breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति

Live Farmers Protest Updates : कड़े पहरे के बीच किसानों की संसद शुरू

200 किसानों व कड़े पुलिस पहरे के बीच जंतर मंतर पर किसानों की संसद शुरू हो गयी है ,और सुबह 11 से शाम 5 बजे तक विरोध प्रदर्शन करेगीl

Live farmers protest updates : delhi jantar mantar kisan sansad

नई दिल्ली (समयधारा) : देश भर में कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन के बाद,

अब किसानों ने अपनी किसान संसद लगाने की शुरुआत कर ली है l

यह किसान महीनों से दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले हुए थे l

अब प्रदर्शनकारी किसान कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ आंदोलन (Farmers Protest) को तेज करने के लिए गुरुवार को राजधानी शहर में मार्च करेंगे।

संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) के नेतृत्व में किसान जंतर मंतर (Jantar Mantar) तक मार्च करेंगे जहां उन्हें विरोध प्रदर्शन करने की अनुमति दी गई है।

कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी से देश में कोई मौत नहीं?विपक्ष हमलावर

200 किसानों व कड़े पुलिस पहरे के बीच जंतर मंतर पर किसानों की संसद शुरू हो गयी है l  

और सुबह 11 से शाम 5 बजे तक विरोध प्रदर्शन करेगीl

 चलियें जानते किसानों के प्रदर्शन की पल-पल की खबरें (Farmers Protest LIVE Updates)

किसान एकता मोर्चा ने कहा, “किसान संसद में जरूरी मुद्दों पर चर्चा शुरू हो गई हैं।

मोदी सरकार को जगाने और कृषि कानूनों की जमीनी हकीकत जानने के लिए एक चरम पहल।”

इससे पहले, किसानों को लेकर बसें दिल्ली के जंतर मंतर पर पहुंच गई हैं।

Live farmers protest updates : delhi jantar mantar kisan sansad

प्रदर्शन कर रहे किसान यहां केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन करेंगे।

देश में Bird Flu का खतरा, दिल्ली में 1 की मौत, जानियें क्या है बर्ड फ्लू

किसानों के विरोध प्रदर्शन पर शिरोमणि अकाली दल की सांसद हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि ये सरकार किसान विरोधी है।

किसान पिछले 8 महीनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। सरकार कहती है कि किसान हमसे बात करें,

लेकिन कानून वापस नहीं होंगे। जब आप ने कृषि कानून वापस नहीं लेने है, तो किसान आपसे क्या बात करेंगे?

दिल्ली: शिरोमणि अकाली दल (SAD) के सांसदों ने तीन कृषि कानूनों का विरोध किया

और संसद परिसर में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को आज फिर तख्तियां दिखाईं।

दूसरी तरफ सरकार की और से केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि हमने किसानों से नए कृषि कानूनों के संदर्भ में बात की है।

किसानों को कृषि कानूनों के जिस भी प्रावधान में आपत्ति हैं, वे हमें बताएं।

सरकार आज भी खुले मन से किसानों के साथ चर्चा करने के लिए तैयार है।

guruvar-ke-totke-गुरुवार के दिन करें ये छोटा सा काम,धन-दौलत संग होंगे गुरु बलवान

Live farmers protest updates : delhi jantar mantar kisan sansad

वही लोकसभा में विपक्ष के कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने किसानों द्वारा नए कृषि कानूनों के खिलाफ जंतर मंतर पर होने वाले प्रदर्शन पर कहा कि

कांग्रेस पार्टी किसानों के प्रदर्शन और आंदोलन का पूर्ण रूप से समर्थन करती है,

और इस मुद्दे पर सदन में चर्चा हो, इसके लिए मैंने स्थगन प्रस्ताव को सदन के स्पीकर को दिया है।

वही दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP) के लोकसभा सांसद भगवंत मान ने कहा कि कृषि कानूनों के वापस लेने के सिवा और कोई विकल्प नहीं है।

नरेंद्र सिंह तोमर बयान देते हैं कि हम किसानों से बातचीत करने के लिए तैयार हैं,

Thursday thoughts:जो व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को धोखा देता है,तो वह यह भूल जाता है कि

