breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंलाइफस्टाइल
Trending

Krishna Janmashtami:जन्माष्टमी पर करें मोर पंख का ये उपाय,वास्तु दोष,कष्ट दूर भगाएं

श्री कृष्ण को जन्माष्टमी के दिन मोर पंख(mor-pankh)जरुर चढ़ाना चाहिए। चूंकि कृष्णजी को मोर पंख अत्यंत प्रिय है। इसे पाकर वह प्रसन्न होते है और अपने भक्त की इच्छाएं पूरी करते है।

Krishna-Janmashtami-mor-pankh-upay-for-positivity-peacock-feathers-vastu-tips

कृष्ण जन्माष्टमी(Krishna-Janmashtami)हिंदू धर्म में बहुत धूम-धाम से मनाई जाती है, चूंकि इस दिन भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था।

जन्माष्टमी(Janmashtami 2022)के दिन भक्तजन कान्हा के लड्डू गोपाल रूप को घर लाते है।

रात के 12 बजते हुए उन्हें नवजात शिशु के जन्म की भांति दूध-गंगाजल और पंचामृत से नहलाते है। नए वस्त्र पहनाते है। झूला झुलाते है और कान्हा का पसंदीदा भोग उन्हें चढ़ाते है।

आज के दिन भक्तगण श्री कृष्ण(Lord Krishna)को प्रसन्न करने के लिए नए-नए उपाय भी करते(Janmashtami-upay)है ताकि उनके घर और जीवन में भगवान की कृपा बनी रहे।

श्री कृष्ण को जन्माष्टमी के दिन मोर पंख(mor-pankh)जरुर चढ़ाना चाहिए। चूंकि कृष्णजी को मोर पंख अत्यंत प्रिय है। इसे पाकर वह प्रसन्न होते है और अपने भक्त की इच्छाएं पूरी करते है।

वास्तु शास्त्र में भी मोर पंख से जुड़े ऐसे अनेकों उपाय बताएं गए है,जिनसे न केवल घर-परिवार,रिश्तों और नौकरी-बिजनेस में न केवल धन की बरकत होती है बल्कि आपके चारों ओर सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती(Krishna-Janmashtami-mor-pankh-upay-for-positivity)है।

वास्तुशास्त्र की मान्यता अनुसार,जन्माष्टमी के दिन मोर पंख घर लाने से घर का वास्तु दोष मिट जाता(peacock-feathers-vastu-tips)है।

चलिए अब आपको बताते है कि जन्माष्टमी पर मोर पंख घर में लाने के और क्या लाभ होते है और अगर आप इसे घर में लाते है तो इसे कहां पर कैसे लगाना चाहिए:

Krishna-Janmashtami-mor-pankh-upay-for-positivity-peacock-feathers-vastu-tips:

मोर पंख करता है आपकी सभी इच्छाएं पूरी

यदि आप श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर कान्हा को अपनी इच्छाएं बताते हुए मोर पंख चढ़ाते है तो आपकी सभी इच्छाएँ पूरी होती(Krishna-Janmashtami-mor-pankh-upay-for-positivity-peacock-feathers-vastu-tips)है।

बस जरुरत है कि आप इच्छा बोलते समय कोई भी नकारात्मक बात न बोलें यानि किसी के अनिष्ट की कामना न करें बल्कि अपनी और अपनों के विषय में केवल सकारात्मक इच्छाएं ही बोलें।

इसके बाद जन्माष्टमी के अगले दिन आप कान्हा को चढ़ाएं गए मोर पंख को अपनी तिजोरी या अल्मारी या किसी भी ऐसी जगह जहां केवल आपका हाथ लगता हो छिपाकर रख दें।

वास्तु शास्त्र के मुताबिक,इससे आपके जीवन में सकारात्मक बदलाव आएंगा और आपकी इच्छाएं जल्द ही पूर्ण होने लगेंगी। आप कृष्ण को मोर पंख चढ़ाते समय एक से ज्यादा कितनी भी इच्छाएं बोल सकते है।

मोर पंख करता है वास्तु दोष की समाप्ति

वास्तु में मोर पंख को सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक माना गया है। वास्तु के अनुसार कृष्ण जन्माष्टमी के दिन घर में मोर पंख लाने से ना सिर्फ सकारात्मक ऊर्जा आती है, बल्कि घर से वास्तु दोष भी खत्म होता(Krishna-Janmashtami-mor-pankh-upay-for-positivity-peacock-feathers-vastu-tips)है।

घर में मोर पंख रखना बहुत शुभ माना जाता है। वास्तु के मुताबिक घर के मुख्य द्वार पर मोर पंख लगाने से उस घर को बुरी नजर नहीं लगती है। इसके प्रभाव से परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है।

मोर पंख घर में ऐसे रखें

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में मोर पंख रखने के भी नियम बनाए गए हैं। वास्तु के हिसाब से 8 मोर पंख लें और इन सभी को एक साथ सफेद धागे से बांध दें।

ओम सोमाय नमः मंत्र का जाप करते हुए इन मोर पंखों को घर में कहीं साफ जगह पर रख दें।

इससे घर में मौजूद नकारात्मक शक्तियों खत्म हो जाएंगी और सुख-समृद्धि का वास होगा।

 

 

Happy Janmashtami 2022:कान्हा का जन्म,आओं मनाएं खुशियों संग,जन्माष्टमी पर भेजें ऐसे शुभकामना संदेश,Quotes,Wishes

 

 

Krishna-Janmashtami-mor-pankh-upay-for-positivity-peacock-feathers-vastu-tips

Note:ऊपर दी गई सूचना केवल सामान्य प्रचलित मान्यताओं के आधार पर लिखी गई है। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ से सलाह-मशवरा अवश्य करें। समयधारा इस जानकारी की सटीकता की जिम्मेदारी नहीं लेता।

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button