breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंफैशनलाइफस्टाइल
Trending

Krishna Janmashtami Vrat:खंडित हो जाएगा जन्माष्टमी का व्रत,गलती से भी न करें ये काम

कृष्ण(Krishna) जी भगवान विष्णु के 8वें अवतार है।उन्होंने मामा कंस का वध करने के लिए देवकी और वासुदेव के घर जन्म लिया था।

Krishna-janmashtami-2021-vrat-puja-niyam-avoidable-things

नई दिल्ली:हिंदू पंचागानुसार भाद्र माह में कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को प्रभु कृष्ण का जन्मोत्सव कृष्ण जन्माष्टमी(Krishna-janmashtami-2021) धूमधाम से मनाया जाता है।

इस दिन व्रत धारण करने से श्रीकृष्ण और विष्णु जी की परम कृपा प्राप्त होती है।

लेकिन जन्माष्टमी व्रत(janmashtami-2021-vrat-puja-niyam)के नियमों का पालन ध्यानपूर्वक करना चाहिए अन्यथा आपका व्रत खंडित हो सकता है।

पौराणिक मान्यता के अनुसार, जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण जी का जन्म हुआ था।

कृष्ण(Krishna) जी भगवान विष्णु के 8वें अवतार है। उन्होंने मामा कंस का वध करने के लिए देवकी और वासुदेव के घर जन्म लिया था।

Krishna-janmashtami-2021-vrat-puja-niyam-avoidable-things

Krishna Janmashtami:कान्हा रे थोड़ा सा प्यार दे,चरणों में बैठा के तार दे…भेजें ऐसे ही जन्माष्टमी शुभकामना संदेश

 

जानें जन्माष्टमी व्रत-पूजा का शुभ मुहूर्त क्या है?

Krishna-janmashtami-2021-vrat-puja-shubh-muhurat

इस साल 2021 में भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि 29 अगस्त को रात 11 बजकर 25 मिनट पर शुरू होगी और 30 अगस्त की रात 1 बजकर 59 मिनट पर समाप्त होगी।

जन्माष्टमी व्रत पूजा का समय आज रात 11 बजकर 59 मिनट से 12 बजकर 44 मिनट तक रहेगा।

Janmashtami 2021:जन्माष्टमी पर बन रहा है दुर्लभ संयोग,जानें तिथि और शुभ मुहूर्त

जन्माष्टमी व्रत-पूजा में गलती से भी न करें ये काम

Krishna-janmashtami-2021-vrat-puja-niyam-avoidable-things

-आज जन्माष्टमी के दिन किसी का भी अमीर-गरीब के रूप में अनादर या अपमान न करें। लोगों से विनम्रता और सहृदयता का व्यवहार करें। किसी के साथ भेदभाव न करें।

-शास्त्रों के मुताबिक, आज जन्माष्टमी के दिन चावल या जौ से बना भोजन न ग्रहण करें।क्योंकि चावल को भगवान शिव का रूप भी माना गया है।

-पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, जन्माष्टमी के व्रत में श्री कृष्ण के जन्म होने के समय तक अर्थात रात 12 बजे तक व्रत का पालन करते हुए अन्न का सेवन न करें।

-जन्माष्टमी के दिन स्त्री-पुरुष अर्थात सभी व्रतधारी ब्रह्मचर्य का पालन करें। ऐसा न करने पर पाप लगेगा।

-जन्माष्टमी पर गायों की पूजा और सेवा जरूर करनी चाहिए। ऐसा नकारने पर भगवान श्री कृष्ण नाराज होते हैं।

जन्माष्टमी व्रत के दिन घर में  लहसुन और प्याज जैसी तामसिक चीजों का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

 

Watch This:

Krishna-janmashtami-2021-vrat-puja-niyam-avoidable-things

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × four =

Back to top button