breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीतिराज्यों की खबरें
Trending

Lakhimpur Kheri Case: केंद्रीय मंत्री का बेटा ‘आशीष मिश्रा गिरफ्तार’,सोमवार तक न्यायिक हिरासत में

इससे पहले उनके घर पर दो बार नोटिस चस्पा किए गए,लेकिन आशीष मिश्रा गायब रहे। फिर दूसरी बार नोटिस चस्पा करने के बाद वह शनिवार को क्राइम ब्रांच के ऑफिस पूछताछ में शामिल होने पहुंचे।

Lakhimpur-Kheri-case-Ashish-Mishra-arrested

लखनऊ: UP के लखीमपुर खीरी जिले(Lakhimpur-Kheri)में किसानों को अपनी कार से कुचलने के आरोपी केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा(Ashish-Mishra)को तकरीबन 12घंटे से ज्यादा की पूछताछ के बाद शनिवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court)के दखल के बाद क्राइम ब्रांच के समक्ष आशीष मिश्रा शनिवार को पूछताछ के लिए पेश हुए।

इससे पहले उनके घर पर दो बार नोटिस चस्पा किए गए,लेकिन आशीष मिश्रा गायब रहे।

फिर दूसरी बार नोटिस चस्पा करने के बाद वह शनिवार को क्राइम ब्रांच के ऑफिस पूछताछ में शामिल होने पहुंचे।

यहां उन्होंने जांच में पूरा सहयोग नहीं किया और नतीजतन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर (Lakhimpur-Kheri-case-Ashish-Mishra-arrested)लिया।

आशीष मिश्रा को रात 12.30 बजे ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया।

SIT पूछताछ के लिए तीन दिन की न्यायिक हिरासत की मांग कर रही थी, लेकिन आशीष मिश्रा के वकीलों ने इसका विरोध किया।

ऐसे में ड्यूटी मजिस्ट्रेट ने आशीष को न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिए। फिलहाल इस मामले की अगली सुनवाई अब सोमवार को होगी।

पुलिस का कहना है कि वह ‘टालमटोल करने वाला जवाब’ दे रहा था और जांच में सहयोग नहीं कर रहा था।

Lakhimpur Kheri हिंसा मामले पर सुप्रीम कोर्ट का यूपी सरकार से सवाल-आशीष मिश्रा को अभी तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया

उत्तर प्रदेश पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, मंत्री के बेटे से किए सवाल पूछ गए, जिनका वह सही से जवाब नहीं दे पाए। उससे पूछा गया है कि वह घटना के दिन दोपहर 2 बजे से 4 बजे के बीच कहां था?

आशीष मिश्रा के साथ क्राइम ब्रांच की पूछताछ की प्रमुख बातें:

Lakhimpur-Kheri-case-Ashish-Mishra-arrested

-शनिवार को आशीष मिश्रा (Ashish Mishra) अपने कानूनी सलाहकारों के साथ SIT दफ्तर पहुंचे थे. उनके पास कई वीडियो भी थे, लेकिन 3 अक्टूबर दोपहर ढ़ाई बजे से लेकर 3.45 के बीच वो कहां थे इस बाबत कोई पुख्ता सबूत नहीं पेश कर पाए।

 

राहुल गांधी को देर तक लखनऊ एयरपोर्ट पर रोकने के बाद लखीमपुर जाने की इजाजत

-यही नहीं उनकी गाड़ी थार में कारतूस कैसे पहुंचे इसका भी उनके पास जवाब नहीं था. कई प्रत्यक्षदर्शियों ने फायरिंग की बात कही, उस बाबत जब उनकी और उनके दोस्त अंकित दास की भूमिका पूछी गई तो उस सवाल का जवाब भी वो टालते रहे। SIT के कई सवालों पर उनका जवाब संतोषजनक नहीं था, जिसके बाद उनको गिरफ्तार कर लिया गया।

