breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीतिराज्यों की खबरें

कारगिल विजय दिवस-527 जवान शहीदों को देश कर रहा है शत-शत नमन

हर साल 26 जुलाई को वीरगति को प्राप्त होने वाले वीर सपूतों को याद करते हुए 'विजय दिवस' मनाया जाता है। आज का दिन 'ऑपरेशन विजय' (Operation Vijay) की सफलता का प्रतीक माना जाता है। साल 1999 में भारत और पाकिस्तान के बीच मई से जुलाई तक युद्ध चला था।"

kargil-vijay-diwas-2022 india-paying-tribute-to-martyrs-of-war salute-martyrdom

नयी दिल्ली (समयधारा): Kargil Vijay Diwas 2022- देश आज करगिल विजय दिवस मना रहा है।

23 साल पहले भारतीय सेना ने करगिल युद्ध में पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया था।

पाकिस्तानी सेना ने घुसपैठ कर जिन जगहों पर कब्जा कर लिया था।

भारत के जांबाज फौजियों ने उन दुर्गम स्थानों पर दोबारा तिरंगा लहराया था।

दरअसल 26 जुलाई 1999 को भारत (India) के वीर सैनिकों ने पाकिस्तानी घुसपैठिए आतंकवादी (Pakistani Terrorists) और सैनिकों को कारगिल से खदेड़ दिया था।

भारत की नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्म ने शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा l

कारगिल विजय दिवस हमारे सशस्त्र बलों की असाधारण वीरता, पराक्रम और दृढ़ संकल्प का प्रतीक है।

भारत माता की रक्षा के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाले सभी वीर सैनिकों को मैं नमन करती हूं।

सभी देशवासी, उनके और उनके परिवारजनों के प्रति सदैव ऋणी रहेंगे। जय हिन्द!

देश के प्रधान मंत्री मोदी जी ने शहीदों को याद करते हुए ट्वीट किया 

कारगिल विजय दिवस मां भारती की आन-बान और शान का प्रतीक है।

इस अवसर पर मातृभूमि की रक्षा में पराक्रम की पराकाष्ठा करने वाले देश के सभी साहसी सपूतों को मेरा शत-शत नमन। जय हिंद!

इस खास मौके पर हर साल 26 जुलाई को वीरगति को प्राप्त होने वाले वीर सपूतों को याद करते हुए ‘विजय दिवस’ मनाया जाता है।

आज का दिन ‘ऑपरेशन विजय’ (Operation Vijay) की सफलता का प्रतीक माना जाता है।

साल 1999 में भारत और पाकिस्तान के बीच मई से जुलाई तक युद्ध चला था।

ऑपरेशन विजय’ के दौरान भारत के कई वीर सैनिकों ने अपनी जान गंवाई थी,

kargil-vijay-diwas-2022 india-paying-tribute-to-martyrs-of-war salute-martyrdom

लेकिन वह एक इंच भी अपनी जमीन से पीछे नहीं हटे थे। यह जंग 60 दिन से ज्यादा चली थी।

इस जंग में पाकिस्तान से लड़ते हुए भारत के 527 जवान शहीद हो गए थे।

देश रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कारगिल विजय दिवस के अवसर पर 1999 के कारगिल युद्ध में अपनी जान गंवाने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि दी।

उन्होंने कहा  कारगिल विजय दिवस पर, भारत हमारे सशस्त्र बलों की बहादुरी, साहस और बलिदान को सलाम करता है।

उन्होंने हमारी मातृभूमि की रक्षा के लिए अत्यंत कठोर परिस्थितियों में बहादुरी से लड़ाई लड़ी।

उनकी वीरता और अदम्य भावना हमेशा भारत के इतिहास में एक निर्णायक क्षण के रूप में अंकित रहेगी।

कारगिल विजय दिवस के मौके पर हर साल देश के वीर जवानों को याद करते हुए उनकी वीरता और साहस के किस्से हर जगह सुनाए जाते हैं।

आज के दिन हर कोई एक-दूसरे को रोमांच से भर देने वाले संदेश भेजता है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button