Trending

अडानी ग्रुप के शेयरों में आया भूचाल, शेयर मार्केट ऊपर

सेंसेक्स 222 अंक निफ्टी 28 अंक बैंकनिफ्टी 1 अंक ऊपर चढ़कर कर रहा है कारोबार, अडानी ग्रुप के शेयर लुढ़के

Stockmarket up after initial fall AdaniGroup shares continue to decline 

मुंबई (समयधारा) :  देश के शेयर बाजार में आज जोरदार उठापठक के साथ कारोबार हो रहा है l

सेंसेक्स 222 अंक निफ्टी 28 अंक बैंकनिफ्टी 1 अंक ऊपर चढ़कर कर रहा है कारोबार l

पहले जान लेते है अडानी ग्रुप (Adani Group) के शेयरों का हाल-चाल (12.16am)

Adani Enterprises का शेयर 180.20 यानी लगभग 8.30% की गिरावट  के साथ 1955. पर ट्रेड कर रहा है l  

Adani port का शेयर 7.10 यानी लगभग 1.87% की गिरावट के साथ 487.50  पर ट्रेड कर रहा है l  

Breaking-अडानी ने FPO Cancel कर लोगों को चौंकाया..! जानियें क्यों किया ऐसा

Adani Green का शेयर 105.50  यानी लगभग 10.00% की गिरावट के साथ 1039.85  पर ट्रेड कर रहा है l 

Adani Transmission का शेयर 172.35 यानी लगभग 10.00% की गिरावट के साथ 1551.15 पर ट्रेड कर रहा हैl

Adani power का शेयर 10.60 यानी लगभग 4.98% की गिरावट के साथ 202.05  पर ट्रेड कर रहा है l 

Adani Wilmar का शेयर 22.15 यानी लगभग 5.00% की गिरावट के साथ 421 पर ट्रेड कर रहा है l 

Adani Total Gas का शेयर 187.70  यानी लगभग 10.00% की गिरावट के साथ 1707.70  पर ट्रेड कर रहा है l

गौतम अडानी विश्व के टॉप 10 अमीरों की लिस्ट से हुए बाहर,15वें स्थान पर पहुंचे,मुकेश अंबानी अब भी 9वें नंबर पर

गौरतलब है की हिंडेनबर्ग (Hindenburg) की रिपोर्ट के बाद अडानी ग्रुप के शेयरों में जोरदार गिरावट देखी गयी हैl

वही संसद में अडानी ग्रुप पर  हिंडेनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट को लेकर हंगामा मचा हुआ है l

दूसरी तरफ अडानी ग्रुप (Adani Group) ने हिंडेनबर्ग रिसर्च (Hindenburg Research) की रिपोर्ट पर रविवार, 29 जनवरी को विस्तार से पलटवार किया।

ग्लोबल मार्केट से मिलेजुले संकेत मिल रहे है। एशिया में मजबूती लेकिन SGX NIFTY करीब सवा सौ प्वाइंट नीचे कारोबार कर रहा है। फेड के फैसले के बाद कल नैस्डैक 2 परसेंट उछला है।

Stockmarket up after initial fall AdaniGroup shares continue to decline 

“क्रूड में कल 3% की तेज गिरावट आई है। अमेरिका में inventry बढ़ने से भाव 83 डॉलर के करीब पहुँच गए है l

शेयर बाजार की शुरुआत कमजोरी के साथ हुई है।

सेंसेक्स 413.60 अंक यानी 0.23 फीसदी की गिरावट के साथ 59294.48 के स्तर पर नजर आ रहा है।

वहीं निफ्टी 145.50 अंक यानी 0.13 फीसदी टूटकर 17470.80 के स्तर पर नजर आ रहा है।

प्री-ओपनिंग में बाजार की मिलीजुली शुरुआत हुई है। 

सेंसेक्स 139.54 अंक यानी 0.23 फीसदी की बढ़त के साथ 59847.62 के स्तर पर नजर आ रहा है।

वहीं निफ्टी 22.50 अंक यानी 0.13 फीसदी टूटकर 17593.80 के स्तर पर नजर आ रहा है।

अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने महंगाई पर काबू पाने के लिए ब्याज दरों में एक बार फिर इजाफा किया हैl

हालांकि, फेड ने इस बार पहले के मुकाबले कम बढ़ोतरी की है। फेड ने यह भी संकेत दिया है कि आगे भी ब्याज दरों में बढ़ोतरी होती रहेगी।

0.25% की बढ़ोतरी के साथ अमेरिका में नीतिगत ब्याज दरें 4.5% – 4.75% की बीच हैl

इसके पहले दिसंबर बैठक में फेड ने 0.75% की बढ़ोतरी की थी। बाजार को भी इस बार उम्मीद थी की फेड ब्याज दरों में बड़ी बढ़ोतरी नहीं करेगा।

अमेरिकी फेडरल रिजर्व के चेयरमैन जेरोप पॉवेल ने कहा कि इस साल उन्हें उम्मीद नहीं है कि ब्याज दरों में कटौती होगी।

उन्होंने कहा कि हम बॉन्ड मार्केट को लेकर चिंतित नहीं है। Stockmarket up after initial fall AdaniGroup shares continue to decline 

ग्लोबल मार्केट से मिलेजुले संकेत मिल रहे है। एशिया में मजबूती लेकिन SGX NIFTY करीब सवा सौ प्वाइंट नीचे कारोबार कर रहा है।

फेड के फैसले के बाद कल नैस्डैक 2 परसेंट उछला है। इस बीच क्रूड में कल 3% की तेज गिरावट आई है।

अमेरिका में inventry बढ़ने से भाव 83 डॉलर के करीब पहुंचा है।

उधर सोने में जोरदार उछाल आया है और सोने का दाम 1970 डॉलर के करीब पहुंचा है।”

1 फरवरी को बजट वाले दिन बाजार में भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिला।

बजट प्रस्तावों के चलते कल के इंट्राडे कारोबार में बेंचमार्क इंडेक्सों में 1.75 फीसदी तक की तेजी देखने को मिली।

लेकिन अडानी ग्रुप के शेयरों, लाइफ इंश्योरेंश शेयरों ओर चुनिंदा बैंकों के शेयरों में आई तेज गिरावट के चलते बाजार ऊपर से फिसल गया।

कारोबारी सत्र के दूसरे हिस्से में बाजार में मुनाफावसूली हावी हो गई।

कारोबार के अंत में सेंसेक्स सिर्फ 158 अंक यानी 0.27 फीसदी की बढ़त के साथ 59708 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं, निफ्टी 46 अंको की गिरावट के साथ 17616 के स्तर पर बंद हुआ था।

(इनपुट मनी कण्ट्रोल से भी)

Show More

Dharmesh Jain

धर्मेश जैन www.samaydhara.com के को-फाउंडर और बिजनेस हेड है। लेखन के प्रति गहन जुनून के चलते उन्होंने समयधारा की नींव रखने में सहायक भूमिका अदा की है। एक और बिजनेसमैन और दूसरी ओर लेखक व कवि का अदम्य मिश्रण धर्मेश जैन के व्यक्तित्व की पहचान है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button