breaking_newsअन्य ताजा खबरेंफैशनबीमारियां व इलाजलाइफस्टाइलहेल्थ
Trending

क्या आप भी सोफे पर सो जाते है? सेहत के लिए खतरनाक है ये आदत,जानें कैसे?

सोफे पर सोने से आपको काफी हेल्थ इशूज का सामना करना पड़ता है और आरामदायक लगने वाली ये आदत धीरे-धीरे गंभीर सर्वाइकल बीमारियों को जन्म देने लगती है।

lying-or-sleeping-on-sofa-habit

नई दिल्ली:क्या आप भी सोफे पर लेट जाते है या सो(lying-or-sleeping-on-sofa)जाते है? क्या आपको भी सोफे पर सोने की आदत पड़ गई है?

अगर इन सभी सवालों का जवाब ‘हां’ में है तो आप अपनी सेहत के साथ बहुत बड़ा खिलवाड़ कर रहे है। जिसके गंभीर परिणाम आपको भुगतने पड़ सकते है।

दरअसल,ज्यादातर लोगों को आदत होती है कि वे सोफे पर बैठकर टीवी देखते हुए या काम करते हुए,वहीं सो जाते है।

सोफे पर सोने से आपको काफी हेल्थ इशूज का सामना करना पड़ता है और आरामदायक लगने वाली ये आदत धीरे-धीरे गंभीर सर्वाइकल बीमारियों को जन्म देने लगती(lying-or-sleeping-on-sofa-habit-could-cause-many-health-issues) है।

lying-or-sleeping-on-sofa-habit-could-cause-many-health-issues-2-min

सोफा(Sofa) काफी नरम होता है और इसमें स्पंज का उपयोग  किया जाता है। जिसके कारण जब आप सोफे पर सोकर उठते है तो कई बार कमर में दर्द भी होने लगता है।

चूंकि भले ही स्पंज लचीला और कंम्फर्टेबल फील होता है लेकिन असल में इसपर सोने से घातक बीमारियां जन्म लेने लगती है।

कमर में दर्द रहना एक आम समस्या है। जो सोफे पर लंबे समय तक सोने से हो सकती(lying-or-sleeping-on-sofa-habit) है।

 

 

चलिए अब विस्तार से बताते है सोफे पर सोने से सेहत या शरीर को क्या नुकसान होते है:

lying-or-sleeping-on-sofa-habit-harms

शोर घरवालों का शोर नींद खराब करता है

सोफा लिविंग रुम या ड्राइव रुम में रखा जाता है। ऐसे में जब आप सोफे पर सो(Sleep) जाते है और घर के बाकी सदस्य वहां पर आते-जाते रहते है।

टीवी देखते है या बातें करते है तो आपकी नींद खराब हो जाती है। सोफे पर सोने से आपको गहरी नींद (deep sleep) नहीं मिल पाती चूंकि शोर से नींद बीच-बीच में टूटती रहती है।

नतीजतन,आपको सुकून की नींद की जगह सिर दर्द और भारी होने की समस्या मिलने लगती है।

करवट बदलने औ पैर फैलाने की जगह नहीं मिलती

sleeping on sofa harms-min

थके-हारे जब आप टीवी देखते-देखते सोफे पर ही सो जाते है तो अक्सर देखा गया है कि सोफे पर करवट बदलने या पैर फैलाने की पर्याप्त जगह नहीं मिलती।

नतीजा,आप मजबूरन एक ही पोजिशन में पूरी रात सोफे पर पड़े रहते है। इसके कारण कमर और शरीर के अन्य हिस्सों में दर्द की परेशानी बढ़ जाती है।

 

 

लंबे समय तक सोफे पर सोना सही नहीं

काम का बोझ,दिमाग की थकावट सोफे पर आपको अचानक से तो गहरी नींद दिला सकती है लेकिन यह गहरी नींद महज एक झपकी जैसी ही मिल सकती है।

sleeping-on-sofa-habit harms, sofe pe sone ke nuksan-min

लंबे समय तक सोफे पर सोने से आपका शरीर अकड़ जाता है।

इसलिए अगर आप 7-8 घंटे की लंबी नींद लेना चाहते हैं तो सोफा इसके लिए सही जगह नहीं है। सोफे पर सीमित जगह में शरीर रिलैक्स नहीं हो पाता है और आप सुबह उठकर फ्रेश महसूस नहीं करते।

शरीर में अकड़न और दर्द रहने लगता है

यदि आपको भी सोफे पर सोने की आदत है तो आपको मजबूर होना पड़ता कि आप एक ही पोजिशन में सोएं और परिणाम यह होता है कि आपके शरीर की मांस-पेशियों में अकड़न पैदा होने लगती है और दर्द रहने लगता है।

भले ही शुरु में यह दर्द कम होता है इसलिए इसकी गंभीरता पता नहीं लगती लेकिन फिर ध्यान न देने से यह समस्या बढ़ती चली जाती है।

lying-or-sleeping-on-sofa-habit

(नोट: पोस्ट में दी गई जानकारी केवल सामान्य जानकारी है। इसे विशेषज्ञों की राय नहीं मान सकते।)

Show More

Reena Arya

रीना आर्य www.samaydhara.com की फाउंडर और एडिटर-इन-चीफ है। रीना आर्य ने पत्रकारिता के महज 6-7 साल के भीतर ही अपने काम के दम पर न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपनी पहचान बनाई बल्कि तमाम चुनौतियों और पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए समयधारा.कॉम की नींंव रखी। हर मुद्दे पर अपनी ज्वलंत और बेबाक राय रखने वाली रीना आर्य एक पत्रकार, कंटेंट राइटर,एंकर और एडिटर की भूमिका निभा चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 1 =

Back to top button