breaking_newsअन्य ताजा खबरेंफैशनलाइफस्टाइल
Trending

Ganga Dussehra 2022:आज गंगा दशहरा पर इस शुभ मुहूर्त में करें स्नान-दान,मिलेगा मनचाहा वरदान

गंगा दशहरा पर शुभ मुहूर्त में पूजा-पाठ और स्नान करने से मां गंगा आपके सभी कष्टों और पापों से मुक्ति दिलाती है। 

Ganga-Dussehra-2022-snan-puja-shubh-muhurat-today

आज गंगा दशहरा है। हिंदू पंचाग के अनुसार प्रतिवर्ष ज्येष्ठ माह की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को पावन गंगा दशहरा(Ganga Dussehra)का पर्व श्रद्धापूर्वक मनाया जाता है।

इस वर्ष गंगा स्नान या गंगा दशहरा आज,गुरुवार,9 जून 2022 को(Ganga snan/Dussehra Kab Hai) है।

गंगा दशहरा के दिन,स्नान-दान का विशेष महत्व होता है।

गंगा दशहरा पर शुभ मुहूर्त में पूजा-पाठ और स्नान करने से मां गंगा आपके सभी कष्टों और पापों से मुक्ति दिलाती(Ganga-Dussehra-2022-snan-puja-shubh-muhurat-today)है। 

इसलिए गंगा दशहरा(Ganga-Dussehra)को गंगा स्नान (Ganga Snan) भी कहा जाता है।

 

 

guruvar-ke-totke-गुरुवार के दिन करें ये छोटा सा काम,धन-दौलत संग होंगे गुरु बलवान

 

 

 

चलिए अब बताते है गंगा दशहरा स्नान-पूजा शुभ मुहूर्त-Ganga-Dussehra-2022-snan-puja-shubh-muhurat-today

Ganga-Dussehra-2022-snan-puja-shubh-muhurat-today
गंगा दशहरा स्नान-दान-पूजा शुभ मुहूर्त

आज ,गुरुवार 9 जून को सुबह 8:21 बजे दशमी शुरू होगी और आज के दिन ही गंगा दशहरा मनाया जा रहा है। दशमी तिथि,जिसे गंगा दशहरा भी कहा जाता है,10 जून को शाम 7:25 बजे तक जारी रहेगी।

खास बात है कि इस बार गंगा दशहरा के दिन हस्त नक्षत्र और व्यतीपात योग भी है। इसलिए आज के दिन दान करने का महत्व और भी  ज्यादा बढ़ जाता है।

 

 

Nirjala Ekadashi 2022:इस महीने 2 दिन पड़ रही है निर्जला एकादशी,जानें कब रखा जाएगा व्रत?

 

 

 

गंगा दशहरा पूजा विधि-Ganga-Dussehra-2022-Puja-Vidhi

गंगा दशहरा के दिन मां गंगा का पूजन किया जाता है और इस दिन गंगा स्नान का भी विशेष महत्व है।

ऐसी मान्यता है कि ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष में दसवीं तिथि को मां गंगा अवतरित हुई थीं और इसी उपलक्ष्य में गंगा दशहरा मनाया जाता है।

इसके साथ ही यह भी कहा जाता है कि गंगा दशहरा के दिन मां गंगा की पूजा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं।

इस दिन शुभ मुहूर्त में गंगा स्नान कर सूर्य भगवान को अर्घ्य दें।

अर्घ्य देते समय मां गंगा के मंत्र- ‘ॐ नमो गंगायै विश्वरूपिण्यै नारायण्यै नमो नमः’ का जाप करना चाहिए।

इसके साथ ही एक पान के पत्ते पर फूल और अक्षत लेकर के जल में प्रवाहित करना चाहिए।

इसके अलावा आप चाहें तो दीपक भी प्रवाहित कर सकते हैं। अंत में गंगा आरती करना शुभ होता है।

 

Bank Holidays in June 2022: जून में 12 दिन रहेगी बैकों में छुट्टियां,यहां देखें पूरी लिस्ट

 

Ganga-Dussehra-2022-snan-puja-shubh-muhurat-today

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button