breaking_newsHome sliderडाइटदेश की अन्य ताजा खबरेंबीमारियां व इलाजलाइफस्टाइलहेल्थ

क्या आप जानते है आपका टूथपेस्ट खतरनाक बीमारियों से लड़ता है..?

न्यूयॉर्क, 19 मई : टूथपेस्ट में पाया जाने वाला एक आम जीवाणुरोधी तत्व दवा के साथ मिलने पर सिस्टिक फाइब्रोसिस (सीएफ) जैसी खतरनाक बीमारियों से लड़ सकता है।

इस शोध का प्रकाशन एंटीमाइक्रोबियल एजेंट्स व कीमोथेरेपी नामक पत्रिका में किया गया है।

शोध में पाया गया कि ट्राइक्लोसन जब एक जैव प्रतिरोधी से मिल जाता है तो इसे टोब्रामाइसिन कहा जाता है।

ट्राइक्लोसन एक तत्व है, जो जीवाणु को बढ़ने से रोकता या घटाता है।

टोब्रामाइसिन सीएफ जीवाणु की रक्षा करने वाली कोशिकाओं को 99.9 फीसदी तक मारती है। सीएफ जीवाणु को स्यूडोमोनानास एरुजिनोसा के नाम से जानते हैं।

सीएफ एक आम आनुवांशिक बीमारी है, जो हर 2,500 से 3,500 लोगों में एक को होती है। इसकी पहचान शुरुआती अवस्था में हो जाती है।

सके परिणामस्वरूप फेफड़ों में म्यूकस की एक मोटी परत बन जाती है, जो जीवाणुओं के लिए चुंबक का काम करती है।

शोधकर्ताओं का कहना है कि इन जीवाणुओं को मारना बेहद मुश्किल है, क्योंकि ये एक चिपचिपी सतह के जरिए संरक्षित हैं, जिसे बायोफिल्म नाम से जानते हैं, जो एंटीबायोटिक दवाओं से इलाज के दौरान भी बीमारी को बढ़ने देता है।

मिशिगनन स्टेट यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर क्रिस वाटर्स ने कहा, “इन बॉयोफिल्म को खत्म करने के तरीकों को खोजना ही समस्या का निदान है।”

–आईएएनएस

Show More

Dropadi Kanojiya

द्रोपदी कनौजिया पेशे से टीचर रही है लेकिन अपने लेखन में रुचि के चलते समयधारा के साथ शुरू से ही जुड़ी है। शांत,सौम्य स्वभाव की द्रोपदी कनौजिया की मुख्य रूचि दार्शनिक,धार्मिक लेखन की ओर ज्यादा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × three =

Back to top button