breaking_newsअन्य ताजा खबरेंघरेलू नुस्खेडाइटबीमारियां व इलाजलाइफस्टाइलहेल्थ
Trending

high-bp-remedies:हाई ब्लड प्रेशर से है परेशान? ये घरेलू नुस्खे करेंगे जिंदगी आसान

कई बार ऐसा होता है कि अचानक से आपका ब्लड प्रेशर काफी हाई हो जाता है। उस समय आप इस सिचुएशन में नहीं होते कि किसी से मदद को बोल सकें या फिर समय रहते डॉक्टर के पास जा सकें। ऐसी इमरजेंसी में हाई बीपी को कंट्रोल करने के घरेलू नुस्खे काफी कारगर साबित होते है...

high-bp-remedies-high-blood-pressure-treatment

नई दिल्ली:आजकल हाई बीपी(high-bp)की समस्या से तकरीबन हर कोई जूझ रहा है। इसे कंट्रोल करने से पहले आपको जानना होगा कि आखिर हाई बीपी यानि हाई ब्लड प्रेशर आखिर है क्या?

 

हाई ब्लड प्रेशर अर्थात उच्च रक्तचाप क्या है-What is High Blood Pressure?

आपके पूरे शरीर को खून धमनियों के माध्यम से हृदय द्ववारा भेजा है, बॉडी की धमनियों में जो ब्लड बहता है उसे सही तरह से बहने के लिए एक निश्चित प्रेशर की आवश्यकता होती है,

लेकिन अगर ये प्रेशर बढ़ जाता है तो हाई ब्लड प्रेशर की समस्या बन जाती है और यदि ये प्रेशर या दबाव कम हो जाता है तो लो ब्लड प्रेशर(Blood Pressure)की समस्या हो जाती है।

High BP नसों में वसा का जम जाने के कारण होता है। दूसरे शब्दों में कहें तो जब आपके खाने-पीने में असंतुलन हो जाता है और और शरीर में फैट और वसा की मात्रा बढ़ जाती है तो हाई बीपी होने के आसार भी बढ़ जाते हैं।

इसलिए जरुरी है कि आप जाने अचानक या इमरजेंसी मे अगर आपका बीपी हाई हो जाता है तो उसे घर बैठे आप किस तरह से कंट्रोल कर सकते(high-bp-remedies-high-blood-pressure-treatment) है।

इसके लिए सबसे पहले आपको समझना होगा कि हाई बीपी के लक्षण क्या(high blood pressure symptoms) है और फिर इसे किन उपायों से कम किया जा (how to reduce high blood pressure naturally at home)सकता है।

हाई ब्लड प्रेशर के कारण जानें (high blood pressure causes)

वैसे तो हम बता ही चुके है कि हाई बीपी खाने-पीने की आदतों में असंतुलन के कारण होता है,इसके अतिरिक्त हाई ब्लड प्रेशर की समस्या उन लोगों को भी हो जाती है जोकि शारीरिक श्रम कम करते है।

मसलन-व्यायाम या एक्सरसाइज,खेल-कूद और किसी भी फिजिकल एक्टिविटी नहीं करने वालों को हाई बीपी की समस्या से ग्रस्त होना पड़ता है।

 इसके अतिरिक्त डायबिटीज या शुगर या फिर दिल के मरीजों को भी हाई बीपी की दिक्कत हो जाती है।

अधिक नमकीन चीजें खाने या जंक फूड मसलन- पिज्जा, बर्गर, मोमोज और नूडल्स इत्यादि खाने से भी बीपी की समस्या हो सकती है।

इसके अलावा धूम्रपान और शराब के सेवन से भी बीपी की समस्या बढ़ सकता है। टेंशन या तनाव लेने से भी बीपी बढ़ जाता है।

हाई ब्लड प्रेशर के कारण हृदय और गुर्दे से जुड़े रोगों की परेशानी हो सकती है।

इसके अतिरिक्त आंखें खराब होने का भी खतरा होता है।इसलिए जरुरी है कि आप भी समझें कि आपको हाई बीपी है या नहीं। इसे समझने के लिए आपको हाई बीपी के लक्षण जानने होंगे।

हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण (high blood pressure symptoms)

तनाव

थकान

सिर दर्द

गुस्सा और चिड़चिड़ापन

सीने में दर्द

सांस लेने में परेशानी

घबराहट

कमजोरी

धुंधला दिखना

पैर सुन्न होना

हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाएं (high blood pressure diet)

