breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरें
Trending

75th Independence day of India:आज 75वें स्वतंत्रता दिवस पर PM Modi ने लाल किले पर फहराया तिरंगा,देश को किया संबोधित

पीएम मोदी ने लालकिले पर तिरंगा फहराया तो हेलीकॉप्टरों से फूलों की बारिश की गई। इसके बाद राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले कोरोना वॉरियर्स को नमन किया।

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-Independence-Day-2021-speech-keypoints

देश आज अपना  75 वां स्वतंत्रता दिवस(75th-independence-day-celebration) मना रहा है।

प्रतिवर्ष 15अगस्त को भारत को स्वतंत्रता दिवस(Independence-day-of-India)यानि आजादी का दिन हर्षोउल्लास से मनाया जाता है।

भारत 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हुआ था और स्वतंत्र अस्तित्व की पहचान पाई थी।

स्वतंत्रता दिवस पर देश के प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करते है और तिरंगा फहराते है।

आज,15 अगस्त 2021,रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर पर तिरंगा (PM-Modi-hoist-Tiranga-at-Red-Fort)फहराया और देश को संबोधित किया। 

 

पीएम मोदी ने लालकिले पर तिरंगा फहराया तो हेलीकॉप्टरों से फूलों की बारिश की गई।

इसके बाद राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले कोरोना वॉरियर्स को नमन किया।

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-Independence-Day-2021-speech-keypoints:

पीएम मोदी ने कविता के साथ किया भाषण का अंत

-यही समय है, सही समय है, भारत का अनमोल समय है। असंख्य भुजाओं की शक्ति है, हर तरफ़ देश की भक्ति है, तुम उठो तिरंगा लहरा दो, भारत के भाग्य को फहरा दो: PM

-यही समय है, सही समय है, भारत का अनमोल समय है। कुछ ऐसा नहीं जो कर ना सको, कुछ ऐसा नहीं जो पा ना सको, तुम उठ जाओ, तुम जुट जाओ, सामर्थ्य को अपने पहचानो, कर्तव्य को अपने सब जानो, भारत का ये अनमोल समय है, यही समय है, सही समय है: PM

-21वीं सदी में भारत के सपनों और आकांक्षाओं को पूरा करने से कोई भी बाधा रोक नहीं सकती। हमारी ताकत हमारी जीवटता है, हमारी ताकत हमारी एकजुटता है। हमारी प्राणशक्ति, राष्ट्र प्रथम, सदैव प्रथम की भावना है: PM

-मैं भविष्य़दृष्टा नहीं हूं, मैं कर्म के फल पर विश्वास रखता हूं। मेरा विश्वास देश के युवाओं पर है। मेरा विश्वास देश की बहनों-बेटियों, देश के किसानों, देश के प्रोफेशनल्स पर है। ये Can Do Generation है, ये हर लक्ष्य हासिल कर सकती है: PM

-जिन संकल्पों का बीड़ा आज देश ने उठाया है, उन्हें पूरा करने के लिए देश के हर जन को उनसे जुड़ना होगा, हर देशवासी को इसे Own करना होगा। देश ने जल संरक्षण का अभियान शुरू किया है, तो हमारा कर्तव्य है पानी बचाने को अपनी आदत से जोड़ना: PM

-आज देश के महान विचारक श्री ऑरबिंदो की जन्मजयंती भी है। साल 2022 में उनकी 150वां जन्मजयंती है: PM

-वो कहते थे कि- हमें उतना सामर्थ्यवान बनना होगा, जितना हम पहले कभी नहीं थे। हमें अपनी आदतें बदली होंगी, एक नए हृदय के साथ अपने को फिर से जागृत करना होगा: PM

-आज दुनिया, भारत को एक नई दृष्टि से देख रही है और इस दृष्टि के दो महत्वपूर्ण पहलू हैं। एक आतंकवाद और दूसरा विस्तारवाद। भारत इन दोनों ही चुनौतियों से लड़ रहा है और सधे हुए तरीके से बड़े हिम्मत के साथ जवाब भी दे रहा है: PM

-21वीं सदी का आज का भारत, बड़े लक्ष्य गढ़ने और उन्हें प्राप्त करने का सामर्थ्य रखता है। आज भारत उन विषयों को भी हल कर रहा है, जिनके सुलझने का दशकों से, सदियों से इंतजार था: PM

