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड के अंतर्गत दस लाख रुपये नकद राशि, स्वर्ण कमल पदक और एक शॉल प्रदान की गई है।

अमिताभ बच्चन के फिल्मी सफर पर एक नजर

अमिताभ बच्चन का जन्म 1942 में प्रख्यात हिंदी कवि हरिवंश राय बच्चन और तेजी बच्चन के घर में हुआ था। पिता की नामचीन छवि से अलग हटकर अमिताभ बच्चन ने अभिनय को अपना करियर बनाया।

बतौर अभिनेता उनके करियर की पहली फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ थी।

अमिताभ बच्चन 5 दशक के अपने फिल्मी सफर में टॉप पर रहे है।

एंग्री यंग मैन की भूमिका से अपने करियर की लोकप्रियता पाने वाले अमिताभ बच्चन ने सिर्फ एक्शन ही नहीं कॉमेडी, ड्रामा और आर्ट फिल्मों में भी अपने अभिनय का लोहा मनवाया है।

अमिताभ बच्चन को भारतीय सिनेमा में उनके शानदार योगदान के लिए पहले 1984 में पद्म श्री, 2001 में पद्म भूषण और 2015 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया जा चुका है।

 

Amitabh Bachchan awarded Dadasaheb Phalke Award

 

 

 

 

 

 

 

Show More

Dropadi Kanojiya

द्रोपदी कनौजिया पेशे से टीचर रही है लेकिन अपने लेखन में रुचि के चलते समयधारा के साथ शुरू से ही जुड़ी है। शांत,सौम्य स्वभाव की द्रोपदी कनौजिया की मुख्य रूचि दार्शनिक,धार्मिक लेखन की ओर ज्यादा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × 2 =

Back to top button