breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

कृषि कानूनों को टालने का प्रस्ताव अभी भी बरकरार: सर्वदलीय बैठक में पीएम मोदी

सोमवार,1 फरवरी को संसद में आम बजट पेश किया जाएगा...

All party meet PM Modi assures proposal to postpone farm laws still intact 

नई दिल्ली:संसद का बजट सत्र (Budget Session 2021) शुक्रवार से ही शुरू हो गया है। शनिवार (30 जनवरी को पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने सर्वदलीय बैठक (All party meet) में डिजिटल माध्यम से विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं से बातचीत की।

सर्वदलीय बैठक में कृषि कानून को लेकर उठे सवालों का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनकी सरकार अभी भी किसानों (Farmers) के साथ बातचीत को तैयार है।

मोदी ने आगे कहा कि तीन नए कृषि कानूनों को टालने को लेकर दिया गया प्रस्ताव अभी भी बरकरार (All party meet PM Modi assures proposal to postpone farm laws still intact) है।

सोमवार,1 फरवरी को संसद में आम बजट पेश किया जाएगा। शनिवार को सरकार ने प्रक्रिया के तहत सर्वदलीय बैठक बुलाई ताकि बजट सेशन के दौरान संसद की कार्यवाही सुचारू रूप से चलें

और विधायी कार्यों के संदर्भ में चर्चा हो सकें। विभिन्न  इस बैठक में दलों के नेताओं ने अलग-अलग मुद्दे उठाए।

सूत्रों के हवाले, से खबर आई है कि सर्वदलीय बैठक में पीएम मोदी(PM Modi) ने विभिन्न दलो के नेताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर प्रदर्शनकारी किसानों से महज एक फोन कॉल की दूरी पर है।

इस महीने की शुरुआत में ही कृषि मंत्री ने किसान नेताओं को इस बात से अवगत भी करा दिया था।

विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ हुई इस सर्वदलीय बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बताया कि पीएम ने बैठक के दौरान कहा कि यह बड़ी पार्टियों पर निर्भर करता है कि सदन की कार्यवाही कैसे सुचारू रूप से चले एवं  संसद में छोटे दलों को अपनी बात रखने का सही और पर्याप्त मौका मिले।

इस बैठक में राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, लोकसभा में तृणमूल कांग्रेस के नेता सुदीप बंदोपाध्याय, शिरोमणि अकाली दल के नेता बलविंदर सिंह भूंदड़, शिवसेना के विनायक राउत समेत कई विपक्षी दलों के नेता भी शामिल हुए।

गौरतलब है कि शुक्रवार से शुरू हुए संसद के बजट सत्र (Budget Session 2021) की प्रक्रिया के तहत ही आज शनिवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई गई और अब  1 फरवरी को आम बजट (Union Budget 2021) पेश किया जाएगा।

पहले ही माना जा रहा था कि किसान आंदोलन (Farmers Protest) को लेकर बजट सत्र (Budget session 2021)में हंगामा हो सकता है, पहले दिन कई विपक्षी दलों ने संसद परिसर में केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया।

गौरतलब है कि कल 20 विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार किया था इसलिए सरकार की कोशिश है कि बजट सत्र में हंगामा न हो।

लोकसभा स्‍पीकर ओम बिरला (Om birla) ने शुक्रवार को सभी दलों के साथ मीटिंग में कहा, ‘सबसे अपेक्षा है कि सदन सुचारू रूप से चले, व्यवस्थित चले और सभी संसद की मर्यादा को न भूलें।

जो भी मुद्दे रखना चाहेगा, उसे पर्याप्त अवसर दिया जाएगा। सभी दलों से आग्रह किया गया है कि संसद की मर्यादा को बनाए रखें। सभी ने आश्वासन दिया है। मैंने सभी राजनीतिक दलों से यह आग्रह किया है।’

All party meet PM Modi assures proposal to postpone farm laws still intact

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − fourteen =

Back to top button