-Article 370 को बदलने का ऐतिहासिक फैसला हो, देश को टैक्स के जाल से मुक्ति दिलाने वाली व्यवस्था- GST हो, हमारे फौजी साथियों के लिए वन रैंक वन पेंशन हो, या फिर रामजन्मभूमि केस का शांतिपूर्ण समाधान, ये सब हमने बीते कुछ वर्षों में सच होते देखा है: PM

-त्रिपुरा में दशकों बाद ब्रू रियांग समझौता होना हो, ओबीसी कमीशन को संवैधानिक दर्जा देना हो, या फिर जम्मू-कश्मीर में आजादी के बाद पहली बार हुए BDC और DDC चुनाव, भारत अपनी संकल्पशक्ति लगातार सिद्ध कर रहा है: PM

-भारत आज जो भी कार्य कर रहा है, उसमें सबसे बड़ा लक्ष्य है, जो भारत को क्वांटम जंप देने वाला है- वो है ग्रीन हाइड्रोजन का क्षेत्र। मैं आज तिरंगे की साक्षी में National Hydrogen Mission की घोषणा कर रहा हूं: PM

-भारत की प्रगति के लिए, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए भारत का Energy Independent होना अनिवार्य है। इसलिए आज भारत को ये संकल्प लेना होगा कि हम आजादी के 100 साल होने से पहले भारत को Energy Independent बनाएंगे: PM

-आज मैं एक खुशी देशवासियों से साझा कर रहा हूँ। मुझे लाखों बेटियों के संदेश मिलते थे कि वो भी सैनिक स्कूल में पढ़ना चाहती हैं, उनके लिए भी सैनिक स्कूलों के दरवाजे खोले जाएं: PM

-दो-ढाई साल पहले मिजोरम के सैनिक स्कूल में पहली बार बेटियों को प्रवेश देने का प्रयोग किया गया था। अब सरकार ने तय किया है कि देश के सभी सैनिक स्कूलों को देश की बेटियों के लिए भी खोल दिया जाएगा: PM

-ये देश के लिए गौरव की बात है कि शिक्षा हो या खेल, बोर्ड्स के नतीजे हों या ओलपिंक का मेडल, हमारी बेटियां आज अभूतपूर्व प्रदर्शन कर रही हैं। आज भारत की बेटियां अपना स्पेस लेने के लिए आतुर हैं: PM

-नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की एक और विशेष बात है। इसमें स्पोर्ट्स को Extracurricular की जगह मेनस्ट्रीम पढ़ाई का हिस्सा बनाया गया है। जीवन को आगे बढ़ाने में जो भी प्रभावी माध्यम हैं, उनमें एक स्पोर्ट्स भी है: PM

-जब गरीब के बेटी, गरीब का बेटा मातृभाषा में पढ़कर प्रोफेशनल्स बनेंगे तो उनके सामर्थ्य के साथ न्याय होगा। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को गरीबी के खिलाफ लड़ाई का मैं साधन मानता हूं: PM

-आज देश के पास 21वीं सदी की जरूरतों को पूरा करने वाली नई ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति’ भी है: PM

-मैं आज आह्वान कर रहा हूं, केंद्र हो या राज्य सभी के विभागों से, सभी सरकारी कार्यालयों से। अपने यहां नियमों-प्रक्रियाओं की समीक्षा का अभियान चलाइए। हर वो नियम, हर वो प्रक्रिया जो देश के लोगों के सामने बाधा बनकर, बोझ बनकर, खड़ी हुई है, उसे हमें दूर करना ही होगा: PM

-Reforms को लागू करने के लिए Good औऱ Smart Governance चाहिए। आज दुनिया इस बात की भी साक्षी है कि कैसे भारत अपने यहां गवर्नेंस का नया अध्याय लिख रहा है: PM

-हमने देखा है, कोरोना काल में ही हजारों नए स्टार्ट-अप्स बने हैं, सफलता से काम कर रहे हैं। कल के स्टार्ट-अप्स, आज के Unicorn बन रहे हैं। इनकी मार्केट वैल्यू हजारों करोड़ रुपए तक पहुंच रही है: PM

-देश के सभी मैन्यूफैक्चर्स को भी ये समझना होगा- आप जो Product बाहर भेजते हैं वो आपकी कंपनी में बनाया हुआ सिर्फ एक Product नहीं होता। उसके साथ भारत की पहचान जुड़ी होती है, प्रतिष्ठा जुड़ी होती है, भारत के कोटि-कोटि लोगों का विश्वास जुड़ा होता है: PM
-मैं इसलिए मनुफक्चरर्स को कहता हूँ – आपका हर एक प्रॉडक्ट भारत का ब्रैंड एंबेसेडर है। जब तक वो प्रॉडक्ट इस्तेमाल में लाया जाता रहेगा, उसे खरीदने वाला कहेगा – हां ये मेड इन इंडिया है: PM

