breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबिजनेसबिजनेस न्यूज
Trending

अब आपके PF पर मिलने वाले ब्याज में कटौती, 40 साल में सबस कम

सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए एंप्लॉयी प्रोविडेंट फंड (EPF) जमा पर 8.1 प्रतिशत ब्याज दर को मंजूरी दे दी है l 

government-approved 8-point-1-percent-interest-rate-on-epf-deposits   lowest-in-over-40-years

नयी दिल्ली (समयधारा) : अब आपके PF पर मिलने वाले ब्याज में कटौती, 40 साल में सबस कम l 

जी हाँ आपने सही सूना..! सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए एंप्लॉयी प्रोविडेंट फंड (EPF) जमा पर 8.1 प्रतिशत ब्याज दर को मंजूरी दे दी है l 

“सरकार ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के करीब पांच करोड़ खाताधारकों को वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रोविडेंट फंड (PF) जमा पर 8.1 फीसदी ब्याज देने को मंजूरी दे दी है।

यह पिछले चार दशकों अब तक की सबसे कम ब्याज दर है। पिछले वित्त वर्ष में यह ब्याज दर 8.5 फीसदी थी।

Ankita Lokhande और Vicky Jain बने स्मार्ट जोड़ी विजेता,ट्रॉफी संग जीते लाखों रुपये

बता दें कि EPFO ने इसी साल मार्च में वित्त वर्ष 2022 के लिए ब्याज दर को 8.5 फीसदी से घटाकर 8.1 फीसदी करने का फैसला दिया।

सरकार ने शुक्रवार को EPFO के इसी फैसले को मंजूरी दी है।”

“EPFO की तरफ से जारी आदेश के मुताबिक, लेबर मिनिस्ट्री ने वित्त वर्ष 2022 के लिए EPFO सब्सक्राइबर्स को 8.1 फीसदी ब्याज की मंजूरी मिलने के बारे में सूचना दी है।

लेबर मिनिस्ट्री ने इस प्रस्ताव को मंजूरी के लिये वित्त मंत्रालय को भेजा था।”

government-approved 8-point-1-percent-interest-rate-on-epf-deposits   lowest-in-over-40-years

सुप्रीम कोर्ट ने आर्य समाज के विवाह प्रमाणपत्र को कानूनी मान्यता देने से इंकार किया

 “सरकार से मंजूरी मिल जाने के बाद EPFO अब कर्मचारियों के एंप्लॉयी प्रोविडेंट फंड (EPF) खातों में ब्याज राशि डालना शुरू करेगा।

EPF जमा पर यह 8.1 फीसदी ब्याज वित्त वर्ष 1978 के बाद सबसे कम है। उस समय ब्याज दर 8 फीसदी रही थी।”

 “EPFO के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (CBT) में कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व करने वाले ट्रस्टी केई रघुनाथन ने कहा कि

जिस तेजी से लेबर और फाइनेंस मिनिस्ट्री ने ब्याज दर को मंजूरी दी है, वह वास्तव में सराहनीय है।

इससे कर्मचारियों को अपने बच्चों की शिक्षा और अन्य जरूरतों को पूरा करने में मदद मिलेगी।” 

“बता दें कि EPFO से जुड़े सभी अहम फैसले सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (CBT) ही करता है।

CBT ने पिछले वित्त वर्ष में EPF जमा पर 8.5 फीसदी ब्याज देने का फैसला मार्च 2021 में किया था।

वित्त मंत्रालय ने इसे अक्टूबर 2021 में मंजूरी दी।

लवर जोक्स : प्रेमी प्रेमिका से डार्लिंग आई वांट यू..! मेरे साथ एक अच्छे होटल में…

government-approved 8-point-1-percent-interest-rate-on-epf-deposits   lowest-in-over-40-years

उसके बाद EPFO ने अपने क्षेत्रीय कार्यालयों को 2020-21 के लिये 8.5 फीसदी की दर से ईपीएफ खातों में ब्याज डालने का निर्देश दिया था।”

“EPFO ने फिस्कल ईयर 2019-2020 में 8.5% ब्याज दिया था। उसके बाद फिस्कल ईयर 2020-2021 में भी 8.5% ही ब्याज मिला था।

जबकि 2018-19 में EPFO ने 8.65% ब्याज दिया था। फिस्कल ईयर 2017-18 में 8.55% ब्याज मिला।

फिसक्ल ईयर 2016-17 में 8.65% ब्याज मिला और फिस्कल ईयर 2015-16 में 8.8% ब्याज मिला था।”

Jammu-Kashmir में टारगेट किलिंग जारी, महज 24 घंटे में ही आतंकियों ने 2 गैर कश्मीरियों को निशाना बनाया,बिहार के मजदूर की मौत

Show More

Dharmesh Jain

धर्मेश जैन www.samaydhara.com के को-फाउंडर और बिजनेस हेड है। लेखन के प्रति गहन जुनून के चलते उन्होंने समयधारा की नींव रखने में सहायक भूमिका अदा की है। एक और बिजनेसमैन और दूसरी ओर लेखक व कवि का अदम्य मिश्रण धर्मेश जैन के व्यक्तित्व की पहचान है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button