breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशबीमारियां व इलाजहेल्थ
Trending

Covaxin कोरोना के खिलाफ 77.8% तक प्रभावी, फेज-3 में भारत बायोटेक का दावा

भारत बायोटेक ने फेज-3 के अंतिम रिजल्ट को जारी करते हुए यह भी दावा किया कि कोवैक्सीन कोविड-19 के गंभीर सिम्पटोमैटिक(severe symptomatic Covid-19) में 93.4 फीसदी तक प्रभावकारी है।

Covaxin-effective-77.8%-in-final-phase-3-data-claim-by-bharat-biotech

नई दिल्ली: स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन कोरोना के खिलाफ लड़ाई में 77.8 प्रतिशत तक प्रभावी पाई गई है।यह दावा है कोवैक्सीन के निर्माता भारत बायोटेक का।

भारत बायोटेक ने आज,शनिवार कोवैक्सीन के फेज 3 ट्रायल का अंतिम चरण का रिजल्ट जारी करते हुए बयान दिया कि कोवैक्सीन कोविड-19 के खिलाफ 77.8 प्रतिशत प्रभावी (Covaxin-effective-77.8%-in-final-phase-3-data-claim-by-bharat-biotech)है।

इतना ही नहीं, भारत बायोटेक(Bharat Biotech)ने फेज-3 के अंतिम रिजल्ट को जारी करते हुए यह भी दावा किया कि कोवैक्सीन कोविड-19 के गंभीर सिम्पटोमैटिक(severe symptomatic Covid-19) में 93.4 फीसदी तक प्रभावकारी है।

हालांकि अभी इन आंकड़ों की समीक्षा की जानी बाकी है। इतना ही नहीं, भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन के टीके को कोरोना के नए म्यूटेंट डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ भी 65.2 प्रतिशत तक प्रभावी  बताया है।

दरअसल, कोरोना के डेल्टा वेरिएंट(Delta Variant) को अमेरिका के CDC सहित देश के एक्सपर्ट्स ने भी सर्वाधिक संक्रामक माना है।

कोवैक्सीन(Covaxin)का तीसरे चरण का ​​​​ट्रायल पूरे भारत में 25 साइटों पर 18-98 वर्ष की आयु के 130 रोगसूचक कोविड मामलों पर किया गया।

गौरतलब है कि Bharat Biotech की को-फाउंडर सुचित्रा एला ने देर रात ट्वीट कर कहा, “हमें वैज्ञानिक विश्वास, क्षमता और प्रतिबद्धता के साथ भारत को वैश्विक मानचित्र पर लाने पर गर्व है।

कोवैक्सिन का 10 विश्व स्तरीय पब्लिकेश ने क्लिनिकल रिसर्च, डाटा, सुरक्षा, प्रभावकारिता के आधार पर समर्थन किया है। सहयोगियों और पॉजिटिव बीबी टीमवर्क को धन्यवाद।”

भारत बायोटेक के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक डॉ कृष्णा एला ने कहा, “भारत में अब तक के सबसे बड़े कोविड टीकों के परीक्षण के परिणामस्वरूप कोवैक्सिन की सफल सुरक्षा और प्रभावकारिता भारत और दुनिया के विकासशील देशों में नवाचार पर ध्यान केंद्रित करने की क्षमता स्थापित करती है।

हमें यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि भारत से नवाचार अब वैश्विक आबादी की रक्षा के लिए उपलब्ध होगा।”

Covaxin-effective-77.8%-in-final-phase-3-data-claim-by-bharat-biotech

स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग के सचिव और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के महानिदेशक प्रो. (डॉ.) बलराम भार्गव ने कहा, “COVAXIN के सफल विकास ने वैश्विक क्षेत्र में भारतीय शिक्षा और उद्योग की स्थिति को मजबूत किया है.”

Covaxin को ब्राजील, भारत, फिलीपींस, ईरान, मैक्सिको सहित 16 देशों में आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण प्राप्त हुए हैं।

कंपनी Covaxin के लिए आपातकालीन उपयोग सूची प्राप्त करने के लिए WHO के साथ चर्चा कर रही है। आपूर्ति के लिए अतिरिक्त अनुरोधों के साथ उत्पाद को कई देशों में निर्यात किया गया है।

हैदराबाद में जीनोम वैली में स्थित, भारत बायोटेक ने दुनिया भर में टीकों की 4 बिलियन से अधिक खुराक वितरित की है.

कंपनी ने इन्फ्लूएंजा H1N1, रोटावायरस, जापानी एन्सेफलाइटिस (JENVAC), रेबीज, चिकनगुनिया, जीका, हैजा और टाइफाइड के लिए दुनिया का पहला टेटनस-टॉक्सोइड संयुग्मित वैक्सीन विकसित कर चुकी है।

 

Covaxin-effective-77.8%-in-final-phase-3-data-claim-by-bharat-biotech

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + 11 =

Back to top button