-विकास के पथ पर आगे बढ़ते हुए भारत को अपनी मैन्यूफैक्चरिंग और एक्सपोर्ट, दोनों को बढ़ाना होगा। आपने देखा है, अभी कुछ दिन पहले ही भारत ने अपने पहले स्वदेशी एयरक्राफ्ट कैरियर INS विक्रांत को समुद्र में ट्रायल के लिए उतारा है: PM

-भारत आज अपना लड़ाकू विमान बना रहा है, सबमरीन बना रहा है, गगनयान भी बना रहा है: PM

-भारत को आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ ही इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण में होलिस्टिक अप्रोच अपनाने की भी जरूरत है। भारत आने वाले कुछ ही समय में प्रधानमंत्री गतिशक्ति- नेशनल मास्टर प्लान को लॉन्च करने जा रहा है: PM

-देश ने संकल्प लिया है कि आजादी के अमृत महोत्सव के 75 सप्ताह में 75 वंदेभारत ट्रेनें देश के हर कोने को आपस में जोड़ रही होंगी। आज जिस गति से देश में नए Airports का निर्माण हो रहा है, उड़ान योजना दूर-दराज के इलाकों को जोड़ रही है, वो भी अभूतपूर्व है: PM

-हमें मिलकर काम करना होगा, Next Generation Infrastructure के लिए।

हमें मिलकर काम करना होगा, World Class Manufacturing के लिए।

हमें मिलकर काम करना होगा Cutting Edge Innovation के लिए।

हमें मिलकर काम करना होगा New Age Technology के लिए: PM

-देश के 80 प्रतिशत से ज्यादा किसान ऐसे हैं, जिनके पास 2 हेक्टेयर से भी कम जमीन है। पहले जो देश में नीतियां बनीं, उनमें इन छोटे किसानों पर जितना ध्यान केंद्रित करना था, वो रह गया। अब इन्हीं छोटे किसानों को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिए जा रहे हैं: PM

-छोटा किसान बने देश की शान, ये हमारा सपना है। आने वाले वर्षों में हमें देश के छोटे किसानों की सामूहिक शक्ति को और बढ़ाना होगा। उन्हें नई सुविधाएं देनी होंगी: PM

-गांव में जो हमारी सेल्फ हेल्प ग्रुप से जुड़ी 8 करोड़ से अधिक बहनें हैं, वो एक से बढ़कर एक प्रॉडक्ट्स बनाती हैं। इनके प्रॉडक्ट्स को देश में और विदेश में बड़ा बाजार मिले, इसके लिए अब सरकार ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म तैयार करेगी: PM

-पीएम मोदी ने लालकिले की प्राचीर से कहा कि देश वीरों को नमन कर रहा है। सभी स्वतंत्रता सेनानियों को नमन।

-पीएम मोदी ने लालकिले से ओलिंपिक खिलाड़ियों का ताली बजाकर किया सम्मान। उन्होंने कहा कि देश की युवा पीढ़ी का हम ताली बजाकर कर रहे हैं सम्मान।

