breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति

BJP 2.0 का एक साल पूर्ण, मोदी का देशवासियों को ख़त, मजदूरों की चिंता जानें सब कुछ

मोदी की चिट्ठी : कोरोना से लेकर आत्मनिर्भरता, किसानों से लेकर मजदुर, 2.0 में किये गए काम का विवरण

modi-part-2 first-anniversary pm-letter-to-citizens

नई दिल्ली (समयधारा) : देश में एक तरफ कोरोना को लेकर काफी गरम माहौल है l

तो दूसरी तरफ बीजेपी ने सत्ता वापसी का एक साल पूरा कर लिया l पीएम नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को ख़त लिखाl

कोरोना के खिलाफ भारत की जंग का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा,

‘जहां एक ओर बड़े आर्थिक संंसाधन और कुशल हेल्थकेयर सिस्टम वाली ताकतें थीं,

वहीं दूसरी ओर हमारे देश में दूसरी समस्याओं के साथ बड़ी आबादी और सीमित संसाधन की मुश्किल थी।

बहुत से लोगों को डर था कि कोरोना की चपेट में आने के बाद भारत दुनिया के लिए एक समस्या बन जाएगा।

लेकिन आपने दुनिया की उस सोच को बदल दिया।’ पीएम मोदी ने कहा,

‘हमें इस बात का ध्यान रखना होगा जो असुविधा हम झेल रहे हैं,

उससे किसी तबाही में न बदलने पाए। इसलिए यह हर भारतीय के लिए बहुत महत्वपूर्ण है कि वह नियमों और गाइडलाइंस का पालन करे।

देश ने अब तक धैर्य दिखाया है और आगे भी इसे बरकरार रखना चाहिए। modi-part-2 first-anniversary pm-letter-to-citizens

यही एक सबसे बड़ी वजह है कि आज भारत दूसरे कई देशों के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित है।

यह एक लंबी लड़ाई है लेकिन हम जीत के रास्ते पर बढ़ने की शुरुआत कर चुके हैं और यह जीत हमारे सामूहिक प्रयास से मिलेगी।’

खत में मोदी जी ने क्या-क्या लिखा है, चलियें जानते है l

  • कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एकजुटता और दृढ़ निश्चय की जमकर तारीफ की है।
  • अत्यंत कष्ट उठाने के बावजूद देशवासियों के महान प्रयास से यह सुनिश्चित हुआ कि असुविधा एक तबाही में न बदलने पाए।
  • आपने साबित किया है कि भारतीयों की सामूहिक ताकत और सामर्थ्य दुनिया के दूसरे शक्तिशाली और संपन्न देशों के मुकाबले बहुत आगे है। 
  • इतनी बड़ी संकट की घड़ी में ऐसा बिल्कुल नहीं दावा किया जा सकता कि किसी को कोई असुविधा या परेशानी न हुई हो।
  • छोटे उद्योगों में काम कर रहे हमारे श्रमिक, प्रवासी मजदूर, मिस्त्री और कामगारों के साथ ही हॉकर्स और दूसरे देशवासियों ने असाधारण कष्ट झेला है।’

modi-part-2 first-anniversary pm-letter-to-citizens

  • ‘राष्ट्रहित में लिए गए ऐतिहासिक कदमों और फैसलों के बारे में इस खत में जानकारी देना बहुत ज्यादा होगा।
  • मैं यह जरूर कह सकता हूं कि इस एक साल के हर दिन मेरी सरकार ने चौबीसों घंटे पूरी ताकत और जोश के साथ इन फैसलों को लागू किया है।’
  • जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 के प्रावधानों को हटाए जाने पर खत में कहा, ‘इससे राष्ट्रीय एकता और अखंडता की भावना मजबूत हुई है।’
  • लोगों ने लगातार दूसरी बार उन्हें इसलिए मौका दिया क्योंकि जनता पहली पारी में किए गए काम को मजबूत आधार देना चाहती थी।
  • ‘2014 से 2019 के बीच भारत भारत का कद तेजी से बढ़ा है। गरीबों के उत्थान का काम हुआ है।
  • देश ने आर्थिक समावेश के रूप में फ्री गैस, बिजली कनेक्शन, संपूर्ण स्वच्छता के अलावा सभी को घर मुहैया कराए जाने की दिशा में काम हुआ है।’
  • सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के जरिए भारत ने अपनी ताकत का प्रदर्शन किया है।

modi-part-2 first-anniversary pm-letter-to-citizens

  • दशकों से लंबित मांगें जैसे वन रैंक वन पेंशन (ओआरओपी), वन नेशन वन टैक्स (जीएसटी) और किसानों के लिए उचित समर्थन मूल्य को भी पूरा किया गया है।
  • 2019 में भारत की जनता ने केवल स्थिरता के लिए वोट नहीं दिया। देशवासियों ने भारत को नई ऊंचाई पर ले जाने के सपने के साथ ही ग्लोबल लीडर बनाने के लिए भी वोट दिया।’
  • मुझे भरोसा है कि इकॉनमी कोरोना से कैसे उबरेगी, इसके लिए भी भारत मिसाल बनेगा।
  • अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में 130 करोड़ भारतीय न केवल दुनिया को चौंकाएंगे, बल्कि प्रेरणा भी बनेंगे।
  • इस वक्त की सबसे बड़ी जरूरत आत्मनिर्भर बनना है।
  • इस दिशा में हाल ही में दिया गया 20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज बड़ा कदम है।’

पीएम मोदी ने सर्जिकल और एयर स्ट्राइक जैसे पाकिस्तान के खिलाफ लिए गए ऐक्शन पर संतोष जताया।

इसके साथ ही उन्होंने राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले और नागरिकता संशोधन कानून का जिक्र किया।

पीएम ने कहा कि राम मंदिर पर सर्वसम्मति से आए फैसले से सदियों से चली आ रही बहस का सौहार्दपूर्ण समापन हुआ है।

ट्रिपल तलाक को बर्बर प्रचलन बताते हुए पीएम ने पिछले साल इसके गैरकानूनी करार दिए जाने की बात भी कही। 

(इनपुट एजेंसी से)

modi-part-2 first-anniversary pm-letter-to-citizens

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + twenty =

Back to top button