  • अपने खाने पर सबसे पहले नियंत्रण रखें, घर का बना खाना खाएं, बाहर का पैक्ड फूड और जंक फूड खाने से बचें।
  • वेट पर कंट्रोल करें, अगर आपका वजन बढ़ा है तो हाई बीपी हो सकता है।
  • हर दिन आधे घंटे कम से कम व्यायाम करें, खासकर योग करें।
  • साबुत अनाज, फल, सब्जियां, दूध और कम फैट वाले भोजन खाएं, इससे बीपी कम होता है।
  • डाइट में मैग्नीशियम, कैल्शियम और पोटैशियम लें।
  • दाल, सोयाबीन, प्याज, लहसुन आदि खाने में शामिल करें।
  • हर दिन 4-5 अखरोट और 5-6 बादाम खाएं।
  • सेब, अमरूद, संतरे, अनार, केला अनानास, पपीता, मौसंबी आदि फल खाएं।
  • हर रोज सुबह उठकर खाली पेट 2 लहसुन खाएं।
  • नींबू पानी, नारियल पानी, सोया, अलसी और काले चने का सेवन करें।
  • खूब पानी पिएं।
  • सलाद खाने के साथ शामिल करें, इसमें आप प्याज, मूली, टमाटर, गाजर, खीरा, पत्ता गोभी आदि।

(high-bp-remedies-high-blood-pressure-treatment)

हाई बीपी में किन चीजों का करना चाहिए परहेज-what causes high blood pressure

  • नमक कम खाएं
  • कॉफी और चाय का सेवन कम से कम करें।
  • डिब्बा बंद खाद्य पदार्थ, नमकीन, बिस्किट, चिप्स या कोई भी पैक्ड फूड ना खाएं।
  • स्मोकिंग और शराब से दूर रहें।
  • पिज्जा, बर्गर आदि ना खाएं।
  • खाना खाते समय अपने भोजन में नमक ऊपर से ना डालें, सलाद में भी नमक ना डालें।
  • चटनी, आचार, अजीनोमोटो और सॉस से दूरी बनाकर रखें।
  • कम फैट वाला खाना खाएं, जैसे पूरियां, पराठों से दूरी बनाकर रखें।
  • सोते वक्त बीपी कम होता है इसलिए नींद पूरी लें।
  • गुस्से से दूर रहिए, कोशिश करिए की तनाव भरे माहौल से दूर रहें। इसके लिए आप मेडिटेशन और योग का सहारा भी ले सकते हैं।

हाई बीपी कम करने के घरेलू नुस्खेbp-kam-karne ke-gharelu nuskhe

(high-bp-remedies-high-blood-pressure-treatment)

कई बार ऐसा होता है कि अचानक से आपका ब्लड प्रेशर काफी हाई हो जाता है। उस समय आप इस सिचुएशन में नहीं होते कि किसी से मदद को बोल सकें या फिर समय रहते डॉक्टर के पास जा सकें।

ऐसी इमरजेंसी में हाई बीपी को कंट्रोल करने के घरेलू नुस्खे काफी(emergency-treatment-for high-blood-pressure-at-home)कारगर साबित होते है।

तो चलिए आपको बताते है हाई बीपी को घर बैठे कम करने के उपाय:

(high-bp-remedies-high-blood-pressure-treatment)

    • एक चम्मच काली मिर्च पाउडर को गुनगुने पानी में घोल लें, और ये पानी दो-दो घंटे में पीते रहें।
    • उच्च रक्तचाप के नियंत्रण में तरबूज काफी लाभदायक है। तरबूज के बीज का सेवन करें।
    • हाई ब्लड प्रेशर के मरीज अगर नंगे पांव हरी घास पर 10-15 मिनट चलें तो उनका बीपी नॉर्मल हो जाता है।
    • पालक और गाजर का जूस पीने से भी बीपी कंट्रोल में रहता है।
    • मेथीदाना पाउडर सुबह-शाम पानी के साथ लेने पर बीपी कंट्रोल होता है।
    • अनार और टमाटर का जूस पीने से भी बीपी नियंत्रित होता है।
    • चुकंदर और मूली को छीलकर इसका जूस बनाकर पिएं, इससे भी बीपी कंट्रोल होता है।
    • करेला और सहजन की सब्जी खाएं, इससे हाई बीपी कंट्रोल में रहता है।
    • सुबह खाली पेट लहसुन खाएं।
    • आंवले के रस में शहद मिलाकर सुबह शाम लें।
    • यह उच्च रक्तचाप के रोगियों के लिए बहुत लाभदायक है। इससे हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण ठीक होते हैं।
    • जब बीपी बढ़ा हो तो एक गिलास पानी में आधा नींबू निचोड़कर तीन-तीन घंटे के अंतर पर पिएं।
    • पाँच तुलसी के पत्ती और दो नीम की पत्तियों को पीस लें। इसे एक गिलास पानी में घोल लें और सुबह खाली पेट पिएं।

डॉक्टर की मदद कब लें?

यदि आपका BP 140 से ऊपर है और सीने में दर्द और भारीपन महसूस हो और सांस लेने में परेशानी हो।

सिर दर्द हो और धुंधला दिखाई दे और कमजोरी फील हो तो बिना देर किए डॉक्टर से कंसल्ट करें। चूंकि इससे आपकी स्थिति कभी भी जानलेवा हो सकती है।

(high-bp-remedies-high-blood-pressure-treatment)

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − seven =

Back to top button