breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

Lakhimpur Kheri case: सुप्रीम कोर्ट ने आशीष मिश्रा की जमानत रद्द की,एक हफ्ते में सरेंडर का आदेश

शीर्ष अदालत ने इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा जमानत दिए जाने के फैसले को रद्द कर दिया है और आदेश दिया है कि इस मामले की दोबारा से सुनवाई की(Supreme court-ask HC again hearing)जाए।

Lakhimpur-Kheri-Case-Supreme-Court-cancelled-Ashish-Mishra-s-bail

नई दिल्ली:लखीमपुरी खीरी केस में किसानों को कार से रौंदने के मामले में केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा की जमानत सुप्रीम कोर्ट ने आज रद्द कर(Lakhimpur-Kheri-Case-Supreme-Court-cancelled-Ashish-Mishra-s-bail)दी।

सुप्रीम कोर्ट ने आशीष मिश्रा(Ashish-Mishra)को एक हफ्ते के अंदर सरेंडर करने का आदेश दिया है।

शीर्ष अदालत ने इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा जमानत दिए जाने के फैसले को रद्द कर दिया है और आदेश दिया है कि इस मामले की दोबारा से सुनवाई की(Supreme court-ask HC again hearing)जाए।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पीड़ितों को हर कार्यवाही में सुनवाई का अधिकार है। मौजूदा मामले में पीड़िता को सुनवाई के अधिकार से वंचित किया गया है।

हाईकोर्ट ने कई अप्रासंगिक विचारों और अनदेखी मिसालों को ध्यान में रखा है। कोर्ट ने कहा कि एक हफ्ते में आशीष मिश्रा सरेंडर करें।

आपको बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव 2022(UP Assembly elections 2022के दौरान किसानों की हत्या करने के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को इलाहाबाद हाईकोर्ट के द्वारा जमानत दे दी गई थी।

इलाहाबाद हाईकोर्ट की एकल पीठ ने 10 फरवरी को मिश्रा को मामले में जमानत दे दी थी. इससे पहले, वह चार महीने तक हिरासत में रहा था। इस हिंसा में चार किसानों सहित आठ लोग मारे गए थे।

इस फैसले के खिलाफ पीड़ित पक्ष सुप्रीम कोर्ट गया था।

अब आज सोमवार, 18 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने लखीमपुर खीरी किसानों की हत्या के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की जमानत रद्द कर दी(Lakhimpur-Kheri-Case-Supreme-Court-cancelled-Ashish-Mishra-s-bail) है।

आपको बता दें कि लखीमपुर हिंसा(Lakhimpur-Kheri-Violence)का मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा मोदी कैबिनेट में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री है। पुलिस-सीबीआई प्रशासन उनके अंतर्गत आता है।

Lakhimpur Kheri:मृत किसानों के लिए ‘आज किसान शहीद दिवस’,अंतिम अरदास में प्रियंका गांधी भी होंगी शामिल

 

क्या है पूरा मामला?

3 अक्टूबर को लखीमपुर(Lakhimpur Kheri) हिंसक झड़प में चार किसान, एक स्थानीय पत्रकार और एक भाजपा कार्यकर्ता सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी।

आशीष मिश्रा इस मामले में मुख्य आरोपी है। आरोप है कि जिस थार जीप से किसानों को कुचला गया था वह आशीष मिश्रा ही चला रहा था।

मामले के राजनीतिक तूल पकड़ने बाद पुलिस ने आशीष मिश्रा को पूछताछ के लिए समन भेजकर बुलाया गया लेकिन वह पहले दिन (शुक्रवार) को क्राइम ब्रांच के ऑफिस नहीं पहुंचा।

इसके बाद एक और समय जारी किया गया तब जाकर अगले दिन शनिवार को पेश हुआ और करीब 12 घंटे की पूछताछ के बाद उसे गिरफ्तार किया गया था।

डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने मीडिया को जानकारी दी कि आशीष मिश्र जांच में सहयोग नहीं कर रहे। इसलिए उन्हें गिरफ्तार किया जाता(Ashish Mishra arrested) है। 

 

 

Lakhimpur-Kheri-Case-Supreme-Court-cancelled-Ashish-Mishra-s-bail

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button