-भारतवासियों ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई को बेहद धैर्य से लड़ा है। कोरोना के खिलाफ देशवासियों ने असाधारण गति से काम किया है। हमारे वैज्ञानिकों की ताकत का ही परिणाम है कि हम वैक्सीन के लिए किसी और देश पर निर्भर नहीं है।
अगर भारत के पास अपनी वैक्सीन नहीं होती तो क्या होता. पोलियो की वैक्सीन पाने में हमारे कितने साल बीत गए। इतने बड़े संकट में जब पूरी दुनिया में महामारी हो तो हमें वैक्सीन कैसे मिलती।
-आज गर्व से कह सकते हैं कि दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन प्रोग्राम हमारे देश में हो रहा है। 54 करोड़ से ज्यादा लोग वैक्सीन की डोज लगा चुके हैं।
-पीएम मोदी ने कहा- कोरोना काल में कितने ही लोगों को हम बचा नहीं पाए। कितने ही बच्चों के सिर पर हाथ रखने वाले चले गए. यह असहनीय पीड़ा साथ ही रहेगी।
एक समय ऐसा आता है जब देश खुद को नए सिरे से परिभाषित करता है। भारत की विकास यात्रा में भी ये समय आ गया है।
नए संकल्पों को आधार बनाना है. आजादी के 75वें वर्ष के अमृत महोत्सव का लक्ष्य नागरिकों के जीवन में सरकार बेवजह दखल न दे। एक ऐसे भारत का निर्माण जहां दुनिया का सबसे आधुनिक इंफ्रक्स्ट्रचर हो।
-पीएम मोदी ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए आरक्षण सुनिश्चित किया जा रहा है। ओबीसी वर्ग के लिए आरक्षण सुनिश्चित करने के लिए संसद में कानून बनाकर राज्यों को अधिकार दे दिया गया है। देश का कोई कोना पीछे नहीं छूटना चाहिेए।
– देश को आगे  लाने के लिए पिछले सात वर्षों के प्रयासों को और तेज किया जा रहा है।
पीएम मोदी ने कहा हमारे देश को भी बदलना होगा. हमें एक नागरिक के नाते अपने आपको भी बदलना होगा. सबका साथ सबका विकास, सबका विश्वास इसी श्रद्धा के साथ हम सब जुट चुके हैं, लेकिन आज लालकिले की प्राचीर से आह्वान कर रहा है, सबका साथ विकास, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास जरूरी है।
-रेहड़ी वालों के लिए स्वनिधि योजना चलाई जा रही है।
पीएम मोदी ने कहा कि उज्ज्वला की ताकत गरीब जानता है। आयुष्मान भारत का लाभ गरीबों को मिल रहा है। देश के गांव-गांव तक क्वालिटी स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाई जा रही है।
गरीबों को सस्ती दवाएं दी जा रही हैं। हर ब्लॉक में अच्छे अस्पताल पर काम किया जा रहा है. बहुत जल्द देश के अस्पतालों के पास अपने ऑक्सीजन प्लांट होंगे।
मेडिकल सीटें बढ़ाई गई हैं. मेडिकल शिक्षा क्षेत्र में ओबीसी आरक्षण की व्यवस्था की गई है.
-जम्मू-कश्मीर में विकास का संतुलन जमीन पर दिख रहा है। भविष्य में विधानसभा चुनावों की तैयारियां चल रही है।
75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-Independence-Day-2021-speech-keypoints
लद्दाख भी विकास की अपनी असीम संभावनाओं की तरफ आगे बढ़ चला है। एक तरफ लद्दाख, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण होते देख रहा है तो वहीं दूसरी तरफ ‘सिंधु सेंट्रल यूनिवर्सिटी’ लद्दाख को उच्च शिक्षा का केंद्र भी बनाने जा रही है: PM
-देश के जिन ज़िलों के लिए ये माना गया था कि ये पीछे रह गए, हमने उनकी आकांक्षाओं को भी जगाया है। देश मे 110 से अधिक आकांक्षी ज़िलों में शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण, सड़क, रोज़गार, से जुड़ी योजनाओं को प्राथमिकता दी जा रही है। इनमें से अनेक जिले आदिवासी अंचल में हैं: PM
-कोरोना के दौरान देश ने वैज्ञानिकों का योगदान और टेक्नोलॉजी की ताकत को देखा है। अब समझ आ गया है कि हम अपने कृषि क्षेत्रों में भी वैज्ञानिकों के सुझावों को भी जोड़े। अब हम ज्यादा इंतजार नहीं कर सकते। हमें इनका पूरा लाभ उठाना है। यह देश को फल-सब्जियां और आनाज का उत्पादन बढ़ाने में बड़ी मदद करेंगे-PM
-आज हम अपने गांवों को तेजी से परिवर्तित होते देख रहे हैं। बीते कुछ वर्ष, गांवों तक सड़क और बिजली जैसी सुविधाओं को पहुंचाने रहे हैं। अब गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क, डेटा की ताकत पहुंच रही है, इंटरनेट पहुंच रहा है। गांव में भी डिजिटल Entrepreneur तैयार हो रहे हैं: PM
-छोटा किसान बने देश की शान। आने वाले वक्त में छोटे किसानों को आगे बढ़ाना होगा। आज देश में किसान रेल सेवा चल रही है:PM
-हर देश की विकासयात्रा में एक समय ऐसा आता है, जब वो देश खुद को नए सिरे से परिभाषित करता है, खुद को नए संकल्पों के साथ आगे बढ़ाता है। भारत की विकास यात्रा में भी आज वो समय आ गया है: PM
-हम आजादी का जश्न मनाते हैं, लेकिन बंटवारे का दर्द आज भी हिंदुस्तान के सीने को छलनी करता है। यह पिछली शताब्दी की सबसे बड़ी त्रासदी में से एक है। कल ही देश ने भावुक निर्णय लिया है। अब से 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में याद किया जाएगा: PM
इससे पहले,

