breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

राजस्थान डिप्टी सीएम-प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटाएं गए सचिन पायलट, किया ट्वीट

सचिन पायलट के समर्थक रहे मंत्रियों विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को भी उनके पदों से हटा दिया गया....

Sachin Pilot sacked-from Rajasthan deputy CM-president post-Sachin pilot tweets

नई दिल्लीराजस्थान की राजनीतिक जंग आज और ज्यादा तेज हो गई है। राजस्थान कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सचिन पायलट को मंगलवार को राजस्थान डिप्टी सीएम पद (Sachin Pilot sacked from Rajasthan deputy CM post) और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से भी हटा (Rajasthan Congress president) दिया है।

पार्टी द्वारा सचिन पायलट से मंत्री और अध्यक्ष पद छिने जाने पर सचिन पायलट ने ट्वीट करके अपनी प्रतिक्रिया भी जता दी है।

कांग्रेस का निर्णय सामने आने के बाद सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट करके लिखा, ‘सत्य को परेशान किया जा सकता है, पराजित नहीं’।

इतना ही नहीं, उन्होंने अपने ट्विटर प्रोफाइल से डिप्टी सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डिटेल्स भी अब हटा ली है।

मंगलवार को रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सचिन पायलट को उनके सभी पदों से हटाने की घोषणा की है।

Sachin Pilot sacked-from Rajasthan deputy CM-president post-Sachin pilot tweets

गौरतलब है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Rajasthan CM Ashok Gehlot) ने विधायक दल की दूसरी बैठक बुलाई थी। इसके बाद ही सचिन पायलट के ऊपर बड़ी कार्रवाई की गई।

इससे पूर्व, सोमवार को हुई विधायक दल की बैठक में भी सचिन पायलट नहीं पहुंचे थे लेकिन तब कांग्रेस (Congress) ने थोड़ा नरमी रूख अपनाते हुए एलान किया था कि कांग्रेस में शीर्ष नेतृत्व के साथ बातचीत के दरवाजे सचिन पायलट और उन सभी के लिए खुले है जो किसी भी कारणवश नाराज है।

लेकिन फिर मंगलवार को भी जब सचिन पायलट विधायक दल की बैठक में नहीं पहुंचे तो इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया गया।

इसके बाद एक मीटिंग में सचिन पायलट के समर्थक रहे मंत्रियों विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को भी उनके पदों से हटा दिया गया

Sachin Pilot sacked-from Rajasthan deputy CM-president post-Sachin pilot tweets

सचिन पायलट से राजस्थान उपमुख्मंत्री पद और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद वापस लेने का प्रस्ताव भी इस बैठक में पारित हुआ। इसके बाद अशोक गहलोत राज्यपाल कलराज मिश्र से मिलने पहुंचे।

राजभवन से ट्विटर पर जानकारी दी गई कि ‘श्री सचिन पायलट उपमुख्यमंत्री, श्री विश्वेंद्र सिंह, मंत्री एवं श्री रमेश मीणा, मंत्री को मंत्रिमंडल से बर्खास्त किये जाने का प्रस्ताव मा. राज्यपाल महोदय द्वारा तत्काल प्रभाव से स्वीकार कर लिया गया है।’

बता दें कि कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ‘राजस्थान के चार दिन के घटनाक्रम से सब परिचित हैं।

BJP ने एक षड्यंत्र के तहत राजस्थान की चुनी हुई सरकार को गिराने की साज़िश की गई है. बीजेपी ने धनबल, सत्ता बल, ईडी और इनकम टैक्स विभाग का गलत इस्तेमाल किया है।

पूरे देश ने देखा कि अशोक गहलोत सरकार के विधायकों को खरीदने की कोशिश की गई।’

उन्होंने कहा कि ‘सचिन और कुछ विधायक भ्रमित होकर सरकार गिराने की साज़िश में शामिल हो गए। उन्हें मानेसर में क़ैद कर रखा गया है। ये राजस्थान के स्वाभिमान को चुनौती देना है।’

सुरजेवाला ने कहा कि शीर्ष नेतृत्व राहुल, सोनिया और दूसरे नेताओं ने सचिन पायलट से दर्जनों बार बात की, उनसे खुले दिल से वापस आने को कहा गया।

उन्होंने कहा कि जो ताकत कांग्रेस नेतृत्व ने सचिन पायलट को इतनी कम उम्र में इतनी ताकत दी उतना कहीं नहीं हुआ।

Sachin Pilot sacked-from Rajasthan deputy CM-president post-Sachin pilot tweets

लेकिन अब जब सचिन पायलट को उनके पदों से मुक्त कर दिया गया है और वो पहले से आर-पार के मूड में हैं, ऐसे में बीजेपी पर नजर टिकती है और हालात देखते हुए ऐसा लगता है कि अशोक गहलोत को फ्लोर टेस्ट का सामना करना पड़ सकता है।

हालांकि सूत्रों से अब खबर आ रही है कि सचिन पायलट खेमा और बीजेपी राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार से फ्लोर टेस्ट की मांग करने जा रही है।

सचिन पायलट (Sachin Pilot) सभी पदों से हटाने जाने के बाद कल सुबह 10बजे के करीब प्रेस कॉन्फ्रेंस करके अपनी बात रखेंगे।

Sachin Pilot sacked-from Rajasthan deputy CM-president post-Sachin pilot tweets

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 − five =

Back to top button