breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

संत बाबा राम सिंह जी की आत्महत्या पर राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

शिरोमणि अकाली दल की नेत्री हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट करके मोदी सरकार को लताड़ा. उन्होंने कहा कि ''केंद्र सरकार यहां तक जिद्दी बनी हुई है और किसानों की पीड़ा को नकार रही है...

Farmers Protest: sant baba ram singh suicide rahul gandhi hit on Modi govt

 नई दिल्ली: किसान आंदोलन 2020(Farmers Protest 2020)अभी तक 14 किसानों की आहुति ले चुका है और बुधवार को नए कृषि कानूनों के खिलाफ बीते 21 दिनों से आंदोलन में शिरकत कर रहे करनाल जिले के विख्यात सिख संत बाबा राम सिंह जी ने आंदोलन के समर्थन में आत्महत्या(sant baba ram singh commits suicide)कर ली है।

बाबा राम सिंह जी(baba ram singh) किसानों की दुर्दशा से बहुत आहत थे। बुधवार को उन्होंने दिल्ली की कुंडली सीमा पर खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली।

आत्महत्या के साथ-साथ बाबा रामसिंह ने किसान आंदोलन(kisan andolan) और नए कृषि कानूनों (baba ram singh suicide note) को लेकर एक नोट भी लिखा है।

संत बाबा राम सिंह की आत्महत्या से न केवल किसानों में गम की लहर है बल्कि विभिन्न राजनीतिक हस्तियों ने भी शोक व्यक्त किया है। साथ ही मोदी सरकार की हठधर्मी को लेकर निशाना साधा है।

कई दिनों से दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में संत बाबा राम सिंह जी की आत्महत्या (Baba Ram Singh suicide)पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मोदी सरकार(Modi govt) पर निशाना साधा है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की क्रूरता हर हद पार कर चुकी है। उन्होंने एक ट्वीट कर कहा कि सरकार को जिद छोड़कर तुरंत कृषि विरोधी कानूनों को वापस लेना चाहिए।

Farmers Protest: sant baba ram singh suicide rahul gandhi hit on Modi govt

बाबा राम सिंह की आत्महत्या पर सिर्फ कांग्रेस नेता ही नहीं बल्कि पंजाब में भाजपा का सालों पुराना गठबंधन रहे शिरोमणि अकाली दल ने भी दुख व्यक्त किया है।

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने ट्वीटर पर कहा कि ”यह सुनकर दुख हुआ कि संत बाबा राम सिंह जी नानकसर सिंघरा वाले ने किसानों की पीड़ा को देखते हुए किसानों के धरने में सिंघू बॉर्डर पर खुद को गोली मार ली।

संत जी के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा. मैं केंद्र सरकार से आग्रह करता हूं कि स्थिति को और खराब न होने दें और तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करें.”

Farmers Protest: sant baba ram singh suicide rahul gandhi hit on Modi govt

 

शिरोमणि अकाली दल की नेत्री हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट करके मोदी सरकार को लताड़ा. उन्होंने कहा कि ”केंद्र सरकार यहां तक जिद्दी बनी हुई है और किसानों की पीड़ा को नकार रही है।

बाबा राम सिंह जी सिंघरा वाले ने कुंडली सीमा पर अपने आसपास के लोगों के कष्टों को देखने में असमर्थ होने के बाद आत्महत्या कर ली है।

आशा है कि केंद्र सरकार इस त्रासदी के बाद जागेगी और इससे पहले कि बहुत देर हो जाए तीनों कृषि कानूनों को वापस लेगी.”

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने भी बाबा राम सिंह जी  के निधन पर शोक व्यक्त किया।

कांग्रेस के नेता गौरव पांधी ने ट्वीट करके सिख संत के निधन पर दुख प्रकट किया. उन्होंने कहा कि  करनाल के संत राम सिंह जी सिंघरा, जिन्होंने आज आत्महत्या कर ली, के अंतिम शब्दों को पढ़ना बेहद दर्दनाक और चौंकाने वाला है. उन्होंने लिखा, “सरकार किसानों के साथ जो कर रही है वह अन्यायपूर्ण है और मैं इस अन्याय के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के रूप में अपना जीवन समाप्त कर रहा हूं.” ओम शांति.

कांग्रेस के प्रवक्ता और सांसद रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करके सिख संत के आत्महत्या करने पर दुख जताया।

उन्होंने कहा कि कुंडली बार्डर पर किसानों के लिए संघर्षरत करनाल के संत राम सिंह की आत्महत्या बेहद दुखद है। विनम्र श्रद्धांजलि! मोदी जी, शीतलहर के बीच किसानों की भावनाओं से खिलवाड़ को तत्काल छोड़िए।

Farmers Protest: sant baba ram singh suicide rahul gandhi hit on Modi govt

ये राजहठ आत्मघाती है क्योंकि ये देश की आत्मा-अन्नदाता की जान का दुश्मन बन बैठा है।

 

गौरतलब है कि बाबा राम सिंह सिंगड़ा वाले बाबा जी के नाम से दुनियाभर में प्रसिद्ध थे। हरियाणा और पंजाब ही नहीं और विश्वभर में संत बाबा राम सिंह जी को सिंगड़ा वाले संत के नाम से ही जाना जाता था।

बुधवार को गोली मारकर आत्महत्या करने की खबर से दुनियाभर में उनके अनुयायी शोक में डूब गए।

सभी लोग उन्हें सोशल मीडिया पर श्रद्धांजलि दे रहे हैं।

बाबा जी सिंगड़ा वाले डेरे के अलावा विश्वभर प्रवचन करने के लिए जाते थे। वह सिखों की नानकसर संप्रदाय से जुडे थे ।

नानकसर संप्रदाय में संत बाबा रामसिंह का बहुत ऊंचा स्थान माना जाता है। काफी दिनों से संत बाबा राम सिंह किसान समस्याओं को लेकर व किसान आंदोलन को लेकर दुखी थे।

उधर, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने बुधवार को राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर तीन कृषि कानूनों के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को ‘अपवाद’ बताया और कहा कि यह ‘एक राज्य तक सीमित’ है।

हालांकि उन्होंने इस मामले के जल्द समाधान की उम्मीद भी जताई। तीन कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए तोमर ने कहा, ‘कृषि क्षेत्र में हुए हालिया सुधारों से देश में उत्साह का वातावरण है।’

 

Farmers Protest: sant baba ram singh suicide rahul gandhi hit on Modi govt

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − nineteen =

Back to top button