breaking_newsअन्य ताजा खबरेंराजनीतिक खबरेंविश्व
Trending

Russia-Ukraine conflict:रूस के लिए यूक्रेन पर हमले का रास्ता साफ,पुतिन को रूसी सांसदों ने दी देश के बाहर सैन्य बल प्रयोग की अनुमति

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को यूक्रेन पर हमला करने के लिए ग्रीन सिग्नल मिल गया है

Russia-Ukraine-conflict-Russian-lawmakers-allow-putin-to-use-force-outside-the-country

मॉस्को:बीते दिन रूस(Russia)ने पूर्वी यूक्रेन(Eastern Ukraine)के दो राज्यों को अलग देश की मान्यता देकर यूक्रेन को तोड़ दिया। उसके इस कदम से अमेरिका सहित नाटों(NATO)के सदस्य देश खासे बौखलाएं है।

जिसके चलते अमेरिका(USA)ने स्वतंत्रता प्राप्त देशों पर न केवल आर्थिक प्रतिबंध लगा दिए बल्कि नाटो के सदस्य देशों ने पुतिन के साथ भी ट्रे़ड लिमिटेड कर दिया।

अब विश्व पटल से खबर आ रही है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को यूक्रेन पर हमला करने के लिए ग्रीन सिग्नल मिल गया(Russia to attack Ukraine)है,

चूंकि रूसी सांसदों ने मंगलवार को पुतिन को देश के बाहर सैन्य बल प्रयोग की अनुमति दे दी(Russia-Ukraine-conflict-Russian-lawmakers-allow-putin-to-use-force-outside-the-country)है।

रूसी संसद के ऊपरी सदन को पुतिन ने एक पत्र लिखा था 

रूस ने जब यूक्रेन के दो राज्यों को स्वतंत्र देश की मान्यता दी तो पश्चिमी देशों के लीडर्स ने भी कहा था कि रूस का सैन्य बल यूक्रेन के पूर्वी हिस्से में पहुंच गया है।

रूस के इस कदम की अमेरिका ने कड़ी निंदा की है और पहली बार खुलकर बोला है कि रूस का यह कदम आक्रमण है।जबकि रूस इसे शांति की पहल बता रहा है।

Ukraine Russia Crisis:यूक्रेन में भारतीय छात्रों,नागरिकों और दूतावास के स्टाफ के परिजनों को स्वदेश लौटने की एडवाइजरी

रूसी संसद के ऊपरी सदन ने मंगलवार को राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन(Vladimir Putin)को यूक्रेन में अलगाववादियों का समर्थन करने के लिए देश के बाहर रूसी सेना का उपयोग करने की अनुमति देने के लिए वोटिंग की।

कुल 153 रूसी सीनेटरों ने इस फैसले का समर्थन किया। उनमें से किसी ने भी विरोध में वोट नहीं दिया।

रूस के विदेश मंत्रालय ने पहले कहा था कि रूस “फिलहाल” पूर्वी यूक्रेन में सेना भेजने की योजना नहीं बना रहा है।

Russia-Ukraine-conflict-Russian-lawmakers-allow-putin-to-use-force-outside-the-country

पुतिन ने फेडरेशन काउंसिल से 2014 से यूक्रेनी सेना से लड़ने वाले अलगाववादियों का समर्थन करने के लिए देश के बाहर सेना के उपयोग को मंजूरी देने के लिए कहा।

रूस-युक्रेन के बीच युद्ध की ख़बरों से बाजार में बड़ी गिरावट, शेयर बाजार नीचे बंद

पुतिन के अनुरोध पर फेडरेशन काउंसिल के एक सत्र के दौरान उप रक्षा मंत्री निकोले पंकोव ने कहा, “बातचीत रुक गई है। यूक्रेनी नेतृत्व ने हिंसा और रक्तपात का रास्ता अपनाया है।” उन्होंने कहा, “उन्होंने हमारे पास कोई विकल्प नहीं छोड़ा है।”

उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्वी यूक्रेन के अलगाववादी नियंत्रित क्षेत्रों की सीमा पर “भारी बख्तरबंद वाहन” थे जिन्हें डीएनआर और एलएनआर कहा जाता है।

Russia-Ukraine-conflict-Russian-lawmakers-allow-putin-to-use-force-outside-the-country

पंकोव ने यह भी कहा कि नाटो “यूक्रेन को आधुनिक हथियारों के साथ सक्रिय रूप से उकसा रहा था।” उन्होंने कहा कि “रूस अन्य राज्यों की संप्रभुता की रक्षा के लिए और आक्रामकता के कृत्यों को रोकने के लिए कार्य करेगा।”

Pegasus spyware:पेगासस पर मोदी सरकार को बजट सत्र में घेरेगा विपक्ष,कन्नी काट रही सरकार,अलग से चर्चा नहीं

पंकोव ने पुतिन के अनुरोध का हवाला दिया: “डीएनआर और एलएनआर के साथ दोस्ती और सहयोग की संधि के अनुसार मैं रूस के बाहर रूसी संघ के सशस्त्र बलों का उपयोग करने की सहमति के लिए फेडरेशन काउंसिल की ओर से स्वीकार्य प्रस्ताव प्रस्तुत कर रहा हूं।”

सोमवार को, पुतिन ने डोनेट्स्क और लुगांस्क क्षेत्रों की स्वतंत्रता को मान्यता दी और उनके साथ समझौतों पर हस्ताक्षर किए और यूक्रेन के विद्रोही क्षेत्रों में रूसी सेना की उपस्थिति के लिए दरवाजा खोल दिया।

 

 

 

 

Russia-Ukraine-conflict-Russian-lawmakers-allow-putin-to-use-force-outside-the-country

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button