बस वे 3 कानूनों को वापस लेने की बात न करें। तो फिर और क्या बात करें? Live farmers protest updates : delhi jantar mantar kisan sansad

वही कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तीन कृषि कानूनों को लेकर गांधी प्रतिमा के सामने पार्टी सांसदों के साथ धरना दिया।

पुलिस जानबूझकर यहां घुमा रही है। ये हमारा समय बर्बाद कर रहे हैं। हमारा रूट पहले से तय था।

बसों के जरिए सिंघु बॉर्डर से जंतर मंतर जाना था फिर उतरकर पार्लियामेंट जाना था लेकिन कह रहे हैं कि कॉलोनी से जाए।

इतने पुलिस बल की ज़रूरत नहीं थी: मंजीत सिंह राय, किसान नेता, सिंघु बॉर्डर

कांग्रेस सांसदों ने संसद परिसर में 3 कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

Bigg-Boss-15:जारी हुआ बिग बॉस15 का पहला प्रोमो,सलमान ने कहा-टीवी पर बैन!

26 जनवरी को लाल किला हिंसा जैसी स्थितियों से निपटने की व्यवस्था के बारे में पूछे जाने पर बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने कहा कि

जंतर मंतर से संसद महज 150 मीटर की दूरी पर है। हम वहां अपना संसद सत्र आयोजित करेंगे।

हमें गुंडागर्दी से क्या लेना-देना? क्या हम बदमाश हैं? Live farmers protest updates : delhi jantar mantar kisan sansad

इससे पहले,  आज जंतर मंतर पर 3 कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन करने जाने के लिए किसान सिंघु बॉर्डर पर इकट्ठे हो गए हैं।

किसानों के प्रदर्शन को ध्यान में रखकर टिकरी बॉर्डर पर प्रतिबंध की व्यवस्था की गई। सिर्फ सिंघु बॉर्डर से आने जाने की अनुमति है।

टिकरी बॉर्डर से किसानों के प्रदर्शन से संबंधित आवाजाही की अनुमति नहीं है।

बाकी अन्य तरह की आवाजाही पर रोक नहीं है: परविंदर सिंह, DCP बाहरी ज़िला, दिल्ली

किसान संगठनों द्वारा आज जंतर मंतर पर नए कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन को देखते हुए बढ़ी संख्या में सुरक्षाबल मौजूद हैं।

सिंघु बॉर्डर पर किसान नेता मंजीत सिंह राय ने कहा कि 200 किसान संसद के आगे कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ प्रदर्शन के लिए जाएंगे।

 

जंतर मंतर पर हमारी बसें रुकेंगी वहां से हम पैदल जाएंगे। जहां पर भी हमें पुलिस रोकेगी वहीं पर हम अपनी संसद लगाएंगे।

जिन किसानों के आईकार्ड बन गए हैं वे आगे जाएंगे। Live farmers protest updates : delhi jantar mantar kisan sansad

जंतर मंतर पर 3 कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के लिए जाने के लिए किसान सिंघु बॉर्डर पर इकट्ठा हो रहे हैं।

किसान नेता प्रेम सिंह भंगू ने कहा, “हम वहां विस्तार से चर्चा करेंगे, हम स्पीकर भी बनाएंगे,

चर्चा होगी और प्रश्नकाल भी होगा। 200 से अधिक किसान नहीं जाएंगे।”

गाजीपुर बॉर्डर से किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि 200 लोग संसद जाएंगे और वहां किसान संसद लगाएंगे और पंचायत करेंगे।

यह सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक चलेगा। हम यहां से सिंघु बॉर्डर जाएंगे और वहां से बसों से जंतर मंतर जाएंगे।

जंतर-मंतर पर पंचायत होगी जिसे किसान संसद का नाम दिया गया है।

शायरी : था जिनकी वफा पर नाज़ हमे, हमराज बदलते देखे हैं …

शायरी : था जिनकी वफा पर नाज़ हमे, हमराज बदलते देखे हैं …

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − two =

Back to top button