breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरें

आज से फिर शुरू हुई माँ वैष्णो देवी यात्रा, सिर्फ इतने श्रद्धालु को मिलेगी एंट्री

आरोग्य सेतु, मास्क आदि होंगे अनिवार्य, सिर्फ 2000 यात्रियों को मिलेगी दर्शन करने की अनुमति, जिनमे से सिर्फ 100 श्रद्धालु....

after-5-months-of-suspension vaishno-devi-pilgrimage-to-resume-from-today 16th-august

नई दिल्ली (समयधारा) : देश में कोरोना महामारी का असर सभी जगह हुआ है l आर्थिक स्थिति हो या शिक्षा विभाग l

आम आदमी हो या ख़ास सभी और कोरोना का असर साफ़ देखा जा सकता है l  भारत विविध धर्मों का देश है l

कोरोना का असर धार्मिक स्थानों पर भी हुआ l देश के सभी धार्मिक स्थल लगभग बंद थे l

धार्मिक स्थल  कोरोना वायरस महामारी (Corona virus epidemic) को देशभर में फैलने से रोकने के लिए  लॉकडाउन (Lockdown) के पहरे में थे ।

इस कारण देश के सभी धार्मिक जगहों को भी बंद कर दिया गया था। after-5-months-of-suspension vaishno-devi-pilgrimage-to-resume-from-today 16th-august

हालांकि, धीरे-धीरे अब Lockdown को खत्म करके Unlock का तीसरा फेज लागू है। इस बीच जम्मू से माता के भक्तों के लिए खुशखबरी आई है।

करीब 5 महीने के इंतजार के बाद कल यानि 16 अगस्त से श्रद्धालु फिर से जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में रियासी जिले की

त्रिकुटा पहाड़ियों (Trikuta Hills) में मां वैष्णो देवी (Vaishno Devi Pilgrimage) के दर्शन कर सकेंगे।

कोरोना के सख्त नियमों के साथ यात्रा शुरू हो रही है। फिलहाल यात्रा के पहले चरण में प्रतिदिन सिर्फ 2,000 श्रद्धालु ही दर्शन कर पाएंगे।

बता दें कि माता का यात्रा 18 मार्च को निलंबित की गई थी।

Shri Mata Vaishno Devi Shrine Board (SMVSB) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (Chief Executive Officer ) रमेश कुमार ने बताया कि,

मां वैष्णो देवी यात्रा आज  से (रविवार/16 अगस्त) बहाल होगी। उन्होंने बताया कि पहले सप्ताह में हर रोज अधिकतम 2,000 तीर्थयात्रियों की सीमा तय की गई है,

जिनमें से 1,900 भक्त जम्मू-कश्मीर और शेष 100 यात्री बाहर के होंगे।

after-5-months-of-suspension vaishno-devi-pilgrimage-to-resume-from-today 16th-august

कुमार ने बताया कि इसके बाद हालात की समीक्षा की जाएगी और उसी के अनुसार फैसले किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि यात्रा रजिस्ट्रेशन काउंटर पर भीड़ एकत्रित होने से रोकने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद ही लोगों को यात्रा की अनुमति दी जाएगी।

कुमार ने बताया कि यात्रियों के लिए अपने मोबाइल फोन में Aarogya Setu App डाउनलोड करना अनिवार्य होगा।

चेहरे पर मास्क और कवर अनिवार्य होगा। यात्रा के इंट्री प्वाइंट पर माता के भक्तों की थर्मल जांच की जाएगी।

उन्होंने बताया कि 10 साल से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती महिलाओं, अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों

और 60 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए यात्रा नहीं करने का परामर्श जारी किया गया है।

after-5-months-of-suspension vaishno-devi-pilgrimage-to-resume-from-today 16th-august

उन्होंने बताया कि हालात सामान्य होने के बाद इस परामर्श की समीक्षा की जाएगी। कुमार ने बताया कि कटरा से भवन जाने के लिए बाणगंगा,

अर्धकुंवारी और सांझीछत के पारंपरिक रूटों का यूज किया जाएगा और भवन से आने के लिए हिमकोटि मार्ग-ताराकोट रूट का इस्तेमाल किया जाएगा।

जम्मू-कश्मीर के बाहर के यात्रियों और केंद्रशासित प्रदेश के रेड जोन वाले जिलों से आने वाले यात्रियों के कोरोना से संक्रमित नहीं होने संबंधी रिपोर्ट की हेलीपैड और दर्शनी ड्योढ़ी पर यात्रा एंट्री प्वाइंट पर जांच की जाएगी।

कुमार ने बताया कि जिन यात्रियों के पास कोरोना से संक्रमित नहीं होने संबंधी रिपोर्ट होगी, उन्हें ही भवन की ओर जाने दिया जाएगा।

पिट्ठुओं, पालकियों और खच्चरों को शुरुआत में मार्ग पर चलने पर अनुमति नहीं होगी।

after-5-months-of-suspension vaishno-devi-pilgrimage-to-resume-from-today 16th-august

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − 8 =

Back to top button