breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशबिजनेसबिजनेस न्यूजविश्व
Trending

शक्तिशाली पासपोर्ट की रैंकिंग में फिसला भारत,जानें चीन,पाक के मुकाबले क्या मिली रैंक

इस रैंकिंग में दुनिया में सबसे पावरफुल पासपोर्ट जापान का है और उसे टॉप स्थान मिला है तो वहीं अमेरिक को इस रैंकिंग में सातवां स्थान मिला है...

World’s most powerful passports 2021 list release-India ranks 85

विश्व के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट ( World’s most powerful passports 2021 list release ) की रैंकिंग इस वर्ष के लिए जारी कर दी गई है।

इस रैंकिंग में दुनिया में सबसे पावरफुल पासपोर्ट जापान (Japan)का है और उसे टॉप स्थान मिला है तो वहीं अमेरिका (United States) को इस रैंकिंग में सातवां स्थान मिला है।

भारत (India) इस बार एक पायदान नीचे खिसक गया है और उसे विश्व के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट की रैंकिंग(World’s most powerful passports 2021 list release-India ranks 85)में 85वां स्थान मिला है,

जबकि वर्ष 2020 में भारत को दुनिया के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट की रैंकिंग में 84वां स्थान मिला(India ranks 85 in most powerful passports list 2021) था,जबकि वर्ष 2019 में भारत 82वें स्थान पर था।

दरअसल,हेनले एंड पार्टनर्स (Henley and Partners)ने पासपोर्ट इंडेक्स ग्लोबल रैंकिंग जारी की है,जिसके अनुसार, दुनिया में सबसे ज्यादा पावरफुल पासपोर्ट की लिस्ट में जापान पहले स्थान पर है।

इस लिस्ट में जहां भारतीय पासपोर्ट को 85वां स्थान मिला है तो वहीं चीन (China)को 70वां स्थान मिला है जबकि पाकिस्तान(Pakistan) के पासपोर्ट को नीचे से चौथा स्थान मिला है।

जी हां, भले ही चीन का पासपोर्ट भारत से ज्यादा शक्तिशाली रहा है लेकिन पाकिस्तान का पासपोर्ट चौथा सबसे फिसड्डी पासपोर्ट रहा है उसे नीचे से चौथा स्थान मिला (Pak in worst passport list)है।

क्या है सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट का मतलब-World’s most powerful passports 2021 list release

सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट(Passport) का अर्थ होता है उस देश के नागरिकों को बिना वीजा के सफर करने की अनुमति रहती है।

किसी भी देश के लिए शक्तिशाली पासपोर्ट रैंकिंग(most powerful passports 2021 list)इसलिए महत्वपूर्ण होती है क्योंकि उसी के आधार पर यह तय किया जाता है कि उस देश के नागरिक कितने देशों में बिना वीजा के घूम सकते हैं।

यानि कि इस सुविधा के तहत अन्य देश शक्तिशाली पासपोर्ट वाले देश के नागरिकों को ऑन अराइवल की सुविधा प्रदान करते हैं। ये रैंकिंग इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के डाटा पर आधारित होती है।

गौरतलब है कि दुनिया के शक्तिशाली पासपोर्ट की लिस्ट में एशियाई देशों का बोलबाला है। जापान के नागरिकों को दुनिया के 191 देशों में ऑन अराइवल वीजा की सुविधा दी जाती है।

इसलिए जापान को सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट सूची में पहले स्थान पर रखा है। इसके बाद दूसरे नंबर पर सिंगापुर है, जिसके नागरिकों को 190 देशों में ये सुविधा मिलती है।

जबकि तीसरे नंबर पर दक्षिण कोरिया और जर्मनी हैं, जिनके नागरिकों को 189 देशों में वीजा ऑन अराइवल की सुविधा मिलती है। इसके अलावा इटली, फिनलैंड, स्पेन और लक्जमबर्ग चौथे और डेनमार्क और ऑस्ट्रिया पांचवें नंबर पर हैं।

वहीं, भारत इस सूची में 85वें स्थान पर पहुंच गया है जबकि इस लिस्ट में पहले भारतीय पासपोर्ट की रैंकिंग या वैल्यू 82वां स्थान थी, इसका मतलब यह हुआ कि भारतीय नागरिकों को 58 देशों में ऑन अराइवल वीजा की सुविधा मिलती है।

पड़ोसी देश चीन इस लिस्ट में 70वें स्थान पर हैं, जिसका अर्थ है कि चीनी नागरिक 75 देशों में ऑन अराइवल वीजा की सुविधा ले सकते हैं और पाकिस्तान नीचे से चौथे यानि कि 107वें स्थान पर हैं और पाकिस्तान को 32 देशों में ही ऑन अराइवल वीजा की सुविधा मिली है।

भारतीय पासपोर्टधारक इन देशों में वीजा फ्री यात्रा कर सकते हैं

भारतीय पासपोर्टधारक भूटान, कंबोडिया, इंडोनेशिया, मकाऊ, मालदीव, म्यांमार, नेपाल, श्रीलंका, थाईलैंड, केन्या, मॉरिशस, सेशेल्स, जिम्बॉब्वे, यूगांडा, ईरान तथा कतर सहित 58 देशों में बिना वीजा के यात्रा कर सकते हैं। हालांकि, कुछ देशों में वीजा-ऑन-अराइवल की जरूरत पड़ सकती है।

 

World’s most powerful passports 2021 list release-India ranks 85

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × four =

Back to top button