-शनिवार को उनकी गिरफ्तारी के मद्देनजर तनाव को देखते हुए लखीमपुर खीरी के कई जगहों पर पुलिस फोर्स को भी लगाया गया है। सोमवार को आशीष मिश्रा रिमांड मामले की अदालत में सुनवाई होगी। वहीं संयुक्त किसान मोर्चा ने तिकुनिया में मारे गए किसानों के लिए श्रद्धांजलि देने का कार्यक्रम भी रखा है।

गिरफ्तार प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी को भेजा ये Video,गेस्ट हाउस बना अस्थायी जेल,11पर केस दर्ज

-मंत्री के आरोपी बेटे आशीष मिश्रा का तीन घंटे तक इंतजार करने वाले यूपी के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने उसे पिछले दरवाजे से लाया। जिससे उन्हें मीडिया की भीड़ से बचने में मदद मिली। आशीष मिश्रा से देर रात तक पूछताछ की गई। यूपी पुलिस(UP Police) ने आशीष मिश्रा को कानून की एक धारा के तहत नोटिस जारी किया था, जो गवाहों की उपस्थिति से संबंधित है, आरोपी से नहीं।

Lakhimpur-Kheri-case-Ashish-Mishra-arrested

 

-उत्तर प्रदेश पुलिस के शीर्ष सूत्रों के मुताबिक, मंत्री का बेटा पिछले रविवार को घटना के दौरान कहां मौजूदा था, इस बारे में कई चीजें स्पष्ट नहीं कर पाया। गवाहों का कहना है कि आशीष मिश्रा उस कार्यक्रम से गायब था, जहां उसने बताया था कि वह 2 से 4 बजे के बीच था।

उसकी फोन की लोकेशन भी क्राइम सीन के करीब मिली। किसानों को टक्कर मारने वाली एसयूवी के ड्राइवर के बारे में उसने ब्योरा दिया है वो भी मेल नहीं खा रहा है।

-मंत्री के बेटे की गिरफ्तारी सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश के एक दिन बाद हुई जिसमें कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से कहा था कि इस घटना पर देशव्यापी आक्रोश है। कोर्ट ने कहा था कि किसान समूहों के बढ़ते दबाव के बीच कानून को इस मामले में “जो भी शामिल है” उसके खिलाफ अपना काम करना चाहिए।

-जस्टिस एनवी रमना ने तीखी फटकार में कहा था, “आप क्या संदेश भेज रहे हैं? सामान्य परिस्थितियों में भी… क्या पुलिस तुरंत नहीं जाएगी और आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करेगी? चीजें उस तरह से आगे नहीं बढ़ीं जो उन्हें होनी चाहिए थी. यह केवल शब्द प्रतीत होता है, कार्रवाई नहीं।”

Lakhimpur-Kheri-case-Ashish-Mishra-arrested

 

-एक दिन पहले अपने बेटे के सामने न आने के बाद मंत्री अजय मिश्रा ने कहा था कि आशीष मिश्रा शनिवार को पेश होंगे. उन्होंने कहा कि उनका बेटा खराब स्वास्थ्य के कारण समन का जवाब नहीं दे सका।

-आशीष मिश्रा का नाम किसानों द्वारा दायर FIR में लिया गया है. जिसमें कहा गया है कि किसानों के शांतिपूर्ण मार्च के बीच से आशीष अपनी कार से तेज गति से लोगों को रौंदते निकला।

इस घटना और इससे हुई हिंसा में चार किसानों और काफिले के चार लोगों सहित आठ लोगों की मौत हो गई।

हालांकि केंद्रीय मंत्री के बेटे ने स्वीकार किया कि किसानों के ऊपर से दौड़ी एसयूवी उनकी है, लेकिन उनका कहना है कि वह उसमें नहीं थे।

-मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंचते ही गुरुवार को दो लोगों लव कुश और आशीष पांडे को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने कहा कि वे कथित तौर पर उसी वाहन में सवार थे जो एक पत्रकार और किसानों के ऊपर चढ़ गई था।

Watch This:

Lakhimpur-Kheri-case-Ashish-Mishra-arrested

 

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 2 =

Back to top button