breaking_newsHome sliderदेशराज्यों की खबरें

Breaking News: बूचड़खानों और गो-तस्करी पर लगाम कसने के बाद अब स्कूलों की बारी,मोबाइल पर लग सकता है बैन!

लखनऊ, 23 मार्च :  उत्तर प्रदेश का कामकाज संभालने के बाद मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी एक्शन में नजर आ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने मांस के अवैध कारोबार, बूचड़खानों और गो-तस्करी पर लगाम कसने के साथ ही उप्र के स्कूल-कॉलेजों के बाहर लड़कियों से छेड़खानी करने वालों से निपटने के लिए एंटी रोमियो स्क्वॉड भी बनाया है। इसी क्रम में गुरुवार को मुख्यमंत्री ने आदेश दिया कि स्कूल परिसर में मोबाइल के बेजा इस्तेमाल पर लगाम सुनिश्चित की जाए। 

मुख्यमंत्री ने स्कूल-कॉलेजों में शिक्षा का माहौल बेहतर करने को लेकर कई अहम निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने आदेश दिया है कि शिक्षक कैजुअल कपड़े पहनकर स्कूल न आएं और अपने लिबास का खास ख्याल करें। स्कूल परिसर में मोबाइल के बेजा इस्तेमाल पर लगाम सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। 

इसके अलावा, परिसर के बाहर शरारती तत्वों से निपटने के लिए पुलिस को गश्त बढ़ाने और जरूरी कदम उठाने के लिए भी कहा गया है। स्कूल-परिसरों में गुटखा और पान के दाग न नजर आएं, इसके लिए जल्द से जल्द कदम उठाए जाने का आदेश दिया गया है। वहीं, परीक्षा में नकल रोकने के लिए उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विभिन्न जिलों के डीएम से बात करेंगे।

उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता व मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया, “फाइलों के मूवमेंट पर नजर रखने के लिए फाइल इंडेक्स बनाने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं, सायरनों और हूटर्स के इस्तेमाल को लेकर भी निर्देश दिए गए हैं।”

राज्य सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया कि सायरन और हूटर्स की वजह से ध्वनि प्रदूषण होता है और जनता को भी परेशानी होती है। इसलिए मंत्रियों से निवेदन किया गया है कि वे सायरन और हूटर्स का इस्तेमाल करने से परहेज करें।

इससे पहले गुरुवार सुबह मुख्यमंत्री योगी लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली का निरीक्षण करने पहुंचे। योगी के अचानक कोतवाली पहुंचने के बाद अफसरों और अन्य पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया। योगी के साथ डीजीपी जाविद अहमद, एसएसपी मंजिल सैनी और कई बड़े अफसर मौजूद थे। 

मुख्यमंत्री ने थाने के हालात का जायजा लिया और पुलिसवालों को जरूरी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री महिला थाने का मुआयना करने के लिए भी पहुंचे। सूत्रों के मुताबिक, योगी के इस औचक दौरे के बारे में कई बड़े अधिकारियों को भी पता ही नहीं था। माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री इस तरह के कदम उठाकर अफसरों को हमेशा मुस्तैद रहने का संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं। 

मुख्यमंत्री ने बाद में पत्रकारों से बातचीत में कहा, “उत्तर प्रदेश में बहुत कुछ बदलने वाला है और यह तो केवल पहला निरीक्षण है अंतिम नहीं। लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि किसी भी हाल में पुलिस का मनोबल नहीं गिरने दिया जाएगा। उप्र के अंदर कानून का राज हो। इसके लिए वह व्यवस्थाओं का जायजा लेने आए हैं।”

योगी ने कहा कि उप्र में जो भी जनहित में होगा उसके लिए कोई भी कदम उठाने में हिचकेंगे नहीं। उन्होंने कहा कि कानून-व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए सभी जरूरी कदम जल्द से जल्द उठाए जाएंगे।

–आईएएनएस

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × five =

Back to top button