इस अवसर पर दिल्ली और लाल किले के आसपास के क्षेत्र को पूरी तरह छावनी में तब्दील कर दिया गया है। सुरक्षा के इंतेजाम चाक-चौबंद हो चुके है।

इस वर्ष का स्वतंत्रता दिवस(Independence Day)इसलिए भी खास है चूंकि  देश आजादी की 75वीं वर्षगांठ को ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तौर पर मना रहा है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Narendra Modi) ने भारत की आजादी का 75वां वर्ष मनाने के लिए मार्च 2021 में गुजरात के अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ शुरू किया था, जो 15 अगस्त, 2023 तक जारी रहेगा।

Happy Independence Day:आजादी का एहसास,शायरी,Quotes में भेजें अपनी देशभक्ति के जज़्बात

हिन्दुस्तान में 15 अगस्त का दिन स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिन हमें महात्मा गांधी, भगत सिंह, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, चंद्रशेखर आजाद समेत सैंकड़ों महान स्वतंत्रता सेनानियों के त्याग, तपस्या और बलिदान की याद दिलाता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आज लाल किले की प्राचीर पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराएंगे और भारतीय वायु सेना के दो एमआई-17 1वी हेलीकॉप्टर पहली बार समारोह स्थल के ऊपर पुष्प वर्षा करेंगे।

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-hoist-Tiranga-at-Red-Fort

रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने वाले 32 खिलाड़ियों और भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के दो अधिकारियों को लाल किले में आयोजित समारोह में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है।

आज यानी रविवार सुबह लाल किले पर आयोजित समारोह में प्रधानमंत्री के आगमन पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट और रक्षा सचिव डॉ अजय कुमार उनकी अगवानी करेंगे।

रक्षा सचिव, दिल्ली क्षेत्र के जनरल ऑफिसर कमांडिंग (जीओसी), लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा का प्रधानमंत्री से परिचय कराएंगे।

इसके बाद दिल्ली क्षेत्र के जीओसी मोदी को सैल्यूटिंग बेस तक ले जाएंगे,जहां एक संयुक्त इंटर-सर्विसेज और दिल्ली पुलिस गार्ड प्रधानमंत्री को सामान्य सलामी देंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री सलामी गारद का निरीक्षण करेंगे।

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-Independence-Day-2021-speech-keypoints

 

आजादी के जश्न पर कौन-कौन रहेगा उपस्थित
प्रधानमंत्री के लिए सलामी गारद दल में सेना, नौसेना, वायु सेना और दिल्ली पुलिस प्रत्येक में से एक-एक अधिकारी और 20-20 जवान शामिल होंगे।

सलामी गारद के निरीक्षण के बाद, प्रधानमंत्री मोदी लाल किले(Red Fort) की प्राचीर के लिए प्रस्थान करेंगे, जहां उनका स्वागत रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत, थल सेना प्रमुख जनरल एम.एम. नरवणे, नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह और वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर.के.एस. भदौरिया द्वारा किया जाएगा।

दिल्ली क्षेत्र के जीओसी राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए प्रधानमंत्री को प्राचीर स्थित मंच पर ले जाएंगे। ध्वज फहराने के बाद तिरंगे को ‘राष्ट्रीय सलामी’ दी जाएगी।

नौसेना के बैंड राष्ट्रीय ध्वज फहराने और ‘राष्ट्रीय सलामी’ के दौरान राष्ट्रगान की धुन बजाएंगे। इसमें 16 लोग शामिल होंगे। बैंड का संचालन एमसीपीओ विंसेंट जॉनसन द्वारा किया जाएगा।

लेफ्टिनेंट कमांडर पी. प्रियंबदा साहू द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराने में प्रधानमंत्री की सहायता की जाएगी। इसके साथ विशिष्ट 2233 फील्ड बैटरी (औपचारिक) के बहादुर जवानों द्वारा 21 तोपों की सलामी दी जाएगी।

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-hoist-Tiranga-at-Red-Fort

 

