breaking_newsहेल्थ

Covid19 Updates : इंदौर में नए 100 से ज्यादा मरीज के साथ भारत में कुल आंकड़ा 11439

आज 38 मौतों के साथ कोरोना से मरने वालों की संख्या 377, कुल 1306 इलाज के बाद ठीक

Today Covid19-updates 11439-corona-case-in-india 377-death 
नई दिल्ली, (समयधारा) : देश में कोरोना का कहर थमने का नाम ही नहीं ले रहा l आज इंदौर में नए 100 से ज्यादा केस दर्ज हुए है l 
इसी के साथ पूरे देश में कोरोना के कुल 11439 मरीज पहुँच गए है l पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 1076 नए मामले सामने आए हैं l
वही अभी तक कुल 1306 मरीज इलाज के बाद ठीक हो गए है l आज 38 मौतों के साथ कोरोना से मरने वालों की संख्या 377 हो गयी है l 
महाराष्ट्र में सब कुछ ठीक होने का दावा होने के बाद भी मरने वाले मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा हैl 
अभी तक देश में कुल 377 मौतों में से अकेले महाराष्ट्र में मरने वाले लोगों की संख्या 175 के पार पहुँच गयी है l
कोरोना की मृत्यु दर महाराष्ट्र में 6.85 प्रतिशत है जो देश ही नहीं बल्कि विश्व में भी सबसे ज्यादा है। 
आज मुंबई में एक 29 साल की कोरोना पीड़ित लड़की ने ख़ुदकुशी कर ली l 
Today Covid19-updates 11439-corona-case-in-india 377-death 

  1. महाराष्ट्र – 2687, मौतें – 178
  2. तमिलनाडू – 1204, मौतें – 12
  3. दिल्ली – 1561, मौतें – 30
  4. तेलंगाना – 624, मौतें – 17
  5. राजस्थान – 969, मौतें – 3
  6. उत्तर प्रदेश – 660, मौतें – 5
  7. आंध्रप्रदेश – 483, मौतें – 9
  8. केरल – 387, मौतें – 3
  9. मध्य प्रदेश – 730, मौतें – 50 
  10. कर्नाटक – 260, मौतें – 10
  11. गुजरात – 650, मौतें – 28
  12. जम्मू कश्मीर – 278, मौतें – 4 
  13. हरियाणा – 199, मौतें – 3
  14. वेस्ट बंगाल – 213, मौतें – 7 
  15. पंजाब – 176, मौतें – 12
  16. ओडिशा – 60, मौतें – 1
  17. बिहार – 66, मौतें – 1
  18. उत्तराखंड – 37, मौतें – 0
  19. नार्थ ईस्ट – 32, मौतें – 0
  20. चंडीगढ़ – 21, मौतें – 0
  21. हिमाचल प्रदेश – 33, मौतें – 1
  22. लद्दाख – 17, मौतें – 0
  23. अंडमान निकोबार – 11, मौतें – 0 
  24. छतीसगढ़ – 33, मौतें – 0
  25. गोवा – 7, मौतें – 0
  26. पांडेचेरी – 7, मौतें – 0
  27. झारखंड – 27, मौतें – 2

Today Covid19-updates 11439-corona-case-in-india 377-death 

इससे पहले, कल

COVID19 356 new cases record in Delhi:कोरोनावायरस दिल्ली में बीते दिन रिकॉर्ड तोड़ गया। सोमवार को दिल्ली में COVID-19 के 356 नए केस दर्ज हुए। यह किसी एक दिन दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है।

इनमें 325 मामले निजामुद्दीन के मरकज (Nizamuddin Markaz)से जुड़े है।

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमितों की संख्या अब 10,000 को भी पार कर गई है और 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

ऐसा पहली बार हुआ है जब बीते 24 घंटे में दिल्ली (Delhi) में रिकॉर्डतोड़ नए कोरोना केस 356 आएं (Coronaupdate: COVID19 356 new cases record in Delhi) है।

अब इसके साथ ही दिल्ली में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या1510 हो गई है।

इनमें से भी 1071 कोरोना मरीज मरकज से जुड़े है। हालांकि दिल्ली में अभी तक 28 लोगों की मौत कोरोना से हो चुकी है। सोमवार को कोरोना के कारण 4 मौतें हुई है और 34 लोग ठीक भी हो गए है।

गौरतलब है कि भारत में आज कोरोनावायरस के कारण लगे 21 के लॉकडाउन का अंतिम दिन है और संकेत मिल रहे है कि आज प्रधानमंत्री मोदी लॉकडाउन को आगे 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ा भी सकते है।

कोरोना का सबसे ज्यादा कहर देश की दोनों राजधानियों में पड़ा है। मुंबई जोकि देश की आर्थिक राजधानी है, वहां कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा दिन प्रतिदन बढ़ता ही जा रहा है।

Today Covid19-updates 11439-corona-case-in-india 377-death 

महाराष्ट्र (Maharastra) में सोमवार को कोरोना संक्रमितों के 352 नए केस आए, जिनमें 242 केवल मुंबई से और और 39 मामले पुणे से आए हैं।

बीते 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोरोना से 11 लोगों की मौत हो गई। अब महाराष्ट्र में COVID-19 से संक्रमितों की संख्या 2334 पहुंच गई है।  

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जो ताजा आंकड़े जारी किए है उनके अनुसार, देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या अब 9352 हो गई है।

बीते 24 घंटों में कोरोना के नए केस 905 दर्ज हुए है और 51 लोगों की मृत्यु हुई है। हालांकि देश में कुल 980 मरीज कोरोना से ठीक भी हुए है और 325 की मौत हो गई है।

 
Today Covid19-updates 11439-corona-case-in-india 377-death 

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 − 9 =

Back to top button