75वें स्वतंत्रता दिवस पर पहली बार होगी पुष्प वर्षा

जानियें लाल किले से प्रधानमंत्री मोदी के संबोंधन की सभी बातें विस्तार से

इस वर्ष पहली बार ऐसा होगा कि जैसे ही प्रधानमंत्री द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा, अमृत फॉर्मेशन में भारतीय वायु सेना के दो एमआई 17 1वी हेलीकॉप्टरों द्वारा कार्यक्रम स्थल पर पुष्प वर्षा की जाएगी।

पहले हेलीकॉप्टर के कप्तान विंग कमांडर बलदेव सिंह बिष्ट होंगे, वहीं दूसरे हेलीकॉप्टर की कमान विंग कमांडर निखिल मेहरोत्रा ​​संभालेंगे। पुष्प वर्षा के बाद प्रधानमंत्री राष्ट्र को संबोधित करेंगे।

मंत्रालय के अनुसार प्रधानमंत्री के भाषण के समापन पर राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के कैडेट राष्ट्रगान गाएंगे। राष्ट्रीय उल्लास के इस पर्व में विभिन्न स्कूलों के पांच सौ (500) एनसीसी कैडेट (सेना,नौसेना और वायु सेना) हिस्सा लेंगे।

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-Independence-Day-2021-speech-keypoints

 

राष्ट्रीय राजधानी में स्वतंत्रता दिवस से पहले सुरक्षा व्यवस्था सख्त
दिल्ली में स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई है और हजारों सुरक्षाकर्मी संवेदनशील और महत्वपूर्ण स्थानों पर कड़ी निगरानी रख रहे हैं।

दिल्ली की सीमाओं पर भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है, जहां हजारों किसान केंद्र के नये कृषि कानूनों के खिलाफ आठ महीने से अधिक समय से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। पुलिस के अनुसार, लाल किले पर सुरक्षा का कई घेरा तैयार किया गया है, जहां से प्रधानमंत्री 75वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्र को संबोधित करेंगे।

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-hoist-Tiranga-at-Red-Fort

 

भारी मात्रा में संख्या बल की तैनाती
किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे, रेलवे स्टेशन, बस टर्मिनल और सीमावर्ती इलाकों समेत शहर भर के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों के बाहर भारी संख्या में अवरोधक लगाए गए हैं और अतिरिक्त कर्मियों की तैनाती हुई तथा कई घेरे में सुरक्षा व्यवस्था के प्रबंध किए गए हैं।

गड़बड़ी को रोकने के लिए शहर भर में जांच और गश्ती बढ़ा दी गई है। राष्ट्रीय राजधानी में कोई अप्रिय घटना न हो, यह सुनिश्चित करने के लिए दिल्ली पुलिस द्वारा मोटरबोट पर यमुना नदी में गश्त की जा रही है।

खतरे की आशंका और खुफिया सूचनाओं के मद्देनजर आतंक रोधी कदम उठाए जा रहे हैं।

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-Independence-Day-2021-speech-keypoints

 

दिल्ली पुलिस ने जारी की ट्रैफिक एडवाइजरी
स्वतंत्रता दिवस से पहले दिल्ली यातायात पुलिस ने यातायात परामर्श जारी किया ताकि राष्ट्रीय राजधानी में सुचारू रूप से वाहनों की आवाजाही जारी रहे।

परामर्श के अनुसार, स्वतंत्रता दिवस के दिन यानी आज लाल किला के आसपास आम लोगों के लिए यातायात सुबह चार बजे से सुबह दस बजे तक बंद रहेगा और यह केवल अधिकृत वाहनों के लिए खुला रहेगा।

एडवाइजरी के मुताबिक, आठ सड़क- नेताजी सुभाष मार्ग, लोथियान रोड, एस पी मुखर्जी मार्ग, चांदनी चौक रोड, निषाद राज मार्ग, एस्प्लानेड रोड और नेताजी सुभाष मार्ग तक जाने वाला इसका लिंक रोड, राजघाट से आईएसबीटी तक रिंग रोड, आईएसबीटी से आईपी फ्लाईओवर तक बाहरी रिंग रोड 15 अगस्त की सुबह चार बजे से सुबह दस बजे तक आम लोगों के लिए बंद रहेगा।

(इनपुट एजेंसी से भी)

75th-independence-day-of-India-celebration-PM-Modi-Independence-Day-2021-speech-keypoints

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 − 2